महिलाओं में रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज) के लक्षण क्या-क्या है? | Daily Health Tip | Aayu App

Menopause Symptoms

लगभग 45 से 50 उम्र की महिलाओं में पीरियड्स आने बंद हो जाते हैं। पीरियड्स बंद होने से खून में असंतुलन के कारण बॉडी में हीट बढ़ता है। इस दौरान औरतों को बहुत गर्मी लगती है. दिल की धड़कन भी बढ़ जाती है. बहुत पसीना आता है। ऐसा होने पर तुरंत चिकित्सक से परामर्श करें।

” In women, the menstrual cycle usually stops between the ages of 45–50, known as menopause. Body heat increases due to imbalance in blood. Women feel very hot, sweat a lot. In this case, consult a specialist doctor immediately.

Health Tip for Aayu App

क्या आप रजोनिवृत्ति (Menopause) के बारे में जानती है। यह अवस्था हर महिला के जीवनकाल में आती है। महिलाओं में मासिक धर्म चक्र (Menstrual Cycle) जब पूरी तरह बंद हो जाता है उस स्थिति को रजोनिवृत्ति (Menopause) कहते है। एक ओर ध्यान देने वाली बात यह है कि रजोनिवृत्ति (Menopause) के बाद महिलाऐं माँ बनने की क्षमता खो देती है दूसरी भाषा में रजोनिवृत्ति (Menopause) के बाद महिलाऐं माँ नहीं बन सकती। महिलाओं के लिए शरीर की यह अवस्था उनकी शारीरिक और मानसिक स्थिति में बहुत बदलाव लाती है। आइये आपको बताते है रजोनिवृत्ति (Menopause) के लक्षण (Menopause Symptoms).

रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज )क्या है?

रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज) में मासिक धर्म का चक्र टूटता है और महिलाऐं इसके बाद प्रेग्नेंट नहीं हो पाती। उम्र के बढ़ने के साथ रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज) होना सामान्य हो जाता है ऐसा इसलिए क्योंकि फीमेल सेक्स हार्मोन का फंक्शन उम्र के साथ कमजोर होने लगता है। अंडाशय ,अंडा निष्कासित करना बंद कर देता है, इससे पीरियड्स भी नहीं होता। इसका मतलब ये नहीं होता कि अचानक आपके पीरियड्स आने बंद हो जाएंगे। ये प्रक्रिया धीरे-धीरे होती है और जब पूरी तरह मेनोपॉज का समय आता है तब पीरियड्स होना बिल्कुल बंद हो जाता है। जब तक पीरियड्स बंद नहीं होते, गर्भवती बनने की संभावना बनी रहती है।

रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज) क्यों होती है?

अधिकतर महिलाओं में मासिक धर्म के आखिरी तारीख के लगभग चार साल पहले से रजोनिवृत्ति के लक्षण दिखाई देने लगते है। कुछ महिलाओं को मेनोपॉज होने के एक साल पहले ही इसके लक्षण नजर आते है। इन लक्षणों का दिखना महिलाओं की शारीरिक स्थिति पर निर्भर करता है। रजोनिवृत्ति होने के कई साल पहले से शरीर एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन का निष्कासन करना धीरे-धीरे कम करने लगता है। यह हार्मोन मासिक धर्म होने और गर्भधारण करने में मदद करते है। इसके कमी से पीरियड्स होना बंद हो जाता है और माँ बनने की क्षमता भी खत्म होने लगती है।

रजोनिवृत्ति(मेनोपॉज) के लक्षण:

महिलाओं में रजोनिवृत्ति के लक्षण (Menopause Symptoms) धीरे-धीरे आते है।

रजोनिवृत्ति (Menopause) से जुड़े ज्यादातर लक्षण पेरिमेनोपॉज की अवस्था के दौरान महसूस होने लगते है। इस अवस्था में कुछ महिलाओं को कष्ट होता है कुछ को नहीं।

शुरूआती लक्षण:

  • अनियमित मासिक धर्म: नियमित मासिक धर्म के चक्र में परिवर्तन आना
  • हॉट फ्लाश महसूस होना: अचानक बहुत ज्यादा गर्मी लगना
  • रात में पसीना आना: गर्मी ना होने पर भी रात को नींद में बहुत ज्यादा पसीना आना

इसके साथ और भी कई लक्षण है:

  • मूड का बदलना
  • अवसाद (डिप्रेशन)
  • चिड़चिड़ापन
  • चिंता
  • नींद ना आना
  • एकाग्रता की कमी (कंसन्ट्रेशन में प्रॉब्लम)
  • थकान
  • सिरदर्द

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published.