PM Modi Speech on Lockdown: ये 7 मूल मंत्र देंगे कोरोना को मात, 3 मई तक बढ़ा लॉकडाउन

PM modi speech on lockdown
  • सरकार ने देशव्‍यापी लॉकडाउन तीन मई तक बढाने का निर्णय लिया।
  • 20 अप्रैल के बाद कुछ शर्तों के साथ उन स्‍थानों पर छूट दी जा सकती है।
  • समग्र और एकीकृत दृष्टिकोण अपनाकर देश में कोविड 19 के फैलाव पर नियंत्रण पाया जा सका है।
  • पीएम ने 7 बातों के लिए मांगा जनता से सहयोग 

सरकार ने देश में लॉकडाउन अगले महीने की तीन तारीख तक बढ़ाने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज राष्‍ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि सभी राज्‍य और लोग लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में हैं। मोदी जी के संबोधन से देशवासियों में 7 बातों के लिए सहयोग मांगा है, जो कोरोना वायरस को मात देने में प्रभावी साबित होंगे।

देश में नेतृत्व की आज जो जरूरत है उस परिभाषा पर प्रधानमंत्री खरे उतरे हैं। एक संतुलित और सुव्यवस्थित संबोधन में उन्होंने सीमित छूट की अनुमति दी लेकिन इस शर्त के साथ कि अगर थोड़ा भी नियम टूटता है, थोड़ी भी लापरवाही होती है तो सारी अनुमति तुरंत वापिस ले ली जाएगी।

लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ा कर 20 अप्रैल तक हर राज्य और थाने को बहुत बारीकी से परखने की बात भी साथ में रख दी और कहा कि लगातार मूल्यांकन किया जाएगा कि कौन इस अग्निपरीक्षा में सफल होता है।

मोदीजी ने 7 बातों में मांगा देश का साथ

1. बुजुर्गों का ख्याल रखें।

2. लॉकडाउन नियमों का पालन-मास्क का नियमित प्रयोग करें

3. इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय की गाइड लाइन का पालन करें।

4. आरोग्य सेतु मोबाइल एप डाउन लोड करें।

5. जितना हो सके गरीब परिवारों की मदद करें, देखरेख करें।

6. अपने व्यवसाय उद्योग में काम करने वालों के प्रति संवेदना रखें।

7.देश के समस्त कोरोना योद्धाओं का सम्मान करें, आदरपूर्वक उनका अभिनंदन करें।

Note: आरोग्य सेतु ऐप आपको कोरोना के लक्षणों की जानकारी देता है, वहीं आयु ऐप के माध्यम से आप घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से इलाज़ और दवाइयाँ मंगवा सकते हैं।

वयं राष्ट्र जाग्रयाम… राष्ट्र को जीवंत और जागरूक बनाए रखने के आह्वान के साथ उन्होंने अपनी बात का समापन किया … जिस ऊर्जा और ताकत की इस वक्त देश को जरूरत है मोदी जी ने अपने संबोधन में उसे सलीके से रखा।

आयु है आपका सहायक

प्रधानमंत्री ने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में लोगों को संकल्प लेने को कहा है कि वे केंद्र और राज्य सरकारों के परामर्श का अनुपालन करेंगे। मोदी ने लोगों से अनुरोध किया कि वे नियमित जांच के लिए अस्पताल जाने से बचें ताकि स्वास्थ्यकर्मियों पर दबाव कम हो। ऐसे में आयु ऐप आपको कोरोना या किसी भी अन्य बीमारी से लड़ने और उसकी संपूर्ण जानकारी विशेषज्ञ डॉक्टरों के द्वारा आपको घर बैठे निशुल्क उपलब्ध करवा रहा है। आप इस ऐप के माध्यम से विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श और इलाज की सुविधा ले सकते हैं इसके लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।


Leave a Reply

Your email address will not be published.