Yoga Cures Cold / सर्दी-जुकाम से छुटकारा पाने के लिए 5 योगासन

बदलता मौसम किसे परेशान नहीं करता? हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली हमारे लिए एक ढाल की तरह काम करते हुए हमें अनेक बीमारियों से बचाती है। पर क्या हो अगर ये प्रतिरक्षा प्रणाली कमज़ोर हो? एक स्वस्थ शरीर के लिए एक मज़बूत प्रतिरोधक क्षमता नींव की तरह काम करती है।

मौसमी बीमारियों का हमें समय-असमय घेर लेना इसी कमज़ोरी की ओर इशारा है। सर्दी जुकाम भी इन्हीं आम समस्याओं में से एक है जो कमज़ोर शरीर पर सबसे पहले हमला करती है।

योग (Yoga) एक ऐसी संजीवनी है जो हमारे सम्पूर्ण स्वास्थ्य को मज़बूत व सशक्त बनाती है। “योग भगाए रोग”, ये अमूमन आपने सुना होगा। इसलिए योग (Yoga) को अपनी दिनचर्या में शामिल करना बहुत आवश्यक है।

सर्दी जुकाम होने पर ज़्यादातर हम सबसे पहले घरेलु उपचार अपनाते हैं। इन्हीं घरेलु उपचार के साथ आप कुछ योगासन द्वारा भी इस समस्या की तीव्रता को कम कर सकते हैं। वैसे तो योग
(Yoga) हमारे समग्र स्वास्थ्य के लिए बहुत ज़रूरी हैं लेकिन सर्दी जुकाम होने पर कौन से 5 योगासन हमें राहत दे सकते हैं, आए पढ़ें:

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए आज ही “Aayu” ऐप डाउनलोड करें

1.अनुलोम-विलोम प्राणायाम: ये सबसे कारगर प्राणायामों में से एक है। चूंकि इस योगासन में श्वास का मुख्य काम है, अतः यह ना सिर्फ नासाछिद्रों को खोलता है बल्कि गले की तकलीफ, सूखी खांसी व श्वास संबंधी परेशानियों में भी आराम देता है।

अनुलोम विलोम करने के लिए सबसे पहले अपनी सुविधानुसार सुखासन या पद्मासन मुद्रा में बैठ जायें। अपने दाहिनें हाथ के अंगूठे से नाक के दांये छिद्र को बंद कर के बांये छिद्र से गहरी सांस लें। उसके बाद दाहिने अंगूठे को हटा कर दांये नासचिद्र से सांस छोड़े। ये प्रक्रिया बांये हाथ से दोहराए। इस आसन को आप 5-15 मिनट तक कर सकते हैं।

2. हस्तपादासन: सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं। अपने दोनों हाथो को ऊपर ले जा कर उन्हें फिर अपने घुटनों की तरफ लाते हुए आगे की तरफ झुकें व ज़मीन को छुएँ। ध्यान दें की आपके घुटने ना मुड़े। इस आसन से रक्त प्रवाह सिर की और होने से ये साइनस के साथ सर्दी जुकाम में राहत देता है।

3. कपालभाति प्राणायाम: कफ़, सर्दी जुकाम या सिर दर्द के लिए ये प्राणायाम बहुत लाभकारी है। इस आसन को करने के लिए अपने दोनों नासा छिद्रों से तेज़ सांस छोडें। इस आसन से आपका श्वास मार्ग खुलता है व सर्दी में भी आराम मिलता है। इससे आपका रक्त प्रवाह भी बढ़ता है।

4. मतस्यासन: जैसा की नाम से प्रतीत होता है कि इसमें आपके शरीर को मछली के अकार में रखना है। इसमें आप पद्मासन अवस्था में बेठ जायें व अपने पीठ के बल लेट जाएं। अब अपने दायें हाथ से बाएं पैर को पकडे व बांये हाथ से दांयें पैर को पकड़े। कोहनियों को ज़मीन पर टिकाते हुए आप सांस लेते हुए पीछे की और झुकें व सिर को ज़मीन से लगाएं। ध्यान रखें आपकी कमर ज़मीन से ऊपर रहे। इस आसन से गले में तकलीफ, थाइरोइड जैसी गले की बीमारी के सर्दी में आराम मिलता है।

HOW SLEEP CURES COLD | सर्दी/जुकाम के इलाज व बचाव में नींद है रामबाण इलाज

5. शवासन: सभी आसन को करने के बाद आप शवासन कर सकते हैं। इसमें आप दरी पर लेट जाएँ व विश्राम की स्थिति में अपने सभी अंगों को शिथिल छोड़ दें। इस आसन से आपके सम्पूर्ण शरीर को स्फूर्ति मिलती है व शरीर सभी तनावों से मुक्त होता है।

इन 5 योगासनों द्वारा आप सर्दी-जुकाम से जल्द से जल्द राहत पा सकते हैं।

योग (Yoga) ना केवल कई बीमारियों के इलाज में मदद करता है बल्कि इसको अपनी जीवनशैली में शामिल कर के आप ख़ुद को हर बीमारी से दूर रख सकते हैं। एक स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है और योग (Yoga) आपको शारीरिक व मानसिक रूप से मज़बूत कर के हर छोटी-बड़ी बीमारी से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है।

अतः आज ही योग (Yoga) को अपने जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाएं।

Aayu है आपका सहायक

अगर आपके घर का कोई सदस्य लंबे समय से बीमार है या उसकी बीमारी घरेलू उपायों से कुछ समय के लिए ठीक हो जाती है, लेकिन पीछा नहीं छोड़ती है तो आपको तत्काल उसे डॉक्टर से दिखाना चाहिए. क्योंकि कई बार छोटी बीमारी भी विकराल रूप धारण कर लेती है. अभी घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई बटन पर क्लिक करें.


Leave a Reply

Your email address will not be published.