Quiz of the Week: खेलें आयु का संडे क्विज़ और जांचें मुँहासों पर आपकी जानकारी

pimples

मुँहासे त्वचा संबंधी रोग है जो काफी परेशान करती है। मुँहासे की समस्या 17-21 की उम्र में अधिक देखने को मिलती है क्योंकि इस उम्र में हार्मोन्स जैसे एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टेरोन के स्तर में उतार चढ़ाव होता रहता है। जिसकी वजह से चेहरे में तेल का स्राव ज्यादा होता है जिसके कारण मुँहासे होने लगते हैं।

स्किन के रोम छिद्र या पोर्स अंदर से तेल ग्रंथी (Oil Glands) वाली कोशिकाओं (Cells) से जुड़े हुए होते हैं जिनके कारण सीबम ऑयल स्किन (Sybum Oil Skin) के रोम छिद्र में उत्पन्न होता है। सीबम खराब सेल्स को रोम छिद्र से बाहर लाने में मदद करता है और नए सेल्स बनाते हैं परंतु हार्मोन असंतुलन (Hormone Imbalance) के कारण जब ज़्यादा सीबम तेल बनने लगता है, तब यह तेल इन रोम छिद्रों को बंद कर देता है जिसके कारण मुँहासे या दाने होने लगते हैं।

आजकल युवा कील-मुंहासों की समस्या से ज्यादा परेशान हैं। इनसे निजात पाने के लिए वो हर संभव नुस्खा और इलाज अपनाते हैं। कील-मुंहासे वो स्किन से संबंधित वो अवस्था है जिसमें चेहरे पर काले या लाल रंग के दाने जैसे हो जाते हैं और जब उन्हें दबाया जाता है तो सफेद रंग का कुछ निकलता है। इन्हें दबाना ठीक नहीं होता क्योंकि इसके बाद चेहरे पर गहरे दाग-धब्बे बन जाते हैं जिनसे छुटकारा पाना और भी मुश्किल हो जाता है।

कील-मुंहासे यानि पिंपल्स होने की सबसे बड़ी वजह है जंक फूड और तला-भुना खाना। इससे हमारी स्किन ऑयली हो जाती है और पिंपल्स हो जाते हैं।

यदि आप या आपका कोई प्रियजन मुँहासे की समस्या (pimples) (कील) से परेशान रहते हैं, तो आप नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके आयु का संड़े क्विज़ खेलें। क्योंकि इसमें मुँहासे (pimples) (कील) और इससे निजात पाने के संभावित तरीकों की जानकारी दी है, जो आप सभी के लिए उपयोगी साबित होगी।

आयु का संड़े क्विज हिंदी में खेलने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें- 👇

अंग्रेजी में आयु का संड़े क्विज खेलने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें- 👇

Leave a Reply

Your email address will not be published.