fbpx

कितनी घातक बीमारी है कैंसर , जानिए कारण, लक्षण और उपाय

कितनी घातक बीमारी है कैंसर , जानिए कारण, लक्षण और उपाय

कोरोना वायरस महामारी के बीच पिछले दो दिनों में दो बड़ी घटनाएँ घटित हुई। कैंसर जैसी घातक बीमारी के चलते बॉलीवुड की दो मशहूर हस्तियां दुनिया से रुखसत हो गई। 29 अप्रैल को न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर कैंसर की वजह से इरफान खान का मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में निधन हो गया, वहीं बॉलीवुड के लेजेंड कहे जाने वाले ऋषि कपूर ने लंबे समय से कैंसर के चलते 30 अप्रैल को यानि की आज मुंबई के एच.एन.रिलायंस अस्पताल में अंतिम सांस ली। अब आपके मन में भी इस भयानक बीमारी के बारे में जारे की जिज्ञासा होगी। चलिए जानते हैं कैंसर क्या है, कैंसर के कारण, लक्षण और इलाज। (What is cancer? Cancer Causes, Types, Treatment, Symptoms & Signs)

कैंसर क्या है (What is cancer?)

कैंसर क्या होता है ? मानव शरीर बहुत सारी कोशिकाओं से मिलकर बना होता है। शरीर की जरूरत के हिसाब से ये कोशिकाएं बनती रहती हैं। मगर ये बनना अनियंत्रित हो जाए या फिर शरीर की मांग और जरूरत के हिसाब से बनना बंद हो जाए तो कोशिकाओं का यह अनियंत्रित विकास कैंसर कहलाता है।

कैंसर के आठ लक्षण (Cancer Symptoms)

  • पेशाब में आनेवाले ख़ून
  • ख़ून की कमी की बीमारी एनीमिया
  • खांसी के दौरान ख़ून का आना
  • स्तन में गाँठ
  • कुछ निगलने में दिक़्कत होना
  • मीनोपॉस के बाद ख़ून आना
  • प्रोस्टेट के परीक्षण के असामान्य परिणाम

कैंसर के प्रकार (Types of cancer)

  • स्किन कैंसर
  • ब्रेस्ट कैंसर
  • प्रोस्टेट कैंसर
  • पैनक्रियाटिक कैंसर
  • लंग कैंसर
  • सर्वाइकल कैंसर
  • ब्रेन कैंसर
  • बोन कैंसर
  • ब्लड कैंसर

आमतौर लोगों में पाया जाने वाला कैंसर के अंतर्गत स्किन कैंसर, लंग कैंसर, सर्वाइकल कैंसर, ब्रेन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर प्रमुख हैं।  महिलाओं में सवाईकल और ब्रेस्ट कैंसर के मामले बहुत अधिक पाए जाते हैं। कैंसर का यह दोनोंं ही प्रकार बहुत खतरनाक और घातक है। 

ब्रेस्ट कैंसर- ब्रेस्ट कैंसर आमतौर पर महिलाओं में होता है। लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल भी नहीं है कि पुरुष इस बीमारी का शिकार नहीं होते हैं। स्तन कैंसर पुरुषों को भी अपना शिकार बनाता है। इस कैंसर के दौरान महिलाओं के स्तन में शुरुआती तौर पर एक गांठ जैसी महसूस होती है, जो धीरे-धीरे फैलने लगती है और घातक स्थिति में पहुंच जाती है। इससे बचने कि लिए जरूरी है कि आप नियमित रूप से अपना ब्रेस्ट चेकअप कराते रहें।

सवाईकल कैंसर –  सर्वाइकल कैंसर ब्रेस्ट कैंसर के बाद महिलाओं में तेजी से होनेवाला कैंसर है । महिलाएं वैसे भी अपनी सेहत को लेकर कुछ लापरवाह होती हैं। जिस कारण इस कैंसर को ग्रोथ करने का पूरा अवसर मिलता है और यह जानलेवा स्थिति में पहुंच जाता है। सर्वाइकल कैंसर में महिला के गर्भाशय की कोशिकाओं में अनियमित वृद्धि होने लगते है, जो धीरे-धीरे कैंसर का रूप ले लेती है।

ब्लड कैंसर- स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों का कहना है कि ल्यूकेमिया 66 साल की उम्र में होने वाला एक प्रकार का ब्लड कैंसर है, जिसे क्रोनिक लिम्फोसाइटिक ल्यूकेमिया (CLL) के नाम से भी जाना जाता है. आमतौर पर इसमें ब्लड कैंसर के शुरुआती स्तर पर इलाज नहीं होता है, लेकिन जब यह कैंसर बढ़ जाता है और इसके लक्षण सामने आने लगते हैं, तब इसका इलाज शुरू होता है. कीमोथैरेपी के बाद भी इस बीमारी के लौटने की आशंका बनी रहती है. इसलिए बीमारी के वापस आने की आशंका को कम करने के लिए बोन मैरो ट्रांसप्लांट कराया जाता है.

ल्यूकेमिया के चलते शरीर में गैर-सेहतमंद कोशिकाओं के बढ़ने से मरीज की इम्‍यूनिटी कमजोर होने लगती है. इससे वो इंफेक्शन और बुखार की चपेट में जल्दी-जल्‍दी आने लगता है. साथ ही इस बीमारी में मरीज की त्‍वचा भी पीली होने लगती है. वह हर वक्‍त थकान महसूस करने लगता है.

ये भी पढ़ें-

आयु है आपका सहायक

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते आज विश्व टेलीमेडिसिन को अपना रहा है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भी आमजन से टेलीमेडिसिन को अपनाने की बात कही है। किसी भी सामान्य बीमारी में आप विशेषज्ञ डॉक्टरों से घर बैठे आयु ऐप के माध्यम से परामर्श कर सकते हैं। इसके अलावा आयु ऐप पर डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित स्वास्थ संबंधी तमाम अपडेट प्राप्त कर सकते हैं। आयु ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (2)
  • comment-avatar
    Rajanish kumar 12 months

    मान्यवर, पिछले 1 साल से बाएं तरफ के जबड़े में दर्द रहता है उसके लिए डेंटिस्ट को मैंने दिखाया उसका दवा खाया दवा से मुझे आराम नहीं हुआ लेकिन मेरे गाल के अंदर उजला धब्बा जैसा दिखाई देने लगा और उसमें दर्द भी रहता है। जो अब एक दो जगह गाल में और देखने को मिल रहा है। मैं प्रतिदिन बेटाडिन से कुला करता हूं और टर्बो कोर्ट ointment लगाता हूं लेकिन इससे मुझे राहत नहीं प्राप्त होता है मैं क्या करूं ?

    • comment-avatar

      आप लिंक पर क्लिक करके आयु ऐप http://bit.ly/357CUOL डाउनलोड करें, यह पर भारत के सर्वश्रेष्ठ स्पेश्लिस्ट डॉक्टर उपलब्ध हैं आप उनसे परामर्श कर सकते हैं। या फिर आप हमारे ग्राहक सेवा नंबर 781-681-1111 पर कॉल करके अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। बिना डॉक्टर की परामर्श के कोई भी उपचार करना हानिकारक हो सकता है। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ें- https://bit.ly/2TxMMNI

  • Disqus ( )