सफेद दाग के कारण, लक्षण और इलाज

सफेद दाग को लेकर लोगों के मन कई तरह की भ्रांतियां होती है. लेकिन डॉक्टर के नजर में यह एक कॉस्मेटिक प्रॉब्लम से ज्यादा कुछ नहीं है. ऑटो-इम्यून डिसऑर्डर में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) शरीर को ही नुकसान पहुंचाने लगती है.खराब इम्यूनिटी की वजह से शरीर में स्किन का रंग बनाने वाली कोशिकाएं मेलानोसाइट (Melanocyte)मरने लगती हैं. इससे शरीर में जगह-जगह सफेद धब्बे बन जाते है.इस दाग को वीटिलिगो (Vitiligo)और श्वेत पात के नाम से भी जाना जाता है.

सफेद दाग के कारण | Vitiligo causes

1.शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली का कमजोर होना इस रोग का सबसे मुख्य कारण होता है
2.इसके अलावा फंगल संक्रमण से भी यह समस्या हो सकती है.
3.इस बीमारी का तीसरा कारण ल्यूकोडरमा या विटिलिगो समस्या है.
4.खाने में प्रोटीन पदार्थो की कमी भी इस रोग का एक कारण हो सकता है.
5.फंगल संक्रमण भी सफेद दाग रोग का एक कारण होता है.

सफेद दाग के लक्षण | Vitiligo Symptoms

इस रोग का शुरुआती लक्षण यह है कि इसमें शरीर के किसी भी हिस्से में त्वचा पर छोटा सा दाग पीले रंग से शुरू होकर धीरे-धीरे सफेद रंग का बन जाता है. पीले रंग के इस दाग का आकार शुरू में काफी छोटा होता है. यदि शुरुआत में ही इसका उपचार नहीं होता तो यह दाग जगह-जगह फैलते हुए बड़े-बड़े चकतों के रूप में भी हो सकता है.

  • त्वचा का रंग सफेद हो जाना
  • त्वचा की आसमान रंगत
  • नाक और मुंह के अंदरूनी हिस्से के उत्तको मे रंग की कमी आना
  • सिर, भौंहो, दाढ़ी या पलको के बालों का समय से पहले सफ़ेद होना
  • आईबॉल की अंतरुणी परत के रंग में परिवर्तन आना
किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए आज ही “Aayu” ऐप डाउनलोड करें

सफेद दाग का इलाज | Vitiligo Treatment

बथुआ

बथुए की पत्तियों का इस्तेमाल भी सफेद दाग के इलाज के लिए किया जाता है. सब्जी बनाने से लेकर इसकी पत्तियों का रस लगाने से भी काफी आराम मिलता है.

ऐलोवेरा जेल

ऐलोवेरा की पत्तियों के अंदर के जेल को निकालकर दाग वाले हिस्से पर लगाएं और अच्छे से मसाज करें. सूखने पर इसे पानी से धो लें. दिन में 2-3 बार इसका इस्तेमाल करें.

सरसों तेल

इस तेल में हल्दी पाउडर मिलाकर उसे दाग पर लगाएं. सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें.

नीम की पत्ती

नीम की पत्तियों का पेस्ट बनाकर उसे दाग वाले हिस्से पर लगाएं. नीम की पत्तियों के जूस में शहद मिलाकर पीना भी लाभकारी होगा. जल्द असर के लिए ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें.

अदरक

अदरक के छोटे से टुकड़े को सफेद दाग वाली जगह पर हल्के-हल्के रगड़ें. इससे उसका रस त्वचा तक पहुंचता है और अदरक में मौजूद मिनरल्स स्किन की इस समस्या को दूर करने में मदद करते हैं.

Aayu है आपका सहायक

यदि आपके परिवार में किसी को सफ़ेद दाग की परेशानी है या लक्षण दिख रहें हैं, तो आज ही घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गयी बटन पर क्लिक करें

11 Replies to “सफेद दाग के कारण, लक्षण और इलाज

  1. कृपया मुझे सफेद दाग कि बीमारी हैं इसका कोई ईलाज बताईये

  2. मेरी पत्नी के भी सफेद दाग की बीमारी है बहुत इलाज करा लिया

  3. मेरे पिता की आयु लगभग 70 वर्ष है। उन्हें भी सफेद दाग की समस्या है। पूरे शरीर पर लगभग 20से 25 प्रतिशत तक सफेद दाग हैं। होमिओपेथी इलाज पिछले डेढ़ साल से चल रहा है। किंतु असर बहुत मामूली सा है।कृपया कोई रामबाण उपाय बताने की कृपा करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.