fbpx

Covid-19 Vaccine : कोरोनावायरस, सर्दी वाला बुखार और मौसमी बुखार के लक्षणों में अंतर को ऐसे समझें-

Covid-19 Vaccine : कोरोनावायरस, सर्दी वाला बुखार और मौसमी बुखार के लक्षणों में अंतर को ऐसे समझें-

Covid-19 Vaccine: कोरोनावायरस (Covid-19 Vaccine) का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। सर्दियों में कोरोनावायरस (Covid-19 Vaccine) और मौसमी इंफ्लुंज़ा (Influenza) के मरीज ज्यादा आ रहे हैं। ऐसे में कोरोनावायरस, सर्दी वाला बुखार और मौसमी बुखार के लक्षणों में अंतर कर पाना मुश्किल हो रहा है। (What is the difference between symptoms of seasonal fever cold and coronavirus?)

लोग हर सामान्य लक्षण को कोरोनावायरस (Covid-19 Vaccine) ही समझ रहे हैं। ऐसे में इस लेख के माध्यम से हम आपको बता रहे हैं, आखिर कोरोनावायरस, सर्दी वाला बुखार और मौसमी बुखार में क्या अंतर है। 

1. आइए जानते हैं कोरोना व मौसमी संक्रमण के प्रमुख लक्षणों के बारे में-

कोरोनावायरस के लक्षण (Coronavirus symptoms)सामान्य सर्दी के लक्षण (Common Cold)सामान्य फ्लु के लक्षण (Common influenza)मौसमी एलर्जी के लक्षण (Seasonal flu)
बुखार आना और सर्दी लगना, खांसीनाक बहना या नाक बंद होनाबुखार, ठंड लगना,आंख, नाक, कान में खुजली
मुख्य रूप से सूखी खांसी की समस्या होती हैहल्की खांसी आनासूखी खांसीगले में खराश और साइनस की समस्या
सांस लेने में समस्याहल्की थकानहर समय थकान महसूस करनाएलर्जी के मरीजों को थकान, खांसी, छींक
बहुत अधिक थकान महसूस करनाछींक आनाशरीर में लगातार दर्दनाक बहना या नाक बंद होना
तेज सिरदर्द या तेज बदन दर्द भी महससू करते हैंआंखों से पानी आनानाक बंद या लगातार नाक बहनाआंखों से पानी आना
गले में खराशगले में सूजन या खराश होनागले में खराश और दर्दसिरदर्द 
निगलने में दिक्कतकभी कभी सिरदर्द होने के साथ जोड़ों में दर्द भी हो सकता है।डायरियालंबी सांस न ले पाना

2. हल्के में ना लें इन लक्षणों को

सर्दी जुकाम हो या फ्लू की समस्या या मौसमी एलर्जी की परेशानी, इन सभी बीमारियों के लक्षण कोरोना बीमारी के समान ही हैं। ऐसे में बदलते मौसम में यदि थोड़े से संक्रमण के लक्षण दिखाई देते हैं तो तत्काल कोरोना टेस्ट करवा लेना चाहिए क्योंकि यदि हमने कोरोना के लक्षणों को संक्रमण या मौसमी बीमारी समझने की भूल कर दी, तो बड़ा ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है। 

ये भी पढ़ें: –

3. आखिर भारत में कब आएगी कोरोनावायरस की वैक्सीन? 

भारत बायोटेक की ज्वॉइंट मैनेजिंग डायरेक्टर सुचित्रा इला ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सुरक्षा और क्षमता के डेटा के साथ को वैक्सीन अगले साल की पहली तिमाही में उपलब्ध हो जाएगी। 

कोरोना वैक्सीन बनाने वाली कंपनी फ़ाइज़र और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के बाद भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन (Covid-19 vaccine covaxin) के आपातकालीन इस्तेमाल को लेकर ड्रग कंट्रोल ऑफ इंड़िया में आवेदन कर दिया है। 

बहरहाल, भारत में कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी अप्रूवल के लिए और इंतजार करना पड़ सकता है। इस सिलसिले में बुधवार को ड्रग रेगुलेटर सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (CDSCO) की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) की मीटिंग हुई।

लेटेस्ट कोरोना वायरस अपडेट्स और किसी भी बीमारी से संबंधित विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श के लिए डाउनलोड करें ”आयु ऐप’। 

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )