New Covid-19 strain: कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन 70 प्रतिशत से अधिक खतरनाक हो सकता है-रिपोर्ट

New Covid-19 strain

New Covid-19 strain: ब्रिटेन के नए कोरोनावायरस स्ट्रेन के बारे में मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकरी दी है
कि भारत में यूके कोरोनावायरस स्ट्रेन के अब तक कुल 187 मामले सामने आ चुके हैं। लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने साप्ताहिक ब्रीफिंग में यह जानकारी भी दी कि देश के अंदर दो और देशों के स्ट्रेन (New Covid-19 strain) भी दाखिल हो चुके हैं।

दक्षिण अफ्रीका से देश लौटने वाले 4 लोगों में स्ट्रेन की पुष्टि हुई है जबकि एक व्यक्त‍ि में ब्राजील का स्ट्रेन पाया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक,दक्षिण अफ्रीका का वेरिएंट, अमेरिका सहित दुनिया के 41 देशों में फैला है। यूके का कोविड-19 वेरिएंट (New Covid-19 strain) दुनिया के 82 देशों में फैल चुका है जबकि ब्राजील का स्‍ट्रेन 9 देशों में फैला है।

1. कोविड-19 का नया स्ट्रेन 70 प्रतिशत से अधिक घातक (Covid-19 Kent Variant more dangerous)

सरकारी वैज्ञानिकों के ताजा शोध में पता चला है कि कोरोना का केंट स्‍ट्रेन (Covid-19 Kent Variant) ब्रिटेन में फैल रहा है,जो आम कोरोना वायरस से 70 फीसदी ज्‍यादा घातक हो सकता है। कोरोना के इस नए प्रकार को केंट स्‍ट्रेन (Covid-19 Kent Variant) कहा जा रहा है।

यह रिपोर्ट कोरोना के केंट वेरिएंट (Covid-19 Kent Variant) को लेकर किए गए कई शोध पर आधारित है। कोरोना के इस नए स्‍ट्रेन (New Covid-19 strain) को केंट इलाके में पाया गया था, इसलिए इसका नाम केंट वेरिएंट रखा गया है।

ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने कहा कि दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के अन्‍य स्‍ट्रेन की अपेक्षा केंट वेरिएंट 30 से 70 फीसदी ज्‍यादा घातक है। इस शोध में केंट वेरिएंट (Covid-19 Kent Variant) की अपेक्षा अन्‍य कोरोना स्‍ट्रेन से पीड़‍ित मरीजों के अस्‍पताल में भर्ती होने और उनके मौत की दर की तुलना की गई है। ब्रिटिश विशेषज्ञ डेविड स्‍ट्रेन ने कहा कि इस शोध के परिणाम चिंता में डालने वाले हैं।

घर बैठे ऑनलाइन दवाईयां ऑर्डर करने के लिए क्लिक करें 👇

2. भारत के किन राज्यों में अधिक हैं कोरोना के मामले

गौरतलब है कि दिसंबर महीने में देश में कोरोना वायरस (Coronavirus)के यूके स्ट्रेन (New Covid-19 strain) की एंट्री हुई थी। फिलहाल, केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण के अनुसार, केरल में इस समय कोराना के 61,550 और महाराष्‍ट्र में 37,383 केस है।

3. स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए कोविड-19 स्ट्रेन पर प्रेस-कॉंफ्रेंस कर दी जानकारी

आईसीएमआर के डीजी बलराम भार्गव ने बताया कि जनवरी में कोरोना वायरस के साउथ अफ्रीकी वेरिएंट सार्स-कॉव-2 से चार लोग संक्रमित पाए गए थे।

  1. वहीं एक मरीज कोरोना के ब्राजीलियन संस्करण से संक्रमित मिला था। सभी पांचों मरीजों को क्वारंटीन किया गया है। उन्होंने बताया कि अफ्रीकी स्ट्रेन (New Covid-19 strain) से संक्रमित होने वाले मरीजों में एक अंगोला से, एक तंजानिया से और दो दक्षिणी अफ्रीका से लौटे थे।
  2. उन्होंने बताया कि कोरोना के ब्राजील संस्करण ने स्पाइक प्रोटीन के रिसेप्टर बाइंडिंग में म्यूटेशन दिखाया है। इसकी संचरण क्षमता काफी तेज है, जिसकी वजह से यह दुनिया के 15 देशों में फैल चुका है। भारत में इसका एक केस सामने आया है। फरवरी के पहले हफ्ते में ब्राजील से लौटे एक शख्स में कोरोना का यह स्ट्रेन (New Covid-19 strain) पाया गया था। इसके अलावा इन सबसे पहले कोरोना के ब्रिटिश स्ट्रेन से भारत में कई लोग संक्रमित पाए गए थे।

अभी तक 187 लोगों में कोरोना के ब्रिटिश संस्करण का संक्रमण मिला है। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि ब्राजील और अफ्रीका से आने वाले यात्री गल्फ देशों से होकर आते हैं। ऐसे में सरकार इन देशों से आने वाले लोगों की पूरी चेकिंग करने की तैयारी कर रही है।

4. क्या साउथ अफ्रीका और ब्राज़ील स्ट्रेन भी यूके स्ट्रेन की तरह सुपर स्प्रेड़र हैं?

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के यूके स्ट्रेन (New Covid-19 strain) के बारे में बताया था कि यह सुपर स्प्रेडर है यानी यह बहुत तेजी से फैलता है। हालांकि यह बीमारी की गंभीरता को नहीं बढ़ाता जिससे मौत की संख्या में बढ़ोतरी नहीं होती। ICMR ने इसको इसको सुपर स्प्रेडर नहीं बताया है।

ICMR के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि ‘ये स्ट्रेन वायरस को क्षमता देता है कि ये फेफड़ों में आसानी से घुस जाए। यह ब्राजीलियन और साउथ अफ्रीका के वेरिएंट (New Covid-19 strain) में देखा गया है।’

ये भी पढ़ें-

डिस्क्लेमर:

कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन (New Covid-19 strain) कितना खतरनाक है और क्या भारत में भी ब्रिटेन कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन के फैलने की संभावना है। इस सबके बारे में हमने इस लेख में जानकारी दी है। उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आएगी।

अगर आप रोज़ाना अपने फोन पर विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित स्वास्थय जानकारी पाना चाहते हैं तो अभी डाउनलोड करें आयु ऐप।

अक्सर पूछे जानें वाले सवाल-
1. कोरोना वायरस का नया लक्षण क्या है? (New Covid-19 strain)

लगातार खांसी आना- बुख़ार-गंध और स्वाद का पता नहीं चलना-

2. क्या सबको एक जैसा कोविड होता है?

नहीं. कोरोनो वायरस कई अंगों पर असर डाल सकता है और लोगों को अलग-अलग तरह के लक्षण हो सकते हैं।

3. ख़ुद को कोरोना वायरस से कैसे बचाएं?

‘कोविड 19’ से बचने के लिए नियमित रूप से साबुन और पानी से हाथ धोएं। खांसते और छींकते वक्त टिश्यू का इस्तेमाल करना, बिना हाथ धोए अपने चेहरे को न छूना और संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें।

4. क्या भारत में समाप्ति की ओर है कोविड-19 महामारी?

विशेषज्ञ यह पता लगाने में जुटे हैं कि क्या भारत में कोरोना महामारी समाप्ति की ओर है? क्या हर्ड इम्युनिटी विकसित हो चुकी है?

5. कोविड-19 कैसे फैलता है?

कोविड-19 बेहद संक्रामक इंफेक्शन है और यह कई तरह से फैलता है. 1. संक्रमित इंसान के संपर्क में आने पर. दूषित सतहों के माध्यम से। सामूदायिक स्तर पर

Leave a Reply

Your email address will not be published.