fbpx

🧬 प्रोटीन युक्त आहार है शरीर के लिए फायदेमंद | Daily Health Tip | 25 January 2020 | AAYU App

🧬 प्रोटीन युक्त आहार है शरीर के लिए फायदेमंद  | Daily Health Tip | 25 January 2020 | AAYU App

प्रोटीन के हजम होने पर शरीर का तापमान बढ़ जाता हैं। इसे पचाने के लिए शरीर को बहुत मेहनत करनी पड़ती हैं, जिस कारण आपको ज़्यादा ऊर्जा की ज़रुरत पड़ती हैं इससे ऊष्मा पैदा होती हैं जो हमे गरम रखती हैं। इसके लिए आप दूध और इससे बनी चीजों का नियमित रूप से सेवन करें।”

“With the intake of proteins the body temperature increases as it is difficult to digest and the body has to do a lot of work to process it. So adding milk and other dairy products is highly recommended in winters.”

आसान से उपाय अपनाकर हम खुद को ठण्ड से सुरक्षित और स्वस्थ्य रख सकते है। सर्दियों में सेहत का ज़्यादा ख्याल रखना पड़ता है। तापमान कम होने के कारण शारीरिक क्रियाशीलता भी धीमी हो जाती है। लेकिन कुछ आसान से उपाय अपनाकर हम खुदको गरम और स्वस्थ्य रख सकते हैं।

कैफीनरहित पेय पिए: सर्दियों में गरम चाय या कॉफ़ी पीने से हमें कुछ देर के लिए गर्मी महसूस होती है। लेकिन यह कुछ देर के लिए ही होती है। इसलिए बेहतर होगा की इसके स्थान पर कैफीनरहित या हर्बल पेय का सेवन करे। इनमे गरम रखने के प्राकृतिक गुण होते हैं

में सेहत का ज़्यादा ख्याल रखना
Aayu App- Health Tip

रजाई के अंदर करे व्यायाम: बिस्तर से निकलने से पहले कुछ मामूली व्यायाम कर ,आप स्वयं को बाहर आने पर गरम रख सकते हैं। इसके लिए आप अपनी पैरों की उंगलियों को 20 बार ऊपर निचे करें। फिर दोनों दिशाओं में पैरों के टखनों को गोलाकार घुमाए। इससे खून का प्रवाह बढ़ेगा और आप गरम महसूस करेंगे।

खूब प्रोटीन खाए: प्रोटीन के हजम होने पर शरीर का तापमान बढ़ जाता है। जो सर्दी में लाभदायक होता है। इसके लिए आप दूध या डेयरी प्रोडक्ट का नियमित रूप से सेवन करें

धूप का भरपूर आनंद ले: सर्दियों की धूप सुहावनी होती है। धूप से हमें विटामिन डी भी भरपूर मात्रा में मिलता है। धूप से सुस्त पड़ी त्वचा को ऊर्जावान आहार मिलता है। सर्दियों में सुबह उगते हुए सूर्य की किरणों का भरपूर आनंद ले। इससे आपके मन को सुकून मिलता है और शरीर को प्राकृतिक ऊर्जा मिलती है।

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )