सौंफ रखेगा सेहतमंद, जानें सौंफ के इस्तेमाल का तरीका

सौंफ खाने के फायदे Fennel Seeds

Benefits of fennel seeds: सौंफ (fennel seeds) हर भारतीय व्यंजन को जायकेदार और स्वादिष्ट बनाने के काम आता है और यह हर घर में आसानी से मिल भी जाता है।

सौंफ (fennel seeds) में विटामिन सी (Vitamon-C) की जबर्दस्त मात्रा है और इसमें आवश्यक खनिज भी हैं जैसे कैल्शियम, सोडियम, फॉस्फोरस, आयरन और पोटेशियम। सौंफ के और क्या- क्या फायदे होते हैं आइए जानते हैं?

1. सौंफ खाने का सही तरीका – Saunf khane ka sahi tarika in Hindi

सौंफ (fennel seeds) को पीसकर आप इसके पाउडर का सेवन चाय में भी कर सकते हैं। सौंफ (Saunf) को चाय में डालने से चाय का काफी अच्छा स्वाद आएगा। 

सौंफ के पाउडर को आप सब्जी में मिलाकर भी खा सकते हैं, इससे सब्जी का स्वाद और खुशबु दोनों ही अच्छे होंगे। 

सौंफ के बीजों का आचार बनाने में भी उपयोग होता है।

सौंफ का सेवन माउथ फ्रेशनर के रूप में भी किया जा सकता है। 

जानें, सौंफ के अन्य फायदे Benefits of fennel seeds

1. पेट की बीमारियों के लिए यह बहुत प्रभावी दवा है जैसे मरोड़, दर्द और गैस्ट्रिक डिस्ऑर्डर के लिए।

 2. सौंफ (fennel seeds) आपकी याददाश्त बढ़ाती है।

3. सौंफ का नियमित सेवन दृष्टि को तेज करता है। 5-6 ग्राम सौंफ रोज लेने से लीवर और आंखों की ज्योति ठीक रहती है।

4. सौंफ (Saunf) को सेककर मिश्री के साथ खाने से आवाज तो मधुर होती ही है यह खांसी भी भगाती है।

5. अगर आप चाहते हैं कि आपका कोलेस्ट्रॉल स्तर न बढ़े तो खाने के लगभग 30 मिनट बाद एक चम्मच सौंफ खा लें। सौंफ कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रण में रखती है।

6. सूखी, रोस्टेड और कच्ची सौंफ को बराबर मात्रा में मिला लें। इसे खाने के बाद खाएं। इससे पाचन क्रिया बेहतर रहेगी और आप हल्का महसूस करेंगे।

7. अगर आप एक चम्मच सौंफ 2 कप पानी में उबाल लें और इस मिश्रण को दिन में दो-तीन बार लें तो आपकी आंतें अच्छा महसूस करेंगी और खांसी भी लापता हो जाएगी।

8. अगर अंजीर के साथ सौंफ का सेवन किया जाए तो खाँसी और ब्रोन्काइटिस को ठीक किया जा सकता है। कफ और खांसी के इलाज के लिए सौंफ खाना जरूरी है। 

9. मासिक चक्र को नियमित बनाने के लिए सौंफ का नियमित सेवन बहुत फायदेमंद है। 

10. कब्ज़, अपच और पेट संबंधी विकारों में सौंफ बेहद लाभकारी है। मिट्टी के तवे पर सौंफ को सेंककर उसमें बराबर मात्रा में बिना सिकी सौंफ भी मिला लें, दोनों का मिश्रण तैयार रोज़ थोड़ा-थोड़ा सेवन करें। 

12. दो कप पानी में उबली हुई एक चम्मच सौंफ को दो या तीन बार लेने से अपच और कफ की समस्या समाप्त होती है।

13. अस्थमा के उपचार में सौंफ कमाल की सहायक है।

14. गुड़ के साथ सौंफ खाने से मासिक धर्म नियमित होता है।

15. यह शिशुओं के पेट और उनके पेट के अफारे को दूर करने में बहुत उपयोगी है।

16. एक चम्मच सौंफ को एक कप पानी में उबलने दें और 20 मिनट तक इसे ठंडा होने दें। इससे शिशु के कॉलिक का उपचार होने में मदद मिलती है। शिशु को एक या दो चम्मच से ज्यादा यह घोल नहीं देना चाहिए।

17. सौंफ के पाउडर को शक्कर के साथ बराबर मिलाकर लेने से हाथों और पैरों की जलन दूर होती है। भोजन के बाद 10 ग्राम सौंफ लेनी चाहिए।

2. सौंफ के फायदे त्वचा के लिए – Saunf ke fayde for Skin in Hindi

विटामिन, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी माइक्रोबियल सौंफ में कई तरह के गुण पाए जाते हैं। ये त्वचा और बालों की देखभाल करने में मदद करते हैं। सौंफ न सिर्फ टूटते बालों के लिए घरेलू औषधि है बल्कि यह त्वचा को एक्सफोलिएट करने में भी प्रभावी है।

सौंफ में एंटीसेप्टिक गुण पाया जाता है जो त्वचा को मॉश्चराइज करता है और फंगल इंफेक्शन से बचाने में मदद करता है। सौंफ के बीज के पाउडर में दही और शहद मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इसे चेहरे पर अच्छी तरह लगाएं और 20 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें। मुंहासों से छुटकारा मिल जाएगा।

3. सौंफ बीज के लाभ दिलाएँ मासिक धर्म दर्द से राहत – Fennel for Irregular Periods in Hindi

  • जिन महिलाओं को अनियमित पीरियड्स की समस्या रहती है वे रोज सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच सौंफ का सेवन करें। इसके अलावा सौंफ में कैल्शियम, सोडियम, आयरन, पोटैशियम जैसे लाभकारी गुण पाए जाते हैं।
  • ये पेट संबंधी सभी बीमारियां दूर करने में कारगर है। जिन लोगों को कब्ज की दिक्कत रहती है, तो सौंफ का सेवन कर सकते हैं। समस्या दूर होगी।

4. सौंफ की चाय है पानी प्रतिधारण से राहत दिलाने में लाभकारी – Fennel Tea for Water Retention in Hindi

सौंफ में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटीबैक्‍टीरियल गुणों के कारण यह पेट के लिए बहुत अच्‍छी होता है, शरीर को अंदर से ठंडा रखती है, एसिडिटी को रोकती है, शरीर की दुर्गंध और सांसों की बदबू को रोकती है और यह हमारे डाइजेशन के लिए बहुत अच्‍छी होती है।

सौफ की चाय पीने के फायदे

  • डाइजेशन के लिए अच्‍छा 
  • वेट लॉस में मददगार
  • मुंहासोंं से बचाएं
  • ब्लड प्रेशर को बनाए रखती है
  • आंखों की सेहत रहती है ठीक

सौंफ की चाय बनाने का तरीका

  • एक पैन में 1 कप पानी गर्म करें और इसमें 1 चम्मच सौंफ़ के बीज डालें। 
  • इस पानी को उबालें नहीं क्योंकि यह सारा पोषण छीन लेगा। 
  • आंच से उतारें और प्लेट से ढककर रखें। 
  • यह पीले रंग की चाय में बदल जाएगा। 
  • इसे दिन में 2 बार पिएं।

NOTE: स्वास्थ्य संबंधी जानकारी और किसी भी बीमारी के लिए घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श करने के लिए अभी डाउनलोड करें ‘आयु ऐप’ या कॉल करें हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर। आयु ऐप पर हमेशा विशेषज्ञ डॉक्टर आपकी सेवा में तत्पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.