फ़ीमेल कंडोम के इस्तेमाल का सही तरीका क्या है? Reasons to use condoms

Female condom

फ़ीमेल कंडोम (female condom) अनचाहे गर्भ को रोकने का सबसे आसान तरीका है। दुनियाभर में पुरुष कंडोम बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन वहीं, फ़ीमेल कंडोम को वह लोकप्रियता नहीं मिला पाई है जो असल में होनी चाहिए। पुरुष कंडोम को लिंग के ऊपर पहना जाता है जबकि फीमेल कंडोम योनि के अंदर लगाया जाता है। (How to use female condom)

ऐसे में महिलाओं के मन में उठने वाले सवाल जैसे फीमेल कंडोम लगाने का सही तरीका क्या है? क्या कंडोम फट सकता है? फीमेल कंडोम price क्या होता है? कंडोम के कितने फ्लेवर होते हैं? घर पर कंडोम कैसे बनाये? कंडोम से क्या प्रेग्नेंट हो सकते हैं? और महिलाओं के लिए कंडोम से होने वाले दुष्प्रभाव, इस लेख में हम इन्हीं सब सवालों का जवाब जानेंगे। 

क्या है फ़ीमेल कंडोम के इस्तेमाल का सही तरीका?

  • कंडोम खरीदने के बाद रैपर खोलें और इसे बाहर निकालें।
  • फीमेल कंडोम में एक छोटी और एक बड़ी दो रिंग लगी होती है।
  • छोटी रिंग को नजदीक लाकर दबाएं और योनि के अंदर डालें।
  • बड़ी रिंग वेजाइना की ओपनिंग को कवर करने का काम करती है।
  • इंटरकोर्स करते समय ध्यान रखें कि लिंग फीमेल कंडोम के अंदर ही जाए ना कि कंडोम के आसपास।
  • सेक्स के बाद बड़ी रिंग को खींचकर कंडोम को योनि से बाहर निकालें।
  • कंडोम में गांठ लगाकर पेपर में लपेटकर कूड़ेदान में डाल दें।

क्या कंडोम फट सकता है?

वैसे तो कंडोम के इस्तेमाल से बर्थ कंट्रोल और सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिज़िज (STD) से सुरक्षा मिलती है जैसे एचआईवी। लेकिन अगर वह फट गया तो इसका परिणाम उल्टा हो जाता है। 

लुब्रिकेंट का इस्तेमाल न करने पर- अगर सेक्स करते वक्त ज्यादा घर्षण होता है तो इससे इरिटेशन या प्राइवेट पार्ट्स में दर्द तो होता ही है कंडोम के ब्रेक होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए सेक्स करते वक्त प्राइवेट पार्ट को लुब्रिकेटेड करना न भूलें।

गलत लुब्रिकेंट का इस्तेमाल करने पर- सेक्स करते वक्त ज्यादा उत्तेजना पाने के लिए कई लोग लुब्रिकेंट के रूप में कोल्ड क्रीम, बेबी ऑयल, पेट्रोलियम जेली या हैंडलोशन का इस्तेमाल करते हैं इससे कंडोम के कमजोर होने या ब्रेक होने का खतरा रहता है।

फीमेल कंडोम के फायदे (Benefits Of Female Condom)

इसका सबसे बड़ा फायदा तो यही है कि फ़ीमेल कंडोम आपको अनचाहे गर्भ से बचाता है। फीमेल कंडोम बेहद असरदार होते हैं। करीब 72-82 प्रतिशत सुरक्षा प्रदान करते हैं। लेकिन यदि इनका प्रयोग पूरी सावधानी, समझदारी और पूरी जानकारी के साथ किया जाए तो यह 95 प्रतिशत तक कारगर सिद्ध होते हैं। 

फीमेल कंडोम का उपयोग आप मासिक धर्म के दौरान भी कर सकती हैं। इसके अलावा गर्भावस्था में भी इनका इस्तेमाल किया जा सकता है।  

कंडोम फ्लेवर

  • 1.फ्लेवर्ड कंडोम
  • 2.डॉटेड कंडोम
  • 3.सुपर थिन कंडोम
  • 4.प्लेज़र-शेप्ड कंडोम
  • 5.ग्लो इन द डार्क कंडोम

फ्लेवर्ड कंडोम- फ्लेवर्ड कंडोम ओरल सेक्स के लिए अच्छे माने जाते हैं। इसमें चॉकलेट, कॉफ़ी, स्ट्रॉबेरी, मिन्ट, वनीला जैसे कई तरह के फ्लेवर बाज़ार में मौजूद हैं। अगर आप इनका इस्तेमाल वजाइनल या एनल सेक्स के लिए करने जा रहे हैं, तो पहले जांच लें कि यह शुगर फ्री है,जिससे यीस्ट इन्फेक्शन का खतरा कम हो जाए।

किसी भी बीमारी की घर बैठे दवा या मेडिकल प्रॉडक्ट मंगवाने के लिए क्लिक करें-👇

Order medicine Online
Order medicine Online

ग्लो इन द डार्क कंडोम- अगर आप किंकी सेक्स के शौकीन हैं, तो यही आपके लिए राइट चॉइस है। 30 सेकंड रोशनी में रहने के बाद यह कॉन्डम अंधेरे में चमकने लगते हैं। यह बिल्कुल नॉन-टॉक्सिक है और इसकी तीन परतें होती हैं। अंदरूनी और बाहरी परतें लैटेक्स की बनी होती हैं, जबकि बीच की परत एक सेफ पिगमेंट की बनी होती हैं जिनके कारण वह चमकती है।

Note-Male कंडोम के उपयोग, कंडोम के फायदे क्या है, कंडोम …

लेकिन कंडोम ख़रीदते वक़्त भी आपको सावधानी बरतने की ज़रूरत है। अगली बार, जब भी आप कंडोम खरीदने जाएं तो उसपर लगा लेबल ज़रूर चेक करें और देखें कि उसे प्रेग्नेंसी और एसटीडी से बचाव के लिए एफडीए ने अप्रूव्ड किया है या नहीं। अगर वह अप्रूव्ड है तभी उसे ख़रीदें।

फ़ीमेल कंडोम इस्तेमाल करते समय सावधानियां (Precautions To Be Taken)

  • एक कंडोम दो बार इस्तेमाल नहीं कर सकते। 
  • हमेशा एक्सपायरी डेट देखकर ही कंडोम खरीदें। यदि एक्सपायरी डेट निकल चुकी होगी, तो हो सकता है इस्तेमाल के वक्त यह फट जाए। 
  • इन्हें कभी फ्लश ना करें। 
  • फीमेल कंडोम मेल कंडोम के मुकाबले थोड़ा ज्यादा ख़र्चीला होता है। 

ये भी पढ़ें-

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐप डाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.