40 की उम्र के बाद सेहत पर ध्यान देने वाली बातें | Daily Health Tip | Aayu App

sehat

बढ़ती उम्र के साथ आपके शरीर में विटामिन, मिनरल, कैल्शियम की कमी होने लगती है इसलिए भोजन में इन पोषक तत्वों से भरपूर चीज़ें खाएं जैसे पालक आदि।

With increasing age, your body starts getting deficient in vitamins, minerals and calcium, so eat nutrients rich foods like spinach.

Health Tip for Aayu App

उम्र बढ़ने का असर आपकी त्वचा, सेहत और क्षमता पर पढ़ता है। ऐसे शरीर की सेहत संबंधी जरूरतें बदलने लगती है। 40 की उम्र के बाद स्वास्थ्य समस्याएं बढ़ने लगती है, इसलिए सेहत के लिए ये 10 टिप्स जरूरी है।

  • चालीस की उम्र के बाद छोटी- छोटी बातों का तनाव और चिड़चिड़ापन होने लगता है साथ ही दिमाग भी कमजोर होने लगता है। इसके लिए योगा, व्यायाम, मेडिटेशन, संगीत को अपनी दिनचर्या में शामि‍ल करें साथ ही वह काम करें जिसे करने में आपको आनंद मिलता है और जिसमें आपका मन लगता है।
  • बढ़ती उम्र के साथ-साथ शरीर में विटामिन, मिनरल्स, कैल्शियम, आयरन और एंटीआक्सीडेंट की कमी महसूस होने लगती है इसलिए भोजन में ऐसी चीजों को ज्यादा शामिल करें, जो इन सभी पोषक तत्वों की आपूर्ति कर सकें।
  • इस समय आपके शरीर के सभी अंगों और मांसपे‍शि‍यों को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है, इसलिए खान-पान को बैलेंस रखें ताकि आपका लिवर सुरक्षित रहें और शरीर से विषैले तत्व बाहर निकल सकें।
  • बढ़ती उम्र के अनुसार आप अपने भोजन में अत्यधिक तेल व मसालों का सेवन कम कर दें और संतुलित मात्रा में ही इसका प्रयोग करें, ताकि आपकी पाचन क्रिया बेहतर रहें और शरीर के अंगों को कार्य करने में अत्यधिक मेहनत ना करनी पड़े।
  • चालीस से अधिक उम्र वालों के लिए एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार लेना बहुत आवश्यक है। इसलिए हरी सब्जियाँ, वेजिटेबल जूस, सलाद, फल, ग्रीन-टी आदि का सेवन अवश्य करें।
  • अत्यधि‍क गुस्सा और चिंता करने से बचें, साथ ही शारीरिक श्रम भी उतना ही करें, जितना आपके स्वास्थ्य के लिए सही हो। अत्यधिक परिश्रम करने से बचें।
  • साबुत अनाज को अपने भोजन में शामिल करें और फलों का भरपूर सेवन करें।
  • भोजन बनाते समय ओमेगा-3, ओमेगा-6 फैटी एसिड युक्त तेल का प्रयोग करें। इसके अलावा बादाम, अलसी, तिल के बीज, मूंगफली और अखरोट का प्रयोग करें, इसमें ओमेगा-3 पाया जाता है और कोलेस्ट्रॉल फ्री होते हैं।
  • 40 से अधि‍क उम्र होने पर, आप अपनी आदतों और दिनचर्या में बदलाव लाएं। इस अवस्था में आपका शरीर उतना स्वस्थ और उर्जावान नहीं होता। अपने खान-पान और दिनचर्या में बदलाव कर आप उर्जा के साथ ही लंबी उम्र भी पा सकते हैं।
  • घर पर बने पौष्टिक सूप आपकी सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। भोजन के बीच में भूख लगने पर आप इनका सेवन कर सकते हैं।

40 की उम्र के बाद ध्यान रखने वाले टिप्स:

  • ऐसी अवस्था में व्यक्ति को आसानी से पच जाने वाले आहार का सेवन करना चाहिए जैसे कि आसानी से अवशोषित होने वाले, छोटे-छोटे टुकड़ों में लगातार भोजन लें।
  • शक्कर, मीठे पेय पदार्थ,अनडाइल्यूटेड जूस की बजाए फलों का सेवन करें साथ ही आहार में तरल पदार्थ शामिल करें, क्योंकि वह आपको हाइड्रेटेड रखते हैं और पाचन बेहतर करते हैं।
  • आहार में प्याज, अदरक, लहसुन, नींबू, जीरा, कैरम बीज, मेथी के बीज, बादाम, अखरोट, नारियल पानी को शामिल करें, क्योंकि ये मांसपेशियों के लचीलेपन के लिए अच्छे होते हैं, सूजन को रोकते हैं और स्वस्थ रक्तचाप बनाए रखने में योगदान देते हैं।
  • आहार में साबुत अनाज और दालों का इस्तेमाल करें।
  • ऐसे आहरों को प्राथमिकता दें जिनमें फाइबर संतुलित हो।
  • वसा को आहार से पूरी तरह से समाप्त करने की आवश्यकता नहीं है, जब तक किसी का हृदय ब्लॉक या हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया ना हो।
  • रात के खाने के कुछ देर बाद आप दूध लें सकते हैं।
  • नमक खाने की मात्रा में बदलाव या उसे तभी प्रतिबंधित करना चाहिए, जब किसी को उच्च रक्तचाप हो या उच्च स्तर पर सीरम सोडियम हो।
  • कॉटेज पनीर में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता अगर यह टोंड दूध से बना है और एक बहुत ही स्वस्थ विकल्प है।
  • इस उम्र में प्रोटीन से बचने का कोई कारण नहीं है, क्योंकि ऊतक की मरम्मत के लिए प्रोटीन आवश्यक है, रात में दालों से परहेज एक तरह का मिथक है।

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published.