fbpx

खसखस क्या है? | What is Khaskhas in Hindi

खसखस क्या है? | What is Khaskhas in Hindi

आप सोच रहे होंगे खसखस क्या है तो आपको बता दें खसखस को आमतौर पर खस भी कहते है जो मूल रूप से पोएसी कुल का होता है।

खसखस क्या है?: What is Poppy Seeds (Khas Khas) in Hindi:

आइये अब जानते है खसखस क्या है। खसखस एक प्रकार का तिलहन (Oil Seeds) है, जिसे अंग्रेजी में पॉपी सिड्स भी बोलते है। इन बीजों को पॉपी नाम के पौधे से प्राप्त किया जाता है। खसखस का वैज्ञानिक नाम पेपेवर सोम्निफेरम है। यह विशेष रूप से मध्य यूरोपीय देशों में उगाया जाता है। इसका इस्तेमाल कई प्रकार से व्यंजनों में किया जाता है। इसके अलावा, इसके बीजों से तेल भी निकाला जाता है। आइये जब हम खसखस क्या है यह जान चुके है तो अब हम खसखस के प्रकार जानते जानते है।

(यह भी पढ़ें: खसखस के फायदे और नुकसान)

खसखस के प्रकार: Types of Poppy Seeds in Hindi:

नीले खसखस: इसे यूरोपीय खसखस भी कहते है, क्योंकि ये ज्यादातर ब्रेड और कन्फेक्शनरी (स्वीट एंड चॉकलेट) में पाए जाते हैं।

सफेद खसखस: इसे भारतीय या एशियाई खसखस भी कहते है। इसका इस्तेमाल बहुत सारे व्यंजनों में किया जाता है।

ओरिएंटल खसखस: इसे ओपियम पॉपी भी कहा जाता है, जिससे अफीम पैदा की जाती है।

आइये अब जानते है प्रेगनेंसी में खसखस के बीज खाने चाहिए या नहीं और खाने चाहिए तो और कौन-कौन से बीज प्रेगनेंसी में खाना फायदेमंद होते है।

प्रेगनेंसी में खाएं ये बीज: Seeds to eat during Pregnancy in Hindi

महत्वपूर्ण बीजों में विटामिन, प्रोटीन, मिनरल और बहुत तरह के जरुरी फैटी एसिड होते हैं, जो उस समय शरीर की आवश्यकता होती है लेकिन जरूरत से ज्यादा बीजों का सेवन ना करें।

तिल के बीज का प्रेगनेंसी में सेवन करें: यह बीज प्रेगनेंसी के समय केवल एक ही बार खाएं क्योंकि इनकी बहुत गरम तासीर होती है। जिस वजह से यह हेल्दी होने के बाद भी आप इनका सेवन कम ही करें।

खरबूज के बीज का प्रेगनेंसी में सेवन करें: सबसे पहले खरबूज के बीजों को निकाल कर उन्हें सुखा लें और फिर सेवन करें। यह बीज प्रेगनेंसी के समय आपको ऊर्जा देते है।

कद्दू के बीज का प्रेगनेंसी में सेवन करें: अगर आपको सुबह के समय उल्टी जैसी महसूस होती है तो आप कद्दू के बीज का सेवन करें इससे आप अच्छा महसूस करेंगी। (यह भी पढ़ें: कद्दू के बीज के फायदे)

खसखस का प्रेगनेंसी में सेवन करें: प्रेगनेंसी के समय खसखस खाने से प्रेगनेंट महिलाओं का स्वाद अच्छा होता है लेकिन इसे भी कम ही मात्रा में खाएं।

सूरजमुखी के बीज का प्रेगनेंसी में सेवन करें: एक मुठ्ठी सूरजमुखी का बीज खाने से शरीर मे आयरन की कमी पूरी होती है।

अनार के बीज का प्रेगनेंसी में सेवन करें: यह एक स्वास्थ्यवर्धक फल माना जाता है। प्रेग्नेंट महिलाओं में आयरन की कमी पूरी करने के लिए उन्हें अनार के बीज का सेवन करना चाहिए क्योंकि इसमें आयरन होता है।

आइये अब जानते है खसखस के दाने क्या काम आते है?

खसखस के दाने क्या काम आते है? Poppy Seeds Uses in Hindi

अगर आपको बहुत प्यास लगती है और पेट में जलन रहती है तो आप खसखस के दाने ले सकते है। खसखस प्यास बुझाने के साथ ही बुखार, सूजन से भी राहत दिलाता है और यह एक दर्द-निवारक भी है।

खसखस अनिद्रा दूर करें, कब्ज की समस्या दूर करें, सांस की समस्या दूर करें। खसखस कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है जैसे ओमेगा-6 फैटी एसिड, प्रोटीन, फाइबर,फाइटोकेमिकल्स, विटामिन बी, थायमिन, कैल्शियम और मैगनीज आदि खसखस में पाए जाते है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह लेख सामान्य जानकारी देता है। अगर आपको गले में दर्द बहुत ज्यादा हो रहा है तो आप अभी आयु ऐप डाउनलोड करें। स्वास्थ्य संबंधी किसी भी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके अपनी स्वास्थ्य संबंधी समस्या बता सकते है। आयु ऐप आपके बेहतर स्वास्थ्य के लिए कार्यरत है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )