ल्यूकेमिया ब्लड कैंसर के चलते बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर का निधन, जानें क्या होता है leukemia blood cancer

what is Leukemia

कैंसर के चलते बीते दो दिनों में बॉलीवुड के दो दिग्गज कलाकरों का निधन हो गया। बुधवार को जयपुर से ताल्ल़ुक रखने वाले बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक का सफ़र तय करने वाले एक्टर इरफ़ान खान दुनिया से रुखसत हो गए। आज महान कलाकार ऋषि कपूर इस जहाँ को अलविदा कर गए। दशकों तक लोगों के दिलों में राज करने वाले ऋषि कपूर जीवन के आखिरी पलों में भी डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ का मनोरंजन करते रहे। वे दो सालों से ल्‍यूकेमिया ब्लड कैंसर से पीड़ित थे। जानिए क्या है ल्यूकेमिया और इसके लक्षण (What is Leukemia,Symptoms, Causes, Types, Diagnosis & Treatment) 

क्या है ल्यूकेमिया ब्लड कैंसर? (What is Leukemia)

ल्यूकेमिया एक तरह का ब्लड कैंसर है जो शरीर के उस हिस्‍से को प्रभावित करता है जहां से हमें बाहरी संक्रमण से लड़ने की क्षमता मिलती है। ल्यूकेमिया शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स की संख्या में बढ़ोतरी की वजह से होता है. व्हाइट ब्लड सेल्स रेड ब्लड सेल्स पर हावी हो जाते हैं और शरीर के स्वस्थ रहने में अहम भूमिका निभाने वाले प्लेटलेट्स पर भी वर्चस्व हासिल कर लेते हैं। व्हाइट ब्लड सेल्स की अधिकाधिक मात्रा की वजह से शरीर को बेहद नुकसान पहुंचने लगता है

ल्यूकेमिया ब्लड कैंसर के लक्षण (Symptoms of leukemia)

  • कैंसर से संबंधित थकान, ठंड, चक्कर आना, थकान, बुखार और भूख की कमी।
  • मल, दस्त और मतली में रक्त।
  • सूजी हुई लसीका ग्रंथियां।
  • अनजाने वजन घटाने।
  • शरीर पर चकत्ते या लाल धब्बे।
  • हड्डियों या जोड़ों में दर्द।

ल्यूकेमिया के प्रकार (Types of leukemia)

तीव्र मायलोजनस ल्यूकेमिया- यह वयस्कों और बच्चों में हो सकता है। यह ल्यूकेमिया का सबसे आम प्रकार है।

  • तीव्र लिम्फोसाइटिक ल्यूकेमिया (सभी) – यह ज्यादातर बच्चों में होता है।
  • क्रोनिक माइलोजेनस ल्यूकेमिया (सीएमएल) – यह ज्यादातर वयस्कों को प्रभावित करता है।

क्रोनिक लिम्फोसाइटिक ल्यूकेमिया (सीएलएल) – 55 वर्ष से अधिक उम्र के लोग इससे अधिक प्रभावित होते हैं। शायद ही यह बच्चों को प्रभावित करता है। एक दुर्लभ सीएलएल उप प्रकार बालों वाली सेल ल्यूकेमिया है। इसका नाम कैंसर युक्त लिम्फोसाइट्स के कारण होता है जब माइक्रोस्कोप के साथ देखा जाता है।

ये भी पढ़ें-

आयु है आपका सहायक

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते आज विश्व टेलीमेडिसिन को अपना रहा है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भी आमजन से टेलीमेडिसिन को अपनाने की बात कही है। किसी भी सामान्य बीमारी में आप विशेषज्ञ डॉक्टरों से घर बैठे आयु ऐप के माध्यम से परामर्श कर सकते हैं। इसके अलावा आयु ऐप पर डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित स्वास्थ संबंधी तमाम अपडेट प्राप्त कर सकते हैं। आयु ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.