डायबिटीज के लक्षण और इसके बचाव | Daily Health Tip | 4 March 2020 | AAYU App

diabetes symptoms and its prevention

” तुरई खून साफ करती है, ब्लड शुगर 🍬को नियंत्रित करती है और पेट के लिए अच्छी मानी जाती है। ”

Sponge Gourd cleans your blood, maintains blood sugar 🍬 level and also considered good for Stomach. “

Health Tips for Aayu App

क्या है डायबिटीज:

शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाने को डायबिटीज कहा जाता है। यह इंसुलिन की कमी के कारण होता है। इंसुलिन एक हार्मोन है जो हमारे शरीर में खाने को ऊर्जा में बदलता है साथ ही इंसुलिन हमारे शरीर में शुगर की मात्रा को कंट्रोल करने में मदद करता है।

 क्यों होती है डायबिटीज:

ज़्यादा मीठा खाना:

ज्यादा मीठे का सेवन करने से डायबिटीज का खतरा बढ़ सकता है इससे शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ जाती है।

पानी की कमी:

कम पानी पीने से शरीर में शुगर का लेवल बढ़ सकता है जिससे डायबिटीज हो सकती है।

मोटापा हो सकता है कारण: 

मोटापा डायबिटीज का एक कारण है, वजन बढ़ने से हमारे शरीर में बीमारियां बढ़ने लगती है।

व्यायाम न करना:

व्यायाम न करने से शरीर में इंसुलिन का लेवल बढ़ जाता है। डॉक्टर भी रोजाना एक्सरसाइज करने की सलाह देते है।

कम नींद लेना: 

आजकल की जीवनशैली में हम लोग देर तक जागते है और सुबह जल्दी उठ जाते है जिससे हमारी नींद पूरी नहीं हो पाती और हम डायबिटीज जैसी बीमारियों के शिकार हो जाते है।

हेल्दी डाइट न लेना:

ज़्यादा जंक फूड खाना और तला हुआ खाना डायबिटीज का कारण बनता है। ज़्यादा देर से भी इसे ना खाएं।

Health Tips

डायबिटीज के लक्षण:

ज़्यादा थकान होना:

डायबिटीज में आप खुद को थका हुआ महसूस करेंगे तरोताजा होने पर भी आपको थकान लगेगी इसका मतलब आपको डायबिटीज है।

प्यास ज़्यादा लगना: 

अगर आपको ज्यादा प्यास लग रही है तो आपके शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ रही है जो डायबिटीज का कारण बन सकता है।

वजन कम होना:

अगर आपका वजन तेजी से कम हो रहा है और आप खुद को थका हुआ महसूस कर रहे है तो यह डायबिटीज के लक्षण है।

ज़्यादा भूख लगना:

ज़्यादा भूख लगने के साथ-साथ आपको सर्दी-खांसी जुकाम रहता है तो आपको डायबिटीज हो सकता है।

डायबिटीज से बचाव:

तनाव मुक्त रहना:

जब भी आपको तनाव, टेंशन या स्ट्रेस हो तो ब्रेक लेकर अपनी सांस पर ध्यान दें। अपनी आंखों को बंद करके एक हाथ को नाभी पर रखें और दूसरे हाथ से नाक के एक छिद्र को बंद कर लें। अब धीरे-धीरे सांस छोड़ें और दोबारा सांस लेकर उसे फिर धीरे-धीरे छोड़े। इससे आपका सारा स्ट्रेस गायब हो जाएगा। स्ट्रेस लेवल बढ़ने पर बॉडी के शुगर लेवल पर भी असर पड़ता है। स्ट्रेस कंट्रोल करने के लिए योग का सहारा लें।  

वर्कआउट करें:

दिन में कम से कम तीस मिनट व्यायाम करें. इसेआप दिन भर में 10-10 मिनट के तीन हिस्सों में बांटकर भी कर सकते है।

खूब पानी पिएं: 

डायबिटीज के मरीज को अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए। डायबिटीज के मरीज में तरल पदार्थों की कमी हो जाती है जिसकी कमी को आप अधिक मात्रा में पानी पीकर पूरा कर सकते है। इससे आपकी त्वचा स्वस्थ रहेगी और साथ ही उसमें नमी भी बरकरार रहेगी।

बादाम खाएं:

बादाम खाने से शरीर में ग्लुकोज का स्तर सामान्य रहता है। बादाम ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है। रोजाना बादाम के सेवन से शरीर में मैग्नीशियम की कमी भी दूर होती है। टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों के लिए बादाम का सेवन बेहद फायदेमंद है।

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.