रात में खर्राटे लेने को ना करें नजरअंदाज | Daily Health Tip | Aayu App

Obstructive Sleep Apnea in hindi

अगर आपको रात में खर्राटे आते हैं तो आपको ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया की शिकायत हो सकती है। इससे बचने के लिए नियमित रूप से मुंह और गले के व्यायाम असरदार होता है।

If you snore at night while sleeping, It may be a symptom of Obstructive sleep apnea. Regular mouth and throat exercises can help you avoid this.

Health Tip for Aayu App

स्लीप एपनिया (Sleep Apnea) नींद से जुड़ी एक गंभीर समस्या है। हम आपको यहाँ पर स्लीप एपनिया के एक प्रकार ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया (Obstructive Sleep Apnea in Hindi) के बारे में बताएंगे।

पहले जानते है स्लीप एपनिया में क्या होता है? आपको बता दें इस बीमारी में सोते समय 10 सेकंड के लिए सांस रुक जाती है। इससे रक्त में ऑक्सीजन का स्तर गिरता है और कुछ सेकंड में मस्तिष्क मांसपेशियों को संकेत देने में विफल हो जाता है यानि मस्तिष्क ना के बराबर हो जाता है। रात में कई बार यह समस्या होती है। सुबह के वक्त यह समस्या ज्यादा होती है।

स्लीप एपनिया के प्रकार:

ऑब्स्ट्रक्टिव स्लीप एपनिया (Obstructive sleep apnea in Hindi):

यह सबसे सामान्य प्रकार का स्लीप एपनिया है। ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया (Obstructive Sleep Apnea in Hindi) तब होता है जब नींद में गले की मांसपेशियों की शिथिलता के चलते श्वसन मार्ग आंशिक या पूर्ण रूप से अवरुद्ध होने लगता है। इससे अक्सर लोग ज्यादा जोर से खर्राटे लेते है।

सेंट्रल स्लीप एपनिया (Central Sleep Apnea):

यह स्लीप एपनिया कम पाया जाता है। इसमें मस्तिष्क सांस लेने को नियंत्रित करने वाली मांसपेशियों को संकेत देने में विफल रहता है। इससे ग्रस्त लोग भी खर्राटे लेते है। इसमें सेंट्रल नर्वस सिस्टम प्रभावित होता है।

कांपलेक्स स्लीप एप्निया (Complex sleep apnea):

यह ऑब्स्ट्रक्टिव स्लीप एपनिया और सेंट्रल स्लीप एपनिया का मिला-जुला रूप होता है।

ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया के लक्षण:

  • दिन में नींद आना
  • जोर से खर्राटे लेना
  • नींद के समय साँस लेने में कठिनाई होना
  • अचानक जग जाना
  • गले में खराश
  • सुबह सिरदर्द होना
  • ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होना
  • मूड में बदलाव आना
  • उच्च रक्तचाप
  • रात में पसीना आना
  • सेक्स करने में अनिच्छा होना

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published.