fbpx

jaggery in pregnancy: प्रेगनेंसी में गुड़ खाना चाहिए या नहीं

jaggery in pregnancy: प्रेगनेंसी में गुड़ खाना चाहिए या नहीं

गुड़ रिफाइंड चीनी से ज्यादा लाभदायक होता है। इसमें शुगर, आयरन और खनिज पाए जाते है लेकिन क्या आप जानते है कि गुड़ (Jaggery in Pregnancy) को प्रेगनेंसी में भी खा सकते है।

अगर नहीं तो आइये आपको इस आर्टिकल में ऐसी ही कुछ जानकारी देते है।

क्या प्रेगनेंसी में गुड़ खाना सुरक्षित है?

अगर आप गर्भवती है तो आप गुड़ का सेवन कर सकती है लेकिन ध्यान रखें इसका सेवन सिमित मात्रा में ही करें। यह आयरन से भरपूर होता है और आपके शरीर की जरूरत की पूर्ति कर सकता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए शुगर का प्राकर्तिक स्रोत ज्यादा अच्छा माना जाता है। इसके अलावा गुड़ खून और मां के दूध को प्यूरिफाई भी करता है।

इसका मतलब गुड़ गर्भावस्था में गर्भ में पल रहे शिशु को नॉरिश (Nourish) करता है। इसका असर बच्चे के जन्म के बाद भी नजर आता है। गर्भवती महिलाएं रिफाइंड चीनी की जगह गुड़ (Jaggery in Pregnancy) का सेवन कर सकती है।

गुड़ और गर्म दूध का सेवन प्रेंग्नेंट महिलाओं के लिए फ़ायदेमंद है। इसमें मौजूद सुक्रोज बॉडी में एनर्जी के लेवल बढ़ा देते हैं और शरीर की थकान और कमज़ोरी को म‍िटाते हैं।

Consumption of jaggery and hot milk is beneficial for pregnant women. The sucrose present in it increases the body’s energy levels and reduces the fatigue and weakness of the body.

Health Tip for Aayu App

आइये अब जानते है गुड़ में मौजूद पोषक तत्व।

गुड़ में मिलने वाले पोषक तत्व:

गुड़ को सुपरफूड स्वीटरनर के नाम से भी जाना जाता है। आमतौर पर गुड़ को गन्ने से बनाते है। खजूर के गुड़ भी बाजार में उपलब्ध हैं। अच्छी गुणवत्ता वाले गुड़ में 70 फीसदी से ज्यादा सुक्रोज, 10 फीसदी से कम ग्लूकोज और 5 फीसदी कम खनिज होते हैं। गुड़ में मौजूद पोषण मूल्य अलग-अलग हो सकते हैं। यह पूरी तरह से गुड़ कहा से बनाया गया है इस बात पर निर्भर करता है यानि कि दूसरी भाषा में कहे तो गुड़ बनाने के स्रोत पर निर्भर करता है।

फूड प्रोसेसिंग एंड टेक्नोलाॅजी जनरल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार आधे कप यानि 100 ग्राम गुड़ में 40 से 100 मिलीग्राम कैल्शियम, 1056 मिलीग्राम पोटेशियम 70 से 90 मिलीग्राम मैग्नीशियम, 19 से 30 मिलीग्राम सोडियम, 10 से 13 मिलीग्राम आयरन, 20 से 90 मिलीग्राम फोसफोरस, 0.2 से 0.4 मिलीग्राम जिंक, 0.2 से 0.5 मिलीग्राम मैंग्नीज, 0.1 से 0.9 मिलीग्राम काॅपर और 5.3 मिलीग्राम क्लोराइड होता है। इसमें कुछ मात्रा में विटामिन भी होता है।

गुड़ खाने के फायदे: Benefits of Eating Jaggery

  • गुड़ (Jaggery in Pregnancy) के सेवन से महिला में आयरन की पूर्ति होती है। शरीर में आयरन की कमी होने से एनीमिया हो सकता है।  
  • इसमें मौजूद पोटेशियम शरीर में इलेक्ट्रोलाइटिक को संतुलित करता है और एडीमा जैसी बीमारी के इलाज में मदद करता है।
  • विटामिन और मिनरल हड्डियों और जोड़ों के लिए लाभदायक होते हैं। इस तरह यह गर्भ में पल रहे शिशु की हड्डियों के लिए फायदेमंद है।
  • गुड़ (Jaggery in Pregnancy) पाचन तंत्र को बेहतर करने में सहायता करता है। यह पाचन एनजाइम्स के स्राव को गति प्रदान करता है। इसी वजह से यह पेट साफ रखने में मददगार है।
  • गुड़ में मौजूद मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune System) को बेहतर करता है तथा बीमारी जैसे खांसी और सर्दी को कम करता है। (यह भी पढ़ें: एंटीऑक्सीडेंट के फायदे)

गर्भावस्था में गुड़ खाने के नुकसान: Eating Jaggery in Pregnancy Side Effects

सीमित मात्रा में गुड़ (Jaggery in Pregnancy) खाना फायदेमंद हो सकता है। यदि इसे ज्यादा मत्रा में खाया जाए तो यह फायदे की जगह नुकसान भी पहुँचा सकता है।

ज्यादा मात्रा में गुड़ (Jaggery in Pregnancy) खाने से कैलोरी बढ़ती है, जिससे वजन बढ़ता है। इससे ब्लड शुगर का स्तर बढ़ सकता है। यह उन महिलाओं के लिए परेशानी बन सकती है जो पहले से ही गर्भावधि मधुमेह (Diabetes) से पीड़ित हैं। इसलिए गर्भवती महिलाओं को डायबिटीज डाइट पता होनी चाहिए। अशुद्ध गुड़ में माइक्रोब्स भी हो सकते हैं।

यह लेख केवल आपको सामान्य जानकारी देता है।अगर आपको किसी तरह की तकलीफ है तो हमारे प्लेटफार्म पर कई विशिष्ट डॉक्टर उपलब्ध है जिनसे आप ऑनलाइन परामर्श लें सकते है। आप हमारे टोल फ्री नंबर 781-681-11-11 पर भी कॉल करके इसके बारे में जानकारी लें सकते है।

अगर आप इसी तरह की सामान्य स्वास्थ्य संबंधी जानकारी जानना चाहते है तो अभी अपने फोन पर आयु ऐप डाउनलोड कर सकते है। यह आपको इसी तरह की स्वास्थ्य संबंधी जानकारी देता है जिसे आप कही भी किसी भी समय पढ़ सकते है।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )