What is Cervical Spondylosis: सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस क्या है? जानें इलाज

What is Cervical Spondylosis

क्या आपको गर्दन में दर्द, अकड़न और सिर में दर्द की समस्या होती है। अगर हाँ तो इसे नजरअंदाज ना करें इससे सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस (Cervical Spondylosis) की समस्या हो सकती है। अब आप सोच रहें होंगे सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस क्या है? (What is Cervical Spondylosis).

आइये सबसे पहले जानते है सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस क्या है? (What is Cervical Spondylosis).

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस क्या है? (What is Cervical Spondylosis):

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस (Cervical Spondylosis) गठिया का एक प्रकार है। इसमें सर्वाइकल यानि गर्दन में दर्द, अकड़न और सिर दर्द की समस्या होती है। सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की तकलीफ डेस्क वर्क करने वाले लोगों में ज्यादा देखी जाती है। युवाओं में आजकल सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस की समस्या बहुत आम हो गई है, लेकिन ज्यादा लापरवाही से यह गंभीर रूप ले लेती है। यह समस्या स्री-पुरुष दोनों में देखी जाती है। 40 वर्ष की उम्र के बाद यह लगभग 60 प्रतिशत लोगों में देखी जाती है।

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के कारण: Causes of Cervical Spondylosis:

जैसे-जैसे उम्र बढती हैं, उसका प्रभाव हड्डियों और उनके टिश्यू पर पड़ता है। उम्र के साथ-साथ यह दोनों खराब हो सकते है। यह दोनों हमारी रीढ़ को बनाते है। उदाहरण के लिए, रीढ़ की डिस्क सूख सकती है और सिकुड़ सकती है और अस्थिबंध अकड़ सकते हैं। यह ‘शारीरिक कमी’ कुछ हद तक सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस का रूप ले सकती है।

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के लक्षण: Symptoms of Cervical Spondylosis:

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस के लक्षण धीरे-धीरे या फिर अचानक विकसित हो सकते हैं और रोगियों में ये लक्षण हल्के से लेकर गंभीर तक हो सकते हैं।

  • गर्दन दर्द: कंधे के ब्लेड के आसपास दर्द आम लक्षण है। कुछ लोगों में हाथ और उंगलियों में दर्द की शिकायत होती है।
  • मांसपेशियों की कमजोरी: मांसपेशियों की कमजोरी से हाथ उठाना या वस्तुओं को मजबूती से पकड़ना मुश्किल हो जाता है।
  • गर्दन की अकड़न: धीरे-धीरे गर्दन की अकड़न ज्यादा होती जाती है।  
  • सिर के पीछे सिरदर्द
  • कंधों और बाहों में झुनझुनी या सुन्न होना

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस का निदान: How to Diagnose Cervical Spondylosis:

अगर गर्दन में दर्द और अकड़न जैसे लक्षण हों तब आमतौर पर सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस का अनुमान लगा सकते है। यह हाथों में पैदा होने वाला दर्द, हाथों के इस्तेमाल में समस्या या चलने में कठिनाई का कारण भी बन सकता है।

आइये सबसे पहले हम शारीरिक परीक्षण के बारे में बताते है।

शारीरिक परीक्षण:

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस (Cervical Spondylosis) आपकी गर्दन की हलचल की सीमा को सीमित कर सकता है। आपको अपने सिर को एक बाजू से दूसरी बाजू तक घुमाने में और अपने सिर को अपने कंधों की ओर झुकाने के लिए कहा जाता है।

आपके डॉक्टर आपके हाथों और पैरों की प्रतिवर्ती क्रिया (Reflex Action) परीक्षण कर सकते है और जाँच सकते है कि आपके सभी अंगों में पूर्ण संवेदना है। आपको प्रतिवर्ती क्रिया (Reflex Action) के साथ समस्याएं है या संवेदना की कमी है, तो इससे यह सूचित होता है कि आपकी रीढ़ की हड्डी (सरवाइकल मायलोपैथी) के सिकुड़ जाने के कारण नसों को नुकसान पहुँचा है।

आपको एक एक्स-रे करवाने को कहा जा सकता है जो स्पोंडिलोसिस की विशेषता बताता है, जैसे कि ओस्टियोफाइट्स (अतिरिक्त हड्डी की गांठ)।

पता लगने के बाद वाली जाँच:

अगर सर्वाइकल मायलोपैथी का अनुमान लगाया गया है या आपके लक्षण गंभीर है और आपपर पारंपरिक उपचारों का कोई असर नहीं हो रहा है तो आपको आगे की जाँच करने की आवश्यकता हो सकती है।

एमआरआई स्कैन:

एमआरआई स्कैन एक प्रकार का स्कैन है जो शरीर के अंदर की विस्तृत छवियों का उत्पादन करने के लिए मजबूत चुंबकीय क्षेत्र (Magnetic Field) और रेडियो तरंगों (Radio Waves) का उपयोग करता है।

एमआरआई स्कैन नसों को अंतर्निहित क्षति (Inherent Damage) का पता लगाने में उपयोगी हो सकता है।

सीटी स्कैन:

सीटी-स्कैन में एक्स-रे की एक श्रृंखला (Chain) शामिल होती है, जो एक अधिक विस्तृत छवि बनाने के लिए कंप्यूटर द्वारा पुन: प्राप्त की जाती है ।

एक्स-रे की तुलना में सीटी स्कैन आपकी हड्डियों का अधिक विस्तृत स्कैन प्रदान कर सकता है।

सीटी स्कैन आमतौर पर केवल तभी किया जाता है यदि आप मेडिकल कारणों से एमआरआई स्कैन करवाने में असमर्थ है, उदाहरण के लिए, यदि आपको पेसमेकर है।

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस को कैसे ठीक करें: How to Cure Cervical Spondylosis

  • ओटीसी OTC दर्द निवारक लें।
  • गले की मांसपेशियों के दर्द से राहत प्रदान करने के लिए अपनी गर्दन पर हीटिंग पैड या कोल्ड पैक का प्रयोग करें।
  • नियमित रूप से व्यायाम करें

हालांकि, आपको लंबे समय तक गर्दन का ब्रेस या कॉलर नहीं पहनना चाहिए क्योंकि इससे आपकी मांसपेशियां कमजोर हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐपडाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.