प्लास्टर काटने के बाद क्या करें, किन बातों का ध्यान रखें

things kept in mind after cutting plaster

अगर आपकी हड्डी टूट गई और हड्डी टूटने की वजह से प्लास्टर लगा हुआ है तो कुछ बातों का ध्यान रखें। आपको यह पता होना चाहिए कि प्लास्टर काटने के बाद क्या करें।

जब भी आपके शरीर में हड्डी टूटती है तो डॉक्टर उसे जोड़ने के लिए उस हिस्से में प्लास्टर लगा देते है। लेकिन अगर आप इस समय ध्यान नहीं देते है तो स्थिति और बिगड़ जाती है।

प्लास्टर लगने के दौरान क्या करना चाहिए?

  • प्लास्टर के दौरान अपनी उँगलियों और अंगूठो को हिलाते रहें नहीं तो यह सुन्न पड़ जाता है।
  • शरीर के चोट या प्लास्टर वाले हिस्से को किसी चीज या तकिए की मदद से थोड़ा ऊपर रखें।
  • प्लास्टर के दौरान आपकी उँगलियों में दर्द होने लगे या व सुन्न पड़ जाए और उनमें कालापन आ जाए तो तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से सलाह लें।
  • प्लास्टर वाले हिस्से को छोड़कर बाकी शरीर के सभी जोड़ों को हिलाते रहें जिससे वह जाम ना हो और उनमें ब्लड सर्कुलेशन बना रहें।
  • फ्रैक्चर के इलाज में घरेलू उपचार आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

प्लास्टर लगने के दौरान क्या ना करें:

  • प्लास्टर वाली जगह को कठोर जगह पर ना रखें।
  • फ्रैक्चर वाले हिस्से को पानी से बचाएं। पानी के संपर्क में आने से स्थिति बिगड़ जाती है।
  • प्लास्टर में खुजली होने पर नुकीली चीज का प्रयोग ना करें।
  • प्लास्टर के अन्दर कोई चीज ना डालें।
  • खुद से प्लास्टर को एडजस्ट ना करें।

हड्डी टूटने पर क्या खाएं:

हड्डी टूटने को बोन फ्रैक्चर कहते है। यह एक मेडिकल स्थिति है। जब शरीर की किसी हड्डी की बनावट में दरार पड़ जाती है या टूट जाती है।

  • प्रोटीन: आपकी हड्डी की संरचना का लगभग आधा हिस्सा इससे बनता है। जब फ्रैक्चर होता है, तो आपके शरीर को मरम्मत के लिए नई हड्डी बनानी होती है।
  • कैल्शियम: यह खनिज आपको हड्डियां मजबूत बनाने में मदद करता है, इसलिए कैल्शियम के भरपूर मात्रा के खाद्य पदार्थ और पेय आपके फ्रैक्टर को ठीक करने में मदद करता है।
  • विटामिन डी: आपके फ्रैक्चर को ठीक करने में विटामिन-डी मदद करता है। यह आपकी हड्डियों को जोड़ने में मदद करता है।

हड्डियां टूटने पर क्या ना खाएं:

  • नमक: आपके आहार में बहुत अधिक नमक का उपयोग आपके पेशाब में अधिक कैल्शियम को खो देता है।
  • अल्कोहल: अल्कोहल पीने से हड्डी का उपचार धीरे होता है।
  • कॉफ़ी: एक दिन में चार कप से ज़्यादा कॉफ़ी पीने से हड्डी के उपचार में थोड़ा समय ज्यादा लग सकता है।

फ्रैक्चर होने पर प्राथमिक उपचार क्या करें:

जिस जगह की हड्डी टूट गई है, उस अंग पर पट्टी लगाएं और उस जगह को हिलने ना दें। खून बहने पर पट्टी को बांधे और मरीज को हॉस्पिटल लेकर जाएं।

हड्डियों की मजबूती के लिए दवाओं के अलावा अन्य उपाय क्या हैं ?

दूध, पनीर व अलसी को खानपान में शामिल करें। नियमित रूप से व्यायाम करें व रोजाना 5-10 मिनट धूप लें।

घुटने के जोड़ों को जल्दी खराब होने से कैसे बचाएं ?

घुटने के जोड़ों को जल्दी खराब होने से बचाने के लिए वजन ना बढऩे दें। लंबे समय तक आलती-पालती मारकर ना बैठें। रोजाना लंबे समय तक चलने या खड़े रहने से जोड़ प्रभावित होते हैं। जोड़ों के रोग या इनमें चोट लगने पर फौरन उपचार करें। कैल्शियम व विटामिन-डी उचित मात्रा में लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है।अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐप डाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.