शुगर लेवल कम करने के उपाय | Measures to Reduce Sugar Level

Measures to reduce sugar level

अक्सर आपने देखा होगा कि अचानक से ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। अगर आपका भी अचानक से शुगर लेवल बढ़ जाता है तो आपको शुगर लेवल कंट्रोल करने में ध्यान देना चाहिए। आइये जानते है शुगर लेवल कंट्रोल कैसे करें (How to Control Sugar Level)। इसके अलावा कई तरह के घरेलू उपाय भी है जिनसे आप शुगर लेवल कंट्रोल करके सामान्य जीवन जी सकते है। आइये जानते है शुगर लेवल कम करने के उपाय।

मोटापा और डायबिटीज आज के समय की दो सबसे बड़ी स्वास्थ्य समस्याएं है। अस्त-व्यस्त जीवनशैली, गलत खानपान इसके प्रमुख कारण है लेकिन लाइफस्टाइल और भोजन की आदतों में सुधार करके हम इन समस्याओं से बच सकते है।

डायबिटीज में ब्लड शुगर का लेवल बढ़ जाता है जिससे शरीर की इंसुलिन उत्पादन क्षमता प्रभावित होती है। कई बार ऐसा होता है कि शरीर सक्रिय रूप से इंसुलिन का इस्तेमाल नहीं कर पाता।

शुगर लेवल कम करने के उपाय: Measures to Reduce Sugar Level:

तुलसी की पत्तियों के इस्तेमाल से शुगर लेवल कम करें: तुलसी की पत्त‍ियों में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते है। इसके अलावा इसमें कई ऐसे तत्व पाए जाते है जो पैंक्रियाटिक बीटा सेल्स को इंसुलिन के प्रति सक्रिय बनाती है। यह सेल्स इंसुलिन के स्राव को बढ़ाती है। सुबह उठकर खाली पेट दो से तीन तुलसी की पत्ती चबाएं। आप तुलसी का रस भी पी सकते है। तुलसी की पत्तियाँ खाने के फायदे शुगर लेवल कम करने के उपाय में शामिल है।

दालचीनी के पाउडर के इस्तेमाल से शुगर लेवल कम करें: दालचीनी भारतीय व्यंजनों में इस्तेमाल होने वाला प्रमुख मसाला है। दालचीनी के प्रयोग से इंसुलिन की संवेदनशीलता बढ़ती है। यह ब्लड में शुगर के लेवल को कम करने और नियंत्रित करने में मदद करते है। इसके नियमित सेवन से मोटापा कम कर सकते है। दालचीनी को बहुत महीन भाग में पीसकर पाउडर बना लें और उसे गुनगुने पानी के साथ लें। इसमें आपको मात्रा का विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है। पाउडर ज्यादा मात्रा में लेना खतरनाक हो सकता है।

शुगर लेवल ज्यादा होने घर बैठें पर विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श लें क्लिक करें 👇

Online Doctor Consultation through Aayu App
Online Doctor Consultation through Aayu App

ग्रीन-टी के इस्तेमाल से शुगर लेवल कम करें: ग्रीन टी में उच्च मात्रा में पॉलीफिनॉल पाया जाता है। यह एक सक्रिय एंटी-ऑक्सीडेंट है जो ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करते है। प्रतिदिन सुबह और शाम ग्रीन टी पीने से फायदा होता है।

जामुन के बीजों के इस्तेमाल से शुगर लेवल कम करें: जामुन के बीज भी शुगर लेवल कम करने के उपाय में शामिल है। इसके इस्तेमाल के लिए जामुन के बीजों को अच्छी तरह सुखा लें। सूखने के बाद इन्हें पीसकर चूर्ण बना लें। सुबह खाली पेट जामुन के बीजों को गुनगुने पानी के साथ लें। इससे डायबिटीज कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

मेथी दाना के इस्तेमाल से शुगर लेवल कम करें: मेथी दाना सभी की रसोई में पाया जाता है। यह मेथी दाना हाई ब्लड शुगर को कंट्रोल करने का रामबाण तरीका है। इसमें फाइबर और सैपोनिन पाया जाता है जो कार्बोहाइड्रेट को पचाने और सोखने की प्रक्रिया को धीमा करता है।

दिनभर में भोजन करने से 20 मिनट पहले यदि 5 ग्राम मेथी दाने का सेवन किया जाता है तो ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है। अगर आप इस रोग को नियंत्रित करने के लिए कोई दवाई या टैबलेट ले रहे है, तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि दवा और मेथी दाने के सेवन के बीच कम से कम 2 घंटे का अंतर हो।

ध्यान रखने वाली बात:

गर्भवती महिलाऐं इसका सेवन ना करें क्योंकि मेथीदाना प्रसव पीड़ा को बढ़ा सकता है।

करेला के इस्तेमाल से शुगर लेवल कम करें: करेला शुगर लेवल कम रहने वाले लोगों के लिए एक तरह की संजीवनी है। यह ऐसे लोगों के लिए दवा और सब्जी दोनों की तरह इस्तेमाल की जा सकती है। यदि आप व्रत रखें और उस व्रत में करेले के जूस पी सकते है इससे व्रत से पहले और बाद में ब्लड शुगर को नियंत्रित कर सकते है।

करेले के अंदर इंसुलिन का पदार्थ मौजूद होता है जिसे चिकित्सा विज्ञान की भाषा में पॉलीपेप्टाइड-पी भी कहते है। यह तत्व बार-बार भूख लगने की आदत को नियंत्रित रखता है।

प्रतिदिन करेले का जूस पिएँ, लेकिन करेले का जूस पीने से पहले ज्यादा उत्साहित ना होएं क्योंकि इससे आपका पेट खराब हो सकता है।

ध्यान रखने वाली बात:

गर्भवती महिलाओं के लिए करेले का जूस पीना उचित नहीं है,क्योंकि इससे गर्भपात और ब्लीडिंग होने की संभावना बढ़ जाती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐपडाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.