Latest Health Updates: कोरोना से बचाव में 94.5 फीसदी प्रभावी होगी मॉडर्ना की वैक्सीन!

corona vaccine

महीनों के संघर्ष के बाद अब दुनिया भर में कोरोना वैक्सीन निर्माण की दिशा में सकारात्मक संकेत मिलने लगे हैं। बायोटेक कंपनी मॉडर्ना का दावा है कि कोरोना के खिलाफ तैयार की जा रही उनकी वैक्सीन, कोरोना को रोकने में 94.5 फीसदी तक कारगर है। 

1. कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर

अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना के वैक्सीन ट्रायल के शुरुआती नतीजों के अनुसार कोविड महामारी के खिलाफ नई वैक्सीन 94.5 फीसदी तक कामयाब है।

यह दावा क्लीनिकल ट्रायल के आधार पर किया जा रहा है। इससे पहले फाइजर की वैक्सीन ने 90 फीसदी से ज़्यादा प्रभाव दिखाया है। मॉडर्ना का कहना है कि वह अगले कुछ सप्ताह में वैक्सीन का इस्तेमाल शुरू करने के लिए अनुमति मांगेगी। 

वहीँ भारत के सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला का कहना है कि भारत को दिसंबर तक दवा कंपनी ऐस्ट्राजेनेका द्वारा बनाई जा रही कोरोना वैक्सीन के 10 करोड़ डोज मिल सकते हैं।

2. WHO चीफ़ की चेतावनी- सिर्फ़ वैक्सीन से खत्म नहीं होगा कोरोना! और भी विकल्पों का करना होगा इस्तेमाल 

WHO के चीफ़ टेड्रोस एडहानॉम ने चेताया है कि भले ही कोरोना की कोई वैक्सीन बना ली जाए, लेकिन वो अकेले सारी महामारी को खत्म नहीं कर पाएगी।

उनका कहना है की वैक्सीन के साथ उन सारे तरीकों का इस्तेमाल ज़रूरी है जिनका इस्तेमाल अभी हो रहा है। ये ज़रूर है कि वैक्सीन के आ जाने के बाद दुनिया में कोरोना से हो रही मौतों के आंकड़े कम हो सकेंगे और हमारा हेल्थ सिस्टम बेहतर हो सकेगा।

टेड्रोस एडहानॉम ने चेतावनी देते हुए कहा कि वैक्सीन के आने के बावजूद संक्रमण फैलने की संभावना रहेगी। वैक्सीन के आ जाने के बाद भी ज़रूरी है की लोगों की जांच हो और लक्षण पाए जाने पर उन्हें आइसोलेट भी किया जाए।

लेटेस्ट कोरोना वायरस अपडेट्स और किसी भी बीमारी से संबंधित विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श के लिए डाउनलोड करें ”आयु ऐप’। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.