आँखों के लिए फायदेमंद विटामिन-ए के फायदे जानें

विटामिन-ए के फायदे

विटामिन जरूरी सूक्ष्म पोषक तत्वों (Micronutrients) का एक हिस्सा हैं, जो कई प्रक्रियाओं के सुचारू संचालन के लिए हमारे शरीर के लिए जरूरी होते हैं। इन्हीं में से एक विटामिन-ए है। विटामिन-ए के फायदे में त्वचा, हड्डियों और शरीर की अन्य कोशिकाओं को मजबूत रखना शामिल है।

स्वस्थ शरीर के लिए पर्याप्त मात्रा में विटामिन-ए की जरूरत होती है। यह कोशिका वृद्धि, इम्यून‍िटी (Immunity Booster), दृष्टि और भ्रूण के विकास में मदद करता है। विटामिन-ए के फायदे में त्वचा (Vitamin A For Skin) के स्वास्थ्य, नाखूनों और बाल भी शामिल है। कई खाद्य पदार्थ विटामिन-ए से भरपूर होते हैं, जिनमें पशु-आधारित और पौधे-आधारित दोनों खाद्य पदार्थ शामिल होते है यानि वेज और नॉनवेज दोनों ही तरह के आहार में विटामिन-ए के स्रोत (Vitamin A Food Source) मौजूद हैं। यहाँ हम आपको विटामिन-ए के फायदे, विटामिन-ए के स्रोत और विटामिन-ए के उपयोग बताएंगे।

विटामिन-ए के फायदे: Vitamin-A Benefits in Hindi: 

इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने और दिल, फेफड़े, किडनी के साथ-साथ शरीर के दूसरे आवश्यक अंगों के कार्यों को सही रखने के लिए विटामिन ए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

अगर आपको आपके शरीर में विटामिन ए की कमी दिखती है तो आपका शरीर कई बिमारियों से ग्रसित हो सकता है। इसलिए आपको विटामिन ए की कमी के कारण के बारे में पता होना चाहिए।

विटामिन ए में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है, जो शरीर की कोशिकाओं के नुकसान को कम करने में मदद करता है।

विटामिन-ए मुक्त कणों (Free Radicals) को टूटने से रोकता है, जो सूजन जैसी समस्याओं को कम करने में मदद करता है।

विटामिन-ए आँखों की बीमारियों के खतरे को कम करता है। इसकी कमी से रतौंधी (Night Blindness), आँख के सफेद हिस्से में धब्बे जैसी समस्यांए पैदा हो सकती है।

विटामिन-ए के स्रोत: Vitamin-A Sources in Hindi: 

विटामिन-ए के अलग-अलग स्रोत हैं जिनमें पौधे-आधारित और पशु-आधारित स्रोत दोनों शामिल है। कॉड लिवर ऑयल, अंडे, फोर्टिफाइड अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियां, नारंगी और पीली सब्जियाँ विटामिन-ए के कुछ स्रोत है। सब्जियों और फलों के सेवन से आप आसानी से विटामिन-ए की पूर्ति कर सकते है। शरीर में विटामिन-ए की पूर्ति करने के लिए अंडा, दूध, गाजर, पीली या नारंगी सब्जियाँ, पालक, स्वीट पोटेटो, पपीता, दही, सोयाबीन और दूसरी पत्तेदार हरी सब्जियों का सेवन कर सकते है।

विटामिन-ए की कमी से होने वाले रोग: Vitamin-A Deficiency Diseases:

अंधापन की समस्या होना: अंधापन दृष्टि की हानि से जुडी एक परेशानी है जिसको सामान्य चश्में, कॉन्टेक्ट लेंस, दवाओं और सर्जरी से सही नहीं किया जा सकता। यह स्थिति किसी व्यक्ति के रोजमर्रा के जीवन को गलत तरह से प्रभावित कर सकता है। अगर आपको अचानक से दिखने में कमी लगें तो तुरंत अपने डॉक्टर के पास जाएं और उनसे सलाह लें।

एनीमिया की समस्या होना: शरीर में खून की कमी होना एनीमिया कहलाता है। पुरुषों में हीमोग्लोबिन की मात्रा 12 से 16 प्रतिशत होना चाहिए जबकि महिलाओं में यह 11 से 14 प्रतिशत होना चाहिए। एनीमिया की समस्या होने पर काली चाय एवं कॉफी पीने से बचें।

पेशाब की नली में संक्रमण की समस्या होना: मूत्र का संक्रमण बैक्टीरिया जनित संक्रमण होता है। यह संक्रमण मूत्र-पथ (पेशाब करने के रास्ते) के एक हिस्से को संक्रमित करता है। जब यह निचले हिस्से को प्रभावित करता है, तब इसे सामान्य मूत्र संक्रमण या मूत्राशय में होने वाली सूजन कहा जाता है। आप इससे बचने के लिए गेहूँ का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए आप एक मुट्ठी गेहूँ को पानी में मिलाएँ और सुबह पानी को छानकर मिश्री मिलाकर खाएं।

डिस्क्लेमर: विटामिन-ए की कमी से होने वाले रोग की वजह से होने वाली परेशानियों का निदान पाने के लिए आयु ऐप पर मौजूद विशेषज्ञ डॉक्टर से अभी संपर्क करें। आयु ऐप डाउनलोड करके आप अपने फोन पर रोज़ाना सेहत की बातें और टेलीमेडिसिन की सुविधा घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं।

किसी भी अन्य स्वास्थ्य समस्या की जानकारी के लिए आप हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके एक्सपर्ट डॉक्टर से परामर्श पा सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.