दर्द से बदन तोड़ देता है टाइफाइड, जानें घरेलू उपाए

शेयर करें

टाइफाइड बुखार एक संक्रमण है, जो बासी भोजन और दूषित पानी की वजह से भी फैलता है. इसे मियादी बुखार के रूप में भी जाना जाता है. टाइफाइड बच्चों से लेकर बड़ों तक किसी को भी अपनी चपेट में ले सकता है. हालांकि इसे एंटीबायोटिक दवाओं के जरिए ठीक किया जा सकता है, लेकिन अगर सावधानी न बरती जाए तो यह आपके शरीर के घातक हो सकता है. आइए जानते है टाइफाइड के लक्षण और उपाए को…

टाइफाइड के लक्षण

  • टाइफाइड के दौरान मरीज के शरीर मैं मरीज के पूरे शरीर में दर्द रहता है इस दर्द के कारण बेचैनी भी हो सकती है.
  • टाइफाइड में तेज बुखार होता है यह बुखार 104 डिग्री फारेनहाइट से भी ज्यादा हो सकता है.
  • इस बीमारी में भूख न लगने की भी समस्या देखी जाती है इसलिए टाइफाइड के दौरान कुछ भी खाने का मन नहीं करता है.
  • इस बीमारी में दस्त जैसी समस्याएं भी देखी जाती हैं. दस्त रहने के कारण आपके पुरे शरीर में डिहाइड्रेशन यानी पानी की कमी भी हो जाती है.
  • सर में दर्द का होना भी टाइफाइड के कई कारणों में से एक है. इस बीमारी में सरदर्द होना या सर भारी रहना आम बात है.
  • इस दौरान होने वाली कई परेशानियों में एक है आलस रहना. यानी कि टाइफाइड में आपके पूरे शरीर में आलस रहता है. आपका मन स्वस्थ रहेगा और कुछ भी करने का मन नहीं करता है
  • इस बुखार की स्थिति में कई लोगों के छाती में कफ जमा हो सकता है. इस दौरान छाती में कफ़ जमा हो जाने से भी कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं.
  • इस बुखार में आपके अंदर पेट दर्द की भी समस्या देखी जा सकती है. इस दौरान आपके पेट में लगातार दर्द रह सकता है.
-Medcords -health -of -whole -family.

टाइफाइड में कैसे करें बचाव

  • इस बुखार में ज्यादा से ज्यादा पानी को उबाल कर पीएं. अधिक पानी पीने से शरीर का जहर पेशाब और पसीने के रूप में शरीर से बाहर निकल जाता है.
  • लहसुन की कली 5-10 ग्राम तक काटकर तिल के तेल में या घी में तलकर सेंधा नमक डालकर खाने से भी टाइफाइड बुखार ठीक हो जाता है.
  • टाइफाइड में शरीर का तापमान काफी बढ़ जाता है. ऐसे में माथे पर ठंडे पानी का कपड़ा रखें तो बुखार उतर जाता है और बुखार की गर्मी सिर पर नहीं चढ़ती है.
  • टाइफाइड बुखार को ठीक करने के लिए मरीज को पुदीना और अदरक का काढ़ा पीने के लिए दें. इस बात का ध्यान रखें कि काढ़ा पीने के बाद मरीज घर से बाहर ना निकले.
  • तुलसी और सूरजमुखी के पत्तों का रस पीने से भी टाइफाइड बुखार जल्दी ठीक हो जाता है.
  • इस बुखार में केला,चीकू,पपीता,सेब, मौसमी और संतरा का सेवन करें. फल खाने की बजाए आप इनका जूस भी पी सकते हैं.
  • दही का मट्ठा यानि लस्सी टाइफाइड में काफी फायदेमंद होती है. इस बुखार को दूर करने के लिए आप लस्सी में थोड़ा सा धनिए का रस मिलाकर भी पी सकते हैं.

टाइफाइड में क्या खाएं?

कमजोर पाचन और भूख नहीं लगने के कारण टाइफाइड के दौरान वजन कम होने लगता है. इसलिए आपको अधिक मात्रा में प्रोटीन और कार्बोहाईड्रेट युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करना चाहिए.

पेय पदार्थों को सेवन करें

टाइफाइड के दौरान अधिक पसीना होता है और उल्टी भी होता है जिस कारण शरीर हाईड्रेटेड हो जाता है. ऐसे में आपको अधिक मात्रा में पानी या पेय पदार्थो का सेवन करना चाहिए ताकि आपके शरीर को ऊर्जा मिल सके.

हल्का भोजन करें

टाइफाइड पूरे शरीर के साथ-साथ डाइजेस्टिव सिस्टम को भी प्रभावित करता है जिस वजह से खाने का पचाना थोड़ा मुश्किल हो जाता है. इसलिए आपक ऐसे खाद्य पदार्थो का सेवन करें जिसे आसानी से पचाया जा सके.

साफ-सफाई का रखें ध्यान

से निपटने के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए. कुछ भी खाने से पहले या बाद में, शौचालय जाने के बाद हाथ अवश्य धोएं. भोजन को ढककर रखें और साफ पानी का ही प्रयोग करें. यह बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलने का डर बना रहता है, इसलिए अगर मरीज घर पर हो तो उसे अन्य व्यक्तियों से थोड़ा दूर ही रखें.

मेडकॉर्ड्स है आपका सहायक

टाइफाइड से अगर आप भी परेशान है और अनुभवी डॉक्टरों की तलाश है तो आज ही मेडकार्ड्स के टोल फ्री नंबर +91-781-681-1111 पर कॉल करें और नज़दीकी सेहत साथी के पास जा कर एक्सपर्ट डॉक्टर से सलाह लें. याद रहे की लक्षण गंभीर होने पर घरेलु इलाजों पर निर्भर न रहें और जल्द से जल्द डॉक्टर से सलाह लें.

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.