सेक्स के दौरान महिलाओं को क्यों होता है दर्द? जानें कारण

sexual problem in females

यौन संबंध से ना सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक संतुष्टि भी मिलती है लेकिन कई बार महिलाओं को कुछ कारणों से यौन संबंध बनाते समय बहुत ज्यादा दर्द होता है। इस समस्या को डिसपेरुनिया(Dyspareunia) कहते है। अगर किसी महिला को यौन संबंध बनाते समय बहुत दर्द होता है तो आइये हम आपको बताते है ज़्यादा दर्द होने का कारण और इससे निजात पाने के कुछ तरीके।

महिलाओं में यौन संबंध बनाते समय होने वाले दर्द के कारण:

  • एंडोमेट्रिओसिस: एंडोमेट्रिओसिस महिलाओं में होने वाली एक ऐसी बीमारी है जिसके बारे में अक्सर महिलाऐं नहीं जानती है और एंडोमेट्रिओसिस के दौरान होने वाले दर्द को महावारी(Menstrual Cycle) के दौरान होने वाले दर्द जैसा समझकर लापरवाही करती है, जिसके कारण यह बीमारी बढ़ जाती है। महिलाओं में संभोग के दौरान दर्द होने का एक बहुत बड़ा कारण एंडोमेट्रिओसिस है। एंडोमेट्रिओसिस में गर्भाश्य में अतिरिक्त कोशिकाओं का निर्माण हो सकता है।

एंडोमेट्रिओसिस बीमारी में होने वाली परेशानियाँ:

  • महिलाओं को पेट दर्द रहना
  • गर्भधारण न कर पाना
  • हड्डियों में दर्द रहना
  • चेहरे पर झाइयां आना
  • त्वचा का मुरझाना
  • बाल झड़ना, सफ़ेद होना
  • भूलने लगना, चिड़चिड़ापन रहना
  • हाई बीपी
  • किडनी का कमज़ोर होते जाना
  • आंखों की रोशनी कम होना
  • कंसीव करने में दिक्कत होना क्‍योंकि स्‍पर्म फेलोपियन ट्यूब तक नहीं पहुँच पाता
  • इसमें गर्भ (एंडोमेट्रियम) को ढकने वाले टिश्यूज ओवरीज या गर्भाशय के आसपास विकसित होने लगते है
  • पीरियड्स के दौरान खून के गहरे थक्के ओवरीज में जमा हो जाना
  • पेल्विक एरिया और आस-पास खून के धब्बे जम जाते हैं, जिससे आंतें, ट्यूब्स और ओवरीज आपस में चिपक जाती है।

महिला रोग से संबंधित किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए घर बैठें विशेषज्ञ डॉक्टर से इलाज पाएं 👇

  • योनि संकुचन (Vaginismus):

योनि संकुचन (Vaginismus) एक ऐसी स्थिति है जिसमे महिलाओं के लिए सेक्स करना बहुत दर्द भरा हो जाता है क्योंकि उन्हें इंटरकोर्स के दौरान बहुत अधिक तकलीफ होती है। योनि संकुचन एक सेक्शुअल प्रॉबल्म है जहां टैम्पोन जैसी चीज़ों को इन्सर्ट करने, गाइनकोलॉजिकल टेस्ट या सेक्सुअल इंटरकोर्स करने से योनि की मांसपेशियां टाइट हो जाती हैं और महिला को दर्द महसूस होता है।

  • गर्भाशय में समस्या: गर्भाशय में फाइब्रॉएड होते है, जिसके कारण संभोग के दौरान महिलाओं को बहुत दर्द होता है। महावारी के दौरान संभोग करने से भी महिलाओं को दर्द की शिकायत होती है।
  •  मेनोपौज़: मेनोपौज़ के दौरान योनि में सूखापन आ जाता है, जिसके कारण यौन संबंध बनाते समय ज्यादा दर्द होता है।
  • वेजाइनल पेन(Vaginal pain): योनि के मुख पर ही कई नसों के आखिरी सिरे मौजूद होते है जिससे यह हिस्सा काफी संवेदनशील हो जाता है और इसीलिए सेक्स के दौरान लिंग के अन्दर जाने पर इस हिस्से में दर्द होता है। इस दर्द के मुख्य कारण चिकनाई की कमी, इन्फेक्शन, लेटेक्स कंडोम से होने वाली एलर्जी होता है।
  • वल्वल पेन (Vulval pain): योनिमुख तीन हिस्सों में बंटा होता है लेबिया मेजोरा ,लेबिया माइनोरा और क्लिटोरिस। योनि के इस हिस्से में सेक्स के दौरान जलन और खुजली होने लगती है और दर्द होने लगता है।
  • अंडाशय (Ovaries)में समस्या: अंडाशय (Ovaries) पर अल्सर होने के कारण, यौन संबंध के दौरान दर्द होता है।
  • श्रोणि सूजन की बीमारी (Pelvic inflammatory disease): इस बीमारी में आपके टिशू के अंदर सूजन हो जाती है, जिसके कारण संभोग करते समय दर्द होता है।

यौन संबंध के दौरान दर्द से बचने के उपाय-

  • फोरप्ले करें (Foreplay Before Intercourse): इंटरकोर्स से पहले फोरप्ले करना सेक्स के दौरान (Foreplay During Sex) होने वाले दर्द को कम करने में मददगार होता है। अगर आपको दर्द होता है तो यह जरूरी है कि पेनीट्रेशन धीरे-धीरे किया जाए।
  • लुब्रिक़ेंट्स का इस्तेमाल करें:
    सेक्स के दौरान दर्द की एक मुख्य वजह सूखापन होता है। इसके लिए सेक्स के दौरान लुब्रिकेंट्स(Lubricant) का इस्तेमाल करना चाहिए। लुब्रिकेंट्स का इस्तेमाल कर पेनीट्रेशन के दौरान होने वाले दर्द को कम किया जा सकता है। प्राइवेट पार्ट्स को साफ रखना बेहद जरूरी है। इससे इंफेक्शन और एसटीडी रोगों से बचा जा सकता है।

सेक्सुअली ट्रांसमेटेड डिजीज (STD) होने पर व्यक्ति में कुछ लक्षण दिखाई देते हैं। वैसे पुरूषों व महिलाओं में इसके लक्षण अलग−अलग हो सकते हैं। जैसे स्त्रियों को योनि के आसपास के हिस्से में खुजली या योनि से स्त्राव भी हो सकता है, वहीं पुरूषों में भी लिंग से स्त्राव हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐप डाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.