गले में जमे हुए कफ से छुटकारा कैसे पाएं | Daily Health Tip | 11 May 2020 | AAYU App

how to get rid from cough

गले में कफ से छुटकारा पाने के लिए आप घरेलु नुस्खे अपना सकते है जैसे कि शहद और नींबू का रस मिलाकर इसका सेवन करें।

To get rid of phlegm in the throat, you can adopt some home remedies. Mixture of honey and lemon juice can be helpful for this purpose.

Health Tips for Aayu App

आजकल देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे है। इस बीमारी में जो लक्षण देखे जाते है उनसे सर्दी, खांसी, जुकाम और बहुत तेज बुखार आना भी शामिल है। इसमें सुखी-खांसी का लक्षण बहुत आम है। सुखी-खांसी में बलगम बाहर नहीं आता। इसमें गले में कफ जमा होता है। आइये जानते है गले में कफ से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे।

खांसी जुकाम और फ्लू का साइड इफ़ेक्ट होता है। एलर्जी, अस्थमा, एसिड रिफ्लक्स,शुष्क हवा से भी हो सकती है।

बदलते मौसम में खांसी, जुकाम, बुखार जैसी बीमारियां होती रहती है। जब खांसी, जुकाम और बुखार जैसी बीमारियां होती है, तो इससे गले में बलगम भी जम सकता है। इससे कई तरह की बीमारियां हो सकती है।

गले में कफ से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे:

शहद और नींबू: नींबू के रस और शहद मिलाकर सेवन करने से छाती और गले में जमे कफ से छुटकारा मिलता है क्योंकि नींबू में सिट्रिक अम्ल होता है, जो कफ को नष्ट करने में उपयोगी होता है।

शहद और अदरक: एक चम्मच शहद में एक चम्मच अदरक का रस मिलाकर इसे थोड़ा गर्म करें, और फिर इसका सेवन करें।

काली मिर्च: 5-6 काली मिर्च लेकर उन्हें बारीक पीसें फिर एक गिलास पानी में यह मिश्रण डालें और इसे अच्छी तरह गर्म करें। जब यह गुनगुना ठंडा हो जाए, तो इसका सेवन करें। इससे छाती और गले में जमे कफ की समस्या से छुटकारा मिलता है।

बलगम में आने वाले बदलावों से कैसे परेशानी समझें:

अगर आपका बलगम बिना किसी कलर के होने के बजाय, हरे या पीलापन लिए हुए है, या फिर उसमें एक तरह की बदबू आने लगी है, तो आपके संभवतः साइनस के मार्ग में बैक्टीरिया बन रहा है और जिसकी वजह से आपको साइनस इंफेक्शन हो रहा है।

  • जब आपका साइनस कंजेशन की वजह से ब्लॉक हो जाता है, तो आमतौर पर बनने वाला बैक्टीरिया और कफ बीच में ही फँसा रह जाता है। अगर कंजेशन में और प्रैशर में कोई आराम नहीं है, तो वो फँसा हुआ बैक्टीरिया जाकर साइनस इन्फेक्शन में तब्दील हो जाता है।
  • अगर ये कंजेशन और प्रैशर, सर्दी-जुकाम या फ्लू की वजह से हो रहा है, तो आपको वायरल साइनस कंजेशन भी हो सकता है।
  • अगर ये इंफेक्शन किसी वायरस की वजह से हुआ है, तो एंटीबायोटिक काम नहीं करती। अगर आपको सर्दी या फ्लू वाला वायरस है, तो ज़िंक, विटामिन सी या स्यूडोफेड्राइन (pseudoephedrine) के साथ इसका इलाज करें।

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.