मुंह सूखने की समस्या से पाएं मुक्ति

मुंह सूखने की समस्या
शेयर करें

मुंह सुखने की समस्या हर किसी को कभी ना कभी होता ही है. इस समस्या को जीरोस्टोमिया भी कहते है, जो मुंह में लार की कमी से होता है. इसके कई कारणों में लार ग्रंथि का बंद हो जाना भी है. इस वजह से पेट और दांतों में कई रोग उत्पन्न हो जाते हैं. मुंह को सूखने से बचाने वाली लार खाने को पचाने और दांतों को संक्रमण से रक्षा करती है. आइए जानते है मुंह सुखने के कारण और उनके उपायों के बारे में…

मुंह सूखने के समान्य कारण

मुंह सूखने के कई कारण हो सकते हैं. मुंह में लार के कम होने से मुंह सूखने लगता है . ऐसा तब होता है जब कोई डिहाईड्रेशन, थकान, तनाव, हार्मोन्स में परिवर्तन से ग्रसित हो या वे लोग जो बहुत अधिक धूम्रपान करते हों या शराब का सेवन अधिक करते हों, उन्हें भी मुंह सूखने की समस्या का सामना करना पड़ता है. मुंह सूखने की समस्या उन लोगों को भी होती है जो किसी तरह का उपचार ले रहे हों जैसे कीमोथेरेपी, रेडिएशन या डाइबिटीज और कुछ मस्तिष्क की कुछ विशेष समस्याओं के मरीज.

सामान्य व्यक्ति में लार की सामान्य प्रवाह दर 0.3-0.4 मिलीग्राम प्रति मिनट है और इसकी गणना करने की विधि साइलोमेटरी है. मुंह सूखने के कारण मुंह से बदबू भी आना शुरु हो जाता है और भोजन को निगलने में कठिनाई का कारण बनता है.

लार न बनने पर मुंह सूखता है. जिससे कुछ भी खाने के बाद भोजन दांत में फंसकर मसूढ़ों में सूजन पैदा करता है. वहीं पर्याप्त मात्रा में लार भोजन को फंसने नहीं देती.

मुंह सूखने के लक्षण

  • खाना चबाने और निगलने में परेशानी होना
  • बोलने में परेशानी होना
  • खाने का टेस्ट समझ में नहीं आना
  • नकली दांत लगाने में कठिनाई होना
  • मुंह में खुश्की रहना
  • मुंह से बदबू आना
  • दांतों में कीड़े लगना
  • मसूडों में सूजन व खुजली होना

मुंह सूखने पर इन चीजों का सेवन करें

मुंह सूखना हमारे शरीर के लिए काफी घातक होता है, इसलिए अगर आपका मुंह बार-बार सूखता है तो आप डॉक्टर से जरूर परामर्श लें.

मेडकॉर्डस आपका सहायक

अब आपको ईलाज और डॉक्टर से सलाह लेने के लिए नहीं जाना पडेगा अपने घर से कोसो दूर, मेडकॉर्ड्स ऐप से घर बैठे लें अनुभवी डॉक्टरों से ई-परामर्श और सलाह. करें धन और समय की बचत .आज ही मेडकॉर्डस हेल्प लाइन नं- 781-681-1111 पर करें कॉल

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.