व्रत करने के फायदे | Daily Health Tip | Aayu App

vrat krne ke fayde

अगर आप शारीरिक रूप से अधिक सक्रिय हैं तो आपको व्रत नहीं रखना चाहिए। शार‍ीरिक रूप से अधिक सक्रिय लोगों को अधिक ऊर्जा की जरूरत होती है। ऐसे में अगर वे व्रत रखते हैं, तो इसका विपरीत असर उनके शरीर के अंगों पर पड़ता है।

People with high daily activity and quick metabolism should avoid keeping fasts as their body requires high amount of energy and keeping fast can cause weakness in them. 

Health Tip for Aayu App

व्रत से पाचन तंत्र को फायदा पहुँचता है और यह वजन घटाने में भी मदद करता है। यह शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर करते है। ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर भी व्रत करने से फायदे मिलते है साथ ही यह दिल को भी स्वस्थ रखता है। इससे शरीर तरोताजा रहता है।

व्रत करने के फायदे:

  • व्रत रखने के दौरान फैट के बर्न होने की प्रक्रिया तेज हो जाती है। जिससे चर्बी तेजी से गलती है।
  • फैट सेल्स लैप्ट‍िन नाम का हॉर्मोन स्रावित करती हैं। व्रत के दौरान कम कैलोरी मिलने से लैप्ट‍िन की सक्रियता पर असर पड़ता है और वजन कम होता है।
  • व्रत के दौरान आवश्यक पोषक तत्वों को लेना जरूरी है नहीं तो व्रत करना आपके लिए तकलीफदेह हो सकता है। व्रत के बाद आप जब भी कुछ खाएं, कोशिश करें कि वो पौष्ट‍िक हो ना कि फैट से भरा हुआ नहीं तो इससे आपका वजन बढ़ भी सकता है।
  • व्रत करने से रोग प्रतिरोधक कोशिकाओं के बनने में मदद मिलती है। अगर कोई कैंसर से पीड़ित है और वह कीमोथेरेपी ले रहें है तो व्रत करना फायदेमंद होगा।
  • शरीर के अंदर की गंदगी को साफ करने और पाचन क्रिया को बेहतर बनाने के लिए आप व्रत करें।
  • व्रत करने से दिमाग स्वस्थ रहता है। व्रत करने से डिप्रेशन और मस्त‍िष्क से जुड़ी कई समस्याओं में फायदा होता है।
  • आज के समय में तनाव बहुत बड़ी परेशानी है। व्रत करने से तनाव कम किया जा सकता है।

स्वस्थ और सेहतमंद शरीर के लिए लोग कई तरह की आहार प्रणाली को अपने दैनिक जीवन में अपनाते हैं। उन्हीं में से एक है ड्राई फास्टिंग। आज के समय में यह काफी प्रचलन में है। यह आपके शरीर को मजबूत और सेहतमंद बनाने में काफी मददगार होता है।

ड्राई फास्टिंग क्या है?

पहले के समय में ज्यादातर लोग सूरज ढलने से पहले भोजन करते है। अगले दिन सूर्योदय के बाद कुछ खाते है। इस तरह उनके दो समय के भोजन के समय में लगभग 12 घंटे का अंतराल होता है जो मानव शरीर के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

बॉडी डिटॉक्स करती है?

शरीर को डिटॉक्स करना यानि शरीर के अंदर जमा हो चुके विषैले तत्वों को निकालने में शरीर की मदद करना ही बॉडी डिटॉक्स कहलाता है। जब हम अपने शरीर की उम्र और उसकी जरूरत को ध्यान में रखकर काम करते हैं तब हम लंबे समय तक युवा और स्वस्थ रह सकते है।

मानसिक शांति मिलती है?

नवरात्रि में व्रत रखने पर ऐसे लोग भी जल्दी उठते हैं, जिन्हें रोजाना देर तक सोने की आदत होती है। लगातार 9 दिन तक ऐसा करने पर इसका असर आपके शरीर, ऊर्जा और मानसिक सेहत पर सकारात्मक प्रभाव डालता है।

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published.