लीवर सिरोसिस के कारण, लक्षण और उपचार

शेयर करें

लीवर सिरोसिस धीमी गति से बढने वाला रोग होता है. इस बीमारी में मरीज का लीवर सिकुड़कर कठोर हो जाता है. मरीज के लीवर की कोशिकाएं नष्ट होकर फाइबर का रूप लेने लगती है. ये फाइबर स्वस्थ लीवर के टिशू को नष्ट कर देते हैं. जिससे यह कार्य करना बंद कर देता है और यह स्थिति जानलेवा होती है.

लीवर का कार्य

लीवर शरीर में बहुत ही महत्वपूर्म अंग माना जाता है. यह हमारे शरीर के कई महत्वपूर्ण क्रियाओं को कंट्रोल करता है. इसका काम होता है खाना का पचाना, खून की सफाई, मल त्याग में मदद करना और पित्त का उत्पादन करना. लीवर का आमतौर पर वजन 2.5 से 3 पाउंड होता है. अनियमित खानपान और खराब लाइफस्टाइल के कारण लीवर में अधिक फर्क पड़ता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)की रिपोर्ट के अनुसार लीवर सिरोसिस के 20 से 50 प्रतिशत मामले शराब के अधिक सेवन से देखने को मिलें हैं.

लीवर सिरोसिस के कारण | Causes of liver Cirrhosis

1.लीवर सिरोसिस होने की पीछे सबसे बड़ी वजह अत्यधिक मात्रा में शराब का सेवन करना है.
2.हेपेटाइटिस बी और वायरल सी का संक्रमण होने पर भी लीवर सिरोसिस की समस्‍या बढ़ जाती है.
3. इसके अलावा रक्‍त में आयरन की अधिकता की वजह से भी लीवर सिरोसिस होने की समस्‍या रहती है.
4.खान-पान में आमतौर पर वसायुक्त चीजों का ज्यादा सेवन भी इसका कारण होता है.
5.ज्यादा नॉन वेज आहार लेने से और दवाओं के साइड इफेक्ट के कारण लीवर सिरोसिस जैसी गंभीर बीमारी होती है.

स्वास्थ्य से संबंधित समस्या के लिए “Aayu”ऐप अभी डाउनलोड करें

लीवर सिरोसिस के लक्षण | Symptoms of liver Cirrhosis

  • हमेशा थकावट महसूस होना
  • खाना खाने की इच्छा कम हो जाना
  • वज़न का अचानक से बढ़ या घट जाना
  • पैरों और पेट में सूजन आ जाना
  • खून की उल्टियां होना
  • शरीर में बेवजह खुजली होना
  • शरीर का और आंखों का पीला पड़ जाना
  • मल में रक्त का मिलना
  • पेशाब के रंग बदल जाना

लीवर सिरोसिस का इलाज | Treatment of liver Cirrhosis

  • इस बीमारी का इलाज उसके असल वजह और लीवर कितने हद तक क्षति हो चुका है उस पर भी न‍िर्भर करता है.
  • अल्ट्रासाउंड के द्वारा लीवर की अंदरूनी स्थिति का पता लगाया जाता है और उस आधार पर मरीज का इलाज किया जाता है.
  • अगर इस बीमारी की शुरूआती लक्षण की जानकारी मिल जाए तो दवा के माध्यम से रोक लगाया जा सकता है.
  • बायोप्सी शरीर में इस बीमारी को बढ़ने से रोकती है और इसके साथ में उसे शरीर के अन्य अंगों में भी फैलने से रोकती है.
  • जब इस बीमारी से पीड़ित मरीज को किसी भी तरीके से आराम नहीं मिलता है, तो डॉक्टर उसे लीवर ट्रांसप्लांट कराने की सलाह देते हैं.

लीवर सिरोसिस का घरेलू उपाय | Home remedies to treat liver Cirrhosis

हल्दी

लीवर के लिए भी यह किसी चमत्कार से कम नहीं है जो हमारे लीवर में होने वाले रैडिकल डैमेज की मात्रा को कम करता है. हल्दी वसा के पाचन में मदद करती है और पित्त का निर्माण करती है, जो हमारे लीवर के लिए प्राकृतिक डीटॉक्सिफायर का काम करता है.

गाजर

गाजर में मौजूद विटमिन ए लीवर की बीमारी को रोकता है.इसका जूस लीवर की गर्मी और सूजन को भी कम करता है.लीवर सिरोसिस में पालक व गाजर का मिश्रित रस फायदेमंद साबित होता है.गाजर में इनप्लांट फ्लेवोनॉयड्स और बीटा-कैरोटीन नामक तत्व भी पाए जाते हैं जो लीवर के सुचारू संचालन में सहयोग करते हैं

सेब

सेब को संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए ही अच्छा माना जाता है. लीवर के लिए भी सेब बेहद फायदेमंद है. सेब में पेक्टिन होता है जो शरीर को शुद्ध करने और पाचन तंत्र से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है.

आंवला

आंवला विटामिन सी के सबसे संपन्न स्रोतों में से एक है और इसका सेवन लीवर की कार्यशीलता को बनाए रखता है.आंवला में लीवर को सुरक्षित रखने वाले तत्व मौजूद होते हैं. आप आंवले के जूस का भी सेवन कर अपने लीवर को स्वस्थ रख सकते है.

लीवर सिरोसिस से बचाव | How to Prevent liver Cirrhosis

स्वस्थ आहार लें
संक्रमण से बचें
लो सोडियम वाला आहार लें
शराब का सेवन करने से बचें

आयु है आपका सहायक

अगर आपको या आपके परिवार में किसी को लीवर सिरोसिस की समस्या है या खाने के बाद खून की उल्टियां हो रही है तो आज ही घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई बटन पर क्लिक करें.

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.