शरीर के लिए ज़रूरी विटामिन्स | Daily Health Tip | 10 April 2020 | AAYU App

vitamins in your body

केला आपकी आंतों को स्वस्थ रखता है जिससे आपका पाचन अच्छा रहता है। यह आपके शरीर को आवश्यक विटामिन भी देता है। “

Banana keeps your intestines healthy, which improves your digestion. It also provides essential vitamins to your body.”

Health Tips for Aayu App

शरीर के लिए महत्वपूर्ण विटामिन्स:

विटामिन B-12: विटामिन B-12 शरीर की कोशिकाओं में पाए जाने वाले जीन डीएनए को बनाने और उनकी मरम्मत करने का काम करता है। यह हमारे दिमाग, स्पाइनल कॉर्ड और नर्वस सिस्टम के कुछ खास तत्वों की रचना भी करता है। यह हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं (Red Blood Cells) भी बनाता है। यह शरीर के सभी हिस्सों के लिए अलग-अलग तरह के प्रोटीन बनाने का काम करता है। यह ऐसा विटामिन है, जिसका अवशोषण हमारी आंतों में होता है। वहां लैक्टोबैसिलस (फायदेमंद बैक्टीरिया) मौजूद होते है, जो हमारे शरीर में B-12 बनाते है। B-12 बनने के बाद ये लीवर में इकट्ठा होता है यहां से लीवर इसे आवश्यक जगह पर भेजता है।

स्रोत: दूध, दही, पनीर, चीज, मक्खन, सोया मिल्क के सेवन से शरीर में विटामिन B-12 का प्रवाह बढ़ता है इसके अलावा जमीन के अंदर ऊगने वाली सब्जियां जैसे आलू, गाजर, मूली, शलजम, चुकंदर आदि में भी विटामिन B पाया जाता है।

विटामिन D: विटामिन D हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है। ये हड्डियां ही नहीं शरीर के मसल्स समेत अन्‍य अंगों के लिए भी बहुत जरूरी पोषक तत्‍व है। यह वसा में घुलनशील प्रो-हार्मोन्स का एक समूह होता है जो आंतों से कैल्शियम को सोखकर हड्डियों तक पहुंचाता है। शरीर में इसका निर्माण हाइड्रॉक्सी कोलेस्ट्रॉल और अल्ट्रावॉयलेट किरणों की मदद से होता है। इसके अलावा शरीर में रसायन कोलिकल कैसिरॉल पाया जाता है, जो खाने के साथ मिलकर विटामिन-D का प्रवाह करता है। केल्शियम की कमी से हमारे बाल कम उम्र में ही सफेद होने लगते है, झड़ने लगते है, आखों की रोशनी कम होने लगती है आदि।

स्रोत: सबसे ज्यादा विटामिन-D का प्रवाह सुबह-सुबह सूरज की किरणों से निकलता है, अगर सुबह सूरज निकलने से ठीक पहले उठकर करीब 15 मिनट तक सूरज की रोशनी के सामने और पीछे खड़े हो गए, तो शरीर के लिए जरूरी विटामिन-D आपको मिल जाएगा। हरी सब्जियों के अलावा मांसाहार में अंडे, मछली, दूध में पर्याप्त मात्रा में मिल जाएगा।

कैल्शियम: शरीर में कैल्शियम की कमी हमारी मांसपेशियों और हड्डियों को कमजोर करती है। शरीर में कैल्सियम की आवश्‍यकता उम्र के आधार पर निर्धारित की जाती है।

स्रोत- आहार कैल्शियम का सबसे अच्‍छा स्रोत है। वसायुक्‍त आहार और दूध के उत्‍पादों से शरीर को पर्याप्त कैल्शियम मिलता है। ताजी और पत्‍तेदार सब्जियां, सोयामिल्क, साबुत अनाज, अंडा, आदि कैल्शियम के स्रोत है।

मैग्नीशियम: भोजन में मैग्नीशियम की पर्याप्त आपको कई रोगों से बचाकर रखती है। मुख्य रूप से इसकी कमी के कारण डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। मैग्नीशियम की कमी से आपको धमनी संबंधी रोग, डायबटीज, अर्थाराईटिस जैसी समस्या हो सकती है। हमारे शरीर में होने वाली एंजाइम प्रतिक्रिया के लिए मैग्नीशियम जिम्मेदार है। इसकी कमी से शरीर की विभिन्न क्रियाओं पर असर पड़ सकता है।

स्रोत- हरी पत्तेदार सब्जियां , साबुत अनाज, अखरोट, मूंगफली, बादाम, काजू, सोयाबीन, केले, खुबानी, कद्दू, दही, दूध, चॉकलेट और तुलसी के नियमित सेवन से शरीर में मैग्नीशियम की पूर्ति हो सकती है।

ओमेगा-3: ओमेगा 3 फैट्स, कॉन्जुगेटेड लिनोलेक एसिड और गामा लिनोलेनिक एसिड जैसे कुछ फैट होते है जो शरीर के हार्मोन्स में बदलाव कर भूख को कम करते है और डाइटिंग करने में भी मददगार होते है। ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन हार्ट अटैक के जोखिम को भी कम करता है। यह धमनियों के फैलने में सहायक होता है, जिससे उनमें रक्त प्रवाह ठीक ढंग से हो पाता है और एन्जाइम्स फैट को आसानी से शरीर में घुलने में मदद करते है, जिससे इंसान का मेटाबॉलिज्म मज़बूत होता है।

स्रोत: अलसी के बीज, अखरोट, ब्लूबेरी, राई का तेल, सोयाबीन, सालमन मछली और सीफूड जैसे, प्रॉन, झींगा, सीप आदि में काफी मात्रा में ओमेगा-3 पाया जाता है, जिसके नियमित सेवन से आप शरीर में इसकी पूर्ति कर सकते है।

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.