fbpx

सीताफल के फायदे और नुकसान

सीताफल के फायदे और नुकसान

सीताफल (custard apple in hindi) को शरीफा भी बोला जाता हैं। इसका स्वाद दूसरे फलों से अलग होता है। ऊपर से दिखने में यह खुरदुरा दिखता है लेकिन अंदर से यह सफेद रंग का दिखता है और मुलायम भी होता है। यह बहुत मीठा और स्वादिष्ट फल है।

सीताफल शरीर को स्वस्थ बनाता है और कई तरह की बिमारियों से बचाता है। आइये सीताफल के फायदे और नुकसान भी जानते है। इसका प्रयोग कई रोगों के इलाज में किया जाता है।

सीताफल क्या है (What is Sitafal)?

सीताफल (shareefa fruit) को शरीफा भी कहा जाता है। यह गोल आकार का फल होता है। फल के अंदर का हिस्सा गुदा से भरा होता है। सीताफल के बीज चिकने, चमकीले, भूरे-काले रंग के होते हैं। जब सीताफल कच्ची अवस्था में होता है, तब यह थोड़ा पीला, और हरा रंग का होता है। सीताफल  का इस्तेमाल कफ को ठीक करने के लिए, खून की मात्रा को बढ़ाने के लिए, उल्टी, दांत के दर्द से आराम दिलाता है।

सीताफल के फायदे (Benefits of Sitafal):

अब तक आपने जाना कि सीताफल क्या है, पूरी दुनिया में इसे किस-किस नामों से पुकारते हैं और आपके लिए यह कितना महत्वपूर्ण है? अब जानते हैं कि सीताफल एक औषधि के रूप में किस-किस बीमारियों में प्रयोग में लाया जा सकता है?

दस्त दूर करने में फायदेमंद (Benefit to get rid from constipation)

दस्त पर रोक लगाने के लिए सीताफल का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए शरीफा के वृक्ष के तने का काढ़ा बना लें। इसे 15-30 मिली मात्रा में पिएँ। यह दस्त से बचा सकता है।

सीताफल के प्रयोग से प्रसूता स्त्री को लाभ (Sitaphal is Beneficial in Post Pregnancy Problem in Hindi)

माँ बनने के तुरंत बाद महिलाओं को कई तरह की परेशानियाँ होती है। ऐसे समय में आपके लिए सीताफल फायदेमंद होगा। महिलाऐं 1-2 ग्राम शरीफा की जड़ के चूर्ण का सेवन करें। इससे प्रसूता संबंधित परेशानियों में लाभ मिलता है।

रोम छिद्र की बीमारी में शरीफा के उपयोग से फायदा (Benefit to Treat Skin Disease)

आपकी त्वचा को स्वस्थ रखने में छिद्र की अहम भूमिका होती है। जब रोम छिद्र किसी विकार से ग्रस्त होते हैं, तो त्वचा को इसका नुकसान झेलना पड़ता है। रोम छिद्र विकार को ठीक करने के लिए सीताफल (seetafal) के पत्ते का पेस्ट बना लें, और लेप लगाएं। इससे त्वचा के घाव, त्वचा पर होने वाली सूजन, और रोम छिद्र की बीमारी में लाभ होता है।

बुखार में फायदेमंद (Benefits in fever)

ठंड लगकर बुखार आता हो, तो सीताफल (seetafal) के तीन पत्तों को नमक के साथ पीसकर पेस्ट बना लें। इसका सेवन करें। इससे सर्दी वाला बुखार ठीक होता है।

कफ में फायदेमंद (Benefit in cough)

कफ होना बहुत साधारण बात है। सीताफल के उपयोग से कफ ठीक होता है। सर्दी-जुकाम, या कफ से परेशान लोग सीताफल के तने को चबाएं। इससे सर्दी-जुकाम,और कफ में आराम मिलता है।

गुदाभ्रंश (गुदा से कांच निकलने) में फायदेमंद (Benefit in Anal Fissures)

गुदाभ्रंश गुदा के फैल जाने की स्थिति को कहते हैं। जब कोई व्यक्ति कब्ज या मल के सूख जाने की परेशानी से पीड़ित होता है, तो मल त्यागने के समय उसे जोर लगाना पड़ता है। इससे मल के साथ-साथ गुदा के अंदर वाला मुलायम हिस्सा भी बाहर निकल जाता है। इसे ही गुदाभ्रंश कहते हैं।

इस रोग को गुदा का चिर जाना, या गुदा से कांच निकलना भी कहा जाता है। हालांकि यह बीमारी किसी को भी हो सकती है, लेकिन बच्चों में अधिक देखी जाती है। इस रोग के कारण गुदा द्वार पर सूजन हो जाती है। इसमें सीताफल (seetafal) के इस्तेमाल से बहुत फायदा मिल सकता है। ऐसी बीमारी में सीताफल के पत्तों का काढ़ा बनाकर गुदा पर लगाएं।

गांठ की परेशानी में फायदेमंद (Benefit in Lump Problems)

सीताफल का फायदा गांठ की बीमारी में भी होता है। गांठ होने पर लोग पके हुए सीताफल को कूटकर, नमक मिला लें। इससे लेप करने से लाभ होता है।

सीताफल के नुकसान (Side Effects of Sitafal):

जब आप सीताफल का प्रयोग जूं को खत्म करने के लिए करते है तो, इस बात का पूरा ध्यान रखें कि सीताफल आपकी आंखों में ना जाए। आँखों में जाने से आपकी आँख खराब हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है।अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐप डाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ  डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है। 

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (2)
  • comment-avatar
    कुमार श्याम 1 month

    सीताफल की खेती के बारे में जानकारी”. दीजिए

    • comment-avatar

      कुमार श्याम जी, आयु ऐप एक हेल्थ केयर ऐप पर आप यहां स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आयु ऐप डाउनलोड करके आप घर बैठे किसी भी बीमारी के लिए एक्सपर्ट डॉक्टरों से बात कर सकते हैं और घर बैठे दवाईयाँ भी मंगवा सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए -781681-11-11 पर कॉल करें।

  • Disqus ( )