World Diabetes Day: डायबिटीज क्या है, टाइप-2 डायबिटीज को कम करने के उपाय

World Diabetes Day

World Diabetes Day का उद्देश्य मधुमेह (डायबिटीज) के प्रति लोगों को जागरूक करना होता है।

World Diabetes Day: डायबिटीज क्या है?

डायबिटीज रोग किसी विषाणु या कीटाणु के कारण नहीं होता। मनुष्य उर्जा पाने के लिए भोजन करता है यह भोजन स्टार्च में बदलता है, फिर स्टार्च ग्लूकोज़ में बदलता है जिन्हें सभी कोशिकाओं में पहुँचाया जाता है, जिससे शरीर को उर्जा मिलती है। ग्लूकोज को अन्य कोशिकाओं तक पहुँचाने का काम इंसुलिन करता है और मधुमेह रोगी के शरीर में इंसुलिन बनना बंद अथवा कम हो जाता है, जिससे शरीर में ग्लूकोज अथवा शक्कर की मात्रा अधिक हो जाती है।

डायबिटीज के प्रकार:

डायबिटीज 2 प्रकार की होती है।

टाइप 1 मधुमेह (Types 1 Diabetes): मधुमेह (डायबिटीज) के रोगी के शरीर में इंसुलिन की मात्रा कम बनती है, जिसे नियंत्रित किया जा सकता है, पर जड़ से खत्म नहीं कर सकते। इसमें रोगी को बाहर से इंसुलिन दिया जाता है। जिससे उनका जीवन सामान्य चलता है। टाइप 1 डाइबिटीज में अग्नाशय (Intestine) की बीटा कोशिकाएँ इंसुलिन नहीं बना पाती, जिसका उपचार संभव नहीं है। डायाबिटिज बच्चों और 19 साल तक के युवाओं को बहुत जल्दी इफ़ेक्ट करती है.

टाइप 2 मधुमेह (Types 2 Diabetes): टाइप 2 मधुमेह (डायबिटीज) के रोगी के शरीर में इंसुलिन की मात्रा कम होती है या शरीर इंसुलिन का फिर से इस्तेमाल नहीं कर पाता। इसमें शरीर इंसुलिन बनाता है, लेकिन कम मात्रा में और कई बार इंसुलिन अच्छे से काम नहीं करते। टाइप 2 डाइबिटीज़ को योग, परहेज तथा उचित खान-पान के जरिए नियंत्रित किया जा सकता है। यह डायबिटीज वयस्कों को होती है।

डायाबिटिज के रोगी के शरीर में शक्कर की मात्रा को संतुलित रखना आवश्यक है क्योंकि कम तथा अधिक दोनों ही स्थिति में रोगी के लिए यह बहुत घातक है।

डायबिटीज के कारण:

  • उच्च रक्तचाप
  • इंसुलिन की कमी
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल
  • सही खानपान ना होना
  • तनाव
  • शारीरिक काम की कमी
  • ड्रग्स, स्मोक करना

डायबिटीज के लक्षण:

  • बहुत ज्यादा भूख लगना
  • अधिक नींद आना 
  • प्यास ज्यादा लगना  
  • पेशाब ज्यादा आना  
  • किसी घाव को भरने में अधिक समय लगना
  • शरीर के कुछ भागों का सुन्न पड़ना
  • आँख में कम दिखाई देना
  • जल्दी थकान होना
  • अचानक से वजन कम होना
  • किसी भी चीज का जल्दी से इंफेक्शन होना

डायबिटीज में ध्यान देने वाली बातें:

  • उचित समय में डायबिटीज की जाँच करें।
  • खाने की दिनचर्या की आदतों में बदलाव लाए, जैसे शक्कर ना लें, टुकड़ों में बार-बार परंतु कम भोजन लें। दिन भर का एक उचित टाइम टेबल (Time Table) बनाए और उसका पालन करें।
  • पर्याप्त 6- 7 घंटे की नींद लें।
  • संतुलित नींद लें साथ ही फैट लें।
  • अपने वजन का ध्यान रखें।
  • मॉर्निंग वॉक और योग को दिनचर्या में शामिल करें।
  • खान- पान संबंधी जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह लें।
  • दवाओं को नियमित समय में लें।

आइये जानते है टाइप-2 डायबिटीज क्या है और टाइप-2 डायबिटीज के लक्षण।

टाइप-2 डायबिटीज क्या है?

टाइप-2 डायबिटीज वाले व्यक्ति में, शरीर इंसुलिन का उपयोग सही से नहीं कर पाता और इस स्थिति को इंसुलिन प्रतिरोध (Insulin Resistance) कहा जाता है। अग्न्याशय या Pancreas पहले इसके लिए अतिरिक्त इंसुलिन बनाता है। हालांकि, समय के साथ, यह रक्त शर्करा (Sugar) को सामान्य स्तर पर रखने के लिए पर्याप्त नहीं बना पाता। हालांकि इस स्थिति के लिए सटीक ट्रिगर पता नहीं है, टाइप-2 मधुमेह कारकों (Type 2 Diabetes Causes) के संयोजन (Combination) का एक परिणाम हो सकता है। कुछ ट्रिगर आनुवंशिक रूप (Genetic Variants) से इस स्थिति के लिए पहले से ही निर्धारित कर सकते है।

टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) के लक्षण:

टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) के लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होते है। कुछ में प्यास और भूख में वृद्धि, बार-बार मूत्र त्याग की इच्छा होना, वजन कम होते जाना, थकान, देखने में परेशानी होना, संक्रमण और घावों का धीमी गति से भर पाना तथा कुछ क्षेत्रों में त्वचा का काला पड़ना शामिल है।

स्वस्थ आहार आमतौर पर अस्वास्थ्य आहार की तुलना में अधिक महंगा होता है। कम पोषक तत्वों वाले सस्ते भोजन की व्यापक उपलब्धता से टाइप 2 मधुमेह की वैश्विक महामारी में इजाफा होता है। सब्जियों, ताजे फलों, साबुत अनाजों और फैट जैसे टाइप 2 मधुमेह (Type 2 Diabetes) के जोखिम को कम करने वाले खाद्य पदार्थों की व्यापक रूप से उपलब्धता और दाम कम किए जाने की आवश्यकता है।

टाइप-2 डायबिटीज के नुकसान को कम करने के कुछ उपाय:

  • व्यायाम अधिक से अधिक करें।
  • व्यायाम से विभिन्न लाभ होते है, जिनमें वजन बढ़ना, रक्त शुगर के स्तर को नियंत्रित करना और अन्य स्थितियां शामिल है।  
  • हर दिन कम से कम 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि करें वह फायदेमंद होगा।
  • सेहतमंद भोजन खाएं।
  • साबुत अनाज, फल और सब्जियों से भरपूर आहार शरीर के लिए अच्छा होता है।
  • रेशेदार भोजन यह सुनिश्चित करेगा कि आप लंबे समय के लिए पेट भरा हुआ महसूस करें।
  • जितना हो सकें, प्रोसेस्ड और रिफाइंड फूड से बचें।
  • शराब के सेवन को सीमित करें और धूम्रपान छोड़ दें।  
  • बहुत अधिक शराब वजन बढ़ाने की ओर ले जाती है और आपके रक्तचाप (बीपी) और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को बढ़ा सकती है।  
  • पुरुषों को दो ड्रिंक प्रतिदिन और महिलाओं को एक ड्रिंक प्रतिदिन तक सीमित रहना चाहिए।  
  • धूम्रपान करने वालों को धूम्रपान ना करने वालों की तुलना में मधुमेह (डायबिटीज) का दोगुना रिस्क रहता है। इसलिए, इस आदत को छोड़ना अच्छा विचार है।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐपडाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.