National Pollution Prevention Day: प्रदूषण से बचाव के लिए कैसी डाइट रखें?

National Pollution Prevention Day

National Pollution Prevention Day हर साल 2 दिसंबर को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य औद्योगिक आपदा के प्रबंधन और नियंत्रण के लिए जागरुकता फैलाना तथा प्रदूषण रोकने के लिए प्रयास करना होता है। 

आधुनिक समय में बढ़ते वाहनों की संख्या और मानवीय संसाधनों के अंधाधुंध दोहन (Indiscriminate Exploitation) से वायु, ध्वनि, जल और रासायनिक प्रदूषण (Chemical Pollution) में तेजी से वृद्धि हुई है। कोई भी व्यक्ति प्रदूषण के प्रभाव से अछूता नहीं रहा है, लेकिन इसके बावजूद कुछ सावधानियाँ अपनाकर आप प्रदूषण के प्रभाव से बच सकते है।

National Pollution Prevention Day: वायु प्रदूषण से कैसे बचें?

मास्क वायु प्रदूषण से बचने का अच्छा तरीका है। बाहर निकलने पर, किसी औद्योगिक क्षेत्र में जाने पर मास्क का प्रयोग करें, लेकिन इसमें जरूरी है कि आप अच्छे मास्क का इस्तेमाल करें। सार्वजनिक स्थानों व अस्पतालों में जाते समय मास्क जरूर पहनें। एक बार मास्क पहनने पर मास्क को बार-बार ना छुएँ।

एक समय के बाद मास्क बेकार हो जाता है। उसे लंबे समय तक बिल्कुल प्रयोग ना करें। लापरवाही करने पर व्यक्ति बीमार पड़ जाता है। बीमार होने से बचने के लिए कुछ एहितयात जरूर बरतें तभी जाकर संक्रामक बीमारियों से बचा जा सकता है। इसके आलावा घर, फैक्ट्री, वाहन के धुएँ को सीमा में रखें, पटाखों का इस्तेमाल ना करें, कूड़ा-कचरे को ना जलाएं और जरूरी हो तो थूकने के लिए बहती नालियों या थूकदान का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही वायु प्रदूषण संबंधी सभी कानूनों का पालन करें।

National Pollution Prevention Day: प्रदूषण से होने वाली बीमारियों के लक्षण:

वायु प्रदूषण से बचाव कैसे करें:

  • घर से बाहर निकलते समय मास्क का इस्तेमाल करें। आँखों पर चश्मा लगाएं। चेहरे पर लगे मास्क को बार-बार ना छुएँ। 
  • एक मास्क को एक बार ही प्रयोग करें। एक ही मास्क का प्रयोग बार-बार करके आप वायरस और कई तरह के इंफेक्शन फैलाने वाले बैक्टीरिया की चपेट में आ सकते है।
  • घर के बाहर सड़कों को गीला करके रखें ताकि धूल के दूषित कण हवा में ना उड़े पाएं। इसके अलावा घर पर साफ सफाई का भी ध्यान रखें।
  • जब पर्यावरण में प्रदूषण का स्तर कम होने पर ही घर से बाहर टहलने को जाएं।

National Pollution Prevention Day: प्रदूषण से बचाव के लिए कैसी डाइट रखें?

  • खाना खाने के बाद थोड़ा सा गुड़ जरूर खाएं  गुड़ खून साफ करता है।  इससे आप प्रदूषण से बचे रहेंगे।
  • फेफड़ों को धूल के कणों से बचाने के लिए रोजाना एक गिलास गर्म दूध जरूर पियें। 
  • अदरक का रस और सरसों का तेल नाक में बूँद-बूँद कर डालने से आप हानिकारक धूल कणों से बचे रहेंगे।
  • खुद को प्रदूषण के प्रभाव से बचाने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें। 

वायु प्रदूषण से बचाव के कुछ आयुर्वेदिक उपाय:

  • शहद में काली मिर्च मिलाकर खाएं, इससे आपके फेफड़े में जमा कफ और गंदगी बाहर निकल जाएगी।
  • अजवाइन की पत्तियों का पानी पीने से भी व्यक्ति का खून साफ होने के साथ-साथ शरीर के भीतर मौजूद दूषित तत्व बाहर निकल जाते है।
  • तुलसी प्रदूषण से आपकी रक्षा करती है, इसलिए रोजाना तुलसी के पत्तों का पानी पीने से आप स्वस्थ बने रहेंगे।
  • ठंडे पानी की जगह गर्म पानी का सेवन करना शुरू कर दें। 

प्रदूषण से बचे रहेंगे तो ही आप स्वस्थ रह पाएंगे।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐपडाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.