मन को स्वस्थ और शांत रखने के लिए जरूरी है ध्यान, जानें तरीका

Peace of mind through meditation

अगर आप ध्यान का प्रयास करते है, लेकिन कई बार आप ध्यान सही से नहीं कर पाते और कई तरह के विचार आपके मन में आते हैं, तो सबसे पहले आपको ध्यान कैसे करना चाहिए इस पर ध्यान देना चाहिए।

मन को स्वस्थ रखने के तरीके (Ways to keep your mind healthy):

  • जरूरतमंद लोगों की सेवा करें: जिन लोगों को मदद की आवश्यकता होती है, उनके लिए जब आप हाथ बढ़ाते है तब आपको संतुष्टि मिलती है। जब आप ऐसे लोगों के पास जाते हैं, जिन्हें सहायता की आवश्यकता है,
  • तब आपको खुशी महसूस होती है और आपके अंदर एक सकारात्मक ऊर्जा (Positive energy) का प्रवाह होता है। जब आप सेवा करते हैं और किसी व्यक्ति के चेहरे पर मुस्कान लाते हैं, तब आपको बहुत अच्छी तरंगें और आशीर्वाद मिलता है। सेवा करने से योग्यता आती है और इस योग्यता से आपको ध्यान में अच्छे अनुभव होते हैं।

यह पढ़ें: योग से दूर होगा माइग्रेन , जानें माइग्रेन के कारण, लक्षण और उपचार

  • मौन की गूँज सुनें: जब आप सूर्योदय को देखें, तो अपनी दृष्टि को शांत आकाश की ओर रखें। यह करते हुए, आप अपने भीतर गहरे मौन, उदय होते हुए सूर्य के साथ एकता और प्रातः काल की शांति को महसूस करें। स्थिरता और मौन के कुछ क्षणों में आप प्रकृति के सौन्दर्य में डूब जाते है और स्वयं को भूल जाते हैं।
  • इन क्षणों की व्याख्या शब्दों में नहीं की जा सकती। इन क्षणों में बाहरी सौंदर्य को देखते हुए, आप अपने भीतर के सौन्दर्य को देख पाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि मौन से, मन में विचार कम आते हैं और मन स्थिर हो जाते हैं।
  • अधिकतर समय, हमारा मन बड़बड़ में व्यस्त रहता है और हम जानकारी जुटाने में व्यस्त रहते हैं। इससे हमारे मन में बहुत अधिक विचार आते हैं और मन पर घटनाओं की छाप पड़ने लगती है। जब आप मौन होते हैं, तो आपके मन की गति धीमी हो जाती है और आप गहरे ध्यान में चले जाते हैं।

यह पढ़ें: Mental Health: कैसे रखें खुद को मानसिक रूप से मजबूत

  • नियमित योगाभ्यास करें: कभी-कभी ध्यान करते समय आपको बहुत बेचैनी होती है और आप गहरे ध्यान में नहीं जा पाते। इसका कारण यह है कि लंबे समय तक कार्य करने से आपके शरीर में अकड़न और दर्द होने लगता है। जिससे आपको बेचैनी होती है। योगासनों को करने से आपके शरीर की अकड़न चली जाती है और आपकी बेचैनी समाप्त हो जाती है। इससे आपका मन स्थिर हो जाता है और आपको आपके ध्यान में गहराई का अनुभव होता है।
  • संतुलित आहार की आदत डालें: उन दिनों के बारे में सोचें,जब आपने तला हुआ और मांसाहारी भोजन करने के बाद ध्यान किया और फिर उन दिनों के बारे में सोचें, जब आपने हल्का और स्वास्थ्यवर्धक भोजन करने के बाद ध्यान किया था। आप इस बात पर ध्यान दें कि इन दोनों ही अवस्थाओं में ध्यान करने की गुणवत्ता में बहुत अधिक भिन्नता है। इसका कारण है आपके भोजन का आपके मन की अवस्था पर सीधा प्रभाव पड़ना।
  • सत्संग को अपनी जीवनशैली में शामिल करें: यह एक माना हुआ तथ्य है कि भिन्न-भिन्न  प्रकार का संगीत सुनने से अलग-अलग तरह की भावनाएं उत्पन्न होती हैं। हम लगभग 90% आकाश तत्व के बने हैं। इसलिए हमारे ऊपर संगीत का गहरा प्रभाव पड़ता है। सत्संग में गाने से भावनाओं की शुद्धि होती है और आप अपने भीतर विस्तार की भावना को महसूस करते हैं।
  • प्रतिदिन ध्यान करने का समय सुनिश्चित कर लें: अनुशासन रखना और अपने अभ्यास का सम्मान करना गहरे ध्यान का अनुभव करने की कुंजी है। प्रतिदिन एक निश्चित समय पर लगातार ध्यान करने से गहरे ध्यान का मार्ग खुल जाता है।

मन को शांत कैसे रखें (How to keep your mind peaceful):

गहरी सांस लेने की एक्सरसाइज करें: जब आपको महसूस हो कि मन अशांत हो गया है या दिमाग तनाव से ग्रस्त है तो आपको गहरी सांस लेने की कोशिश करनी चाहिए। यह व्यायाम आपके मन को आराम पहुँचाने में फायदेमंद है। अगर आप इस व्यायाम को रोजाना दोहराएंगे तो आपके लिए फायदेमंद होगा। मन को शांत करने के लिए आप निम्नलिखित तरीकों से ब्रीदिंग एक्सरसाइज कर सकते हैं –

  • सबसे पहले अपने मुंह को बंद करें और नाक से गहरी सांस लें। सांस लेने के बाद सात सेकेंड के लिए सांस को ऐसे ही रोक कर रखें। फिर जब सांस छोड़ें तो सात की गिनती गिनते हुए सांस छोड़ना शुरू करें। आप खुद भी समय में बदलाव कर सकते हैं।
  • इस व्यायाम को इसी तरह चार बार दोहराएं।
  • प्रत्येक सांस की प्रक्रिया के बीच कुछ सेकेंड या मिनट का अंतराल रखें। 

मन को शांत के लिए मेडिटेशन करें: मन को शांत करने के लिए मेडिटेशन करें। मेडिटेशन आपके दिमाग और मन को शांत करने के लिए बहुत फायदेमंद है। आप आराम से बैठकर किसी वस्तु, जगह, रंग, शब्द आदि पर ध्यान केंद्रित करें।

मेडिटेशन करने के लिए आप शांत जगह ढूंढे और कम से कम दस मिनट तक मेडिटेशन करें। मेडिटेशन करते समय इस बात को सुनिश्चित करें कि आप सकारात्मक सोच रखें। मेडिटेशन से आपको नकारात्मक सोच से छुटकारा मिलता है और आप बेहतर महसूस करते हैं। 

किसी शांत दृश्य पर अपना ध्यान केंद्रित करें: किसी दृश्य पर ध्यान केंद्रित करने से आपका दिमाग शांत होता है। यह तकनीक मेडिटेशन के समान है, लेकिन इसमें भी फर्क है। किसी शब्द या विचार को सोचने की जगह केवल शांति या खुशी देने वाले दृश्य पर ध्यान दें।

जैसे: आप सुबह उठे और कई साल से आप जिस दोस्त से नहीं मिले उसे देखकर आप खुशी से झूम उठे। इसी तरह के सकारात्मक दृश्यों के बारें में दस मिनट तक सोचें। इस तरह आपका मन व दिमाग शांत होगा और रिलैक्स महसूस करेगा।

रोजाना व्यायाम करें: व्यायाम तनाव को कम करने का अच्छा तरीका है। व्यायाम करने से एंडोर्फिन (endorphin) नामक हॉर्मोन जारी होता है, जो खुश रखता है। आप बाहर या जिम में व्यायाम करने की जगह घर में आधा घंटा व्यायाम करें।

लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि जो व्यायाम आप कर रहे हो उसमें मजा आना चाहिए। व्यायाम जैसे वेट लिफ्टिंग, कोई भी खेल, स्विमिंग आदि। रोजाना अलग-अलग तरह के व्यायाम करने की कोशिश करें।

दिमाग को शांत करने का तरीका (Ways to keep your mind peaceful): 

पसंदीदा गतिविधियां करें: हर किसी के अलग-अलग प्रकार के शौक होते हैं जैसे खाना पकाना, खेल खेलना, किताबें पड़ना, पेंटिंग करना आदि। इस प्रकार के शौक रखने से मन शांत रहता है और इधर-उधर की बातों के बारें में नहीं सोचता।

इसके अलावा आप पसंदीदा गाने भी सुन सकते हैं। अगर आपको जानवरों के साथ खेलना पसंद है तो आप घर में जानवर पाल सकते हैं। इससे आप कभी भी बोरिंग महसूस नहीं करेंगे और मन व दिमाग भी नकरात्मक बातों से दूर रहेगा।

प्रकृति के साथ वक़्त बिताएं: दिमाग को शांत करने के लिए बाहर जाएं और हरी-भरी प्रकृति को देखकर शांति महसूस करें। जब आप शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं। अपने आसपास के पार्क में जाकर पेड़-पौधों को देखें, इसके अलावा आप खुद अपने पसंदीदा पौधों को घर या अपने आसपास के पार्क में लगा सकते हैं। सुबह-सुबह जल्दी उठकर प्रकृति को देखने से मन हमेशा शांत और अच्छा महसूस करता है। सुबह-सुबह रोज जल्दी उठने की आदत डालें।

मन शांत करने के लिए नहाएं: दिमाग व मन को शांत करने के लिए नहाएं। मन को काबू करने के लिए बाथिंग (नहाना) बहुत अच्छा है। कई तरह के लाभ पाने के लिए आप नहाने के पानी में तेल भी मिला सकते हैं। इससे आपको नहाने में ज्यादा मजा आएगा साथ ही मजेदार गाना सुनकर भी आप नहाने का मजा ले सकते है। नहाने का पानी थोड़ा गुनगुना रखें जिससे आपकी शरीर की मांसपेशियों और नसों को आराम मिलेगा। 

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है।अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐप डाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ  डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.