कब्ज से है परेशान तो रोज करें इन चीजों का सेवन

बढ़ती फास्ट फूड की लत, मिसिंग मील, दूषित खानपान और तनाव भरे जीवन के चलते लोगों में कब्ज, गैस, खट्टी डकार और एसिडिटी की समस्या आम हो गई है. मौजूदा समय में देशभर में करीब 95 प्रतिशत लोग गैस और कब्ज जैसी पेट की समस्या से परेशान है. यह एक ऐसी समस्या है जिसके लिए सीधे तौर पर हम खुद जिम्मेदार हैं. क्योंकि यह हमारी लाइफस्टाइल से जुड़ी हुई बीमारी है. आइए जानते है घरेलू उपायों के बारे में जिससे पढ़ने के बाद शायद आपको इस बीमारी से राहत मिल जाए.

कब्ज के लक्षण एवं परेशानियां:

  • पेट में ऐंठन होना.
  • ठीक से पेट साफ ना होना.
  • मल का कड़क हो जाना.
  • मल त्यागने में परेशानी होना.
  • खट्टी डकारें आना, मितली आना.
  • मन ख़राब हो जाना.
  • उलटी करने का मन करना.
  • पेट का फूल जाना.
  • बवासीर तथा फिसर की परेशानी होना
//youtu.be/KoWISUaWr1A

कब्ज के कारण

इस रोग के ढ़ेरों कारण हो सकते है जैसे की मधुमेह और डायबिटीज के रोगियों में कब्ज होना आम बात होता है, क्योंकि इस दौरान रोगी के ब्लड में शुगर की मात्रा अधिक होती है,जिससे रोगी को बार बार पेशाब करने जाना पड़ता है. इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है. इस वजह से कब्ज हो जाता है.

कब्ज अक्सर उन लोगों में देखने को मिलती है जिनकी दिनचर्या काफी अस्त-व्यस्त होती है. जो ना समय पर खाना खाते है और ना ही समय पर सोते है. ऐसे लोग इस समस्या से घिरे रहते हैं. वहीं ज्यादा मसालेदार खाना खाने वाले लोगों में भी इस समस्या की शिकायत रहती है.हमेशा बैठे रहने वाले लोगों में और ऑफिस वर्क करने वालों में यह समस्या ज्यादा देखने को मिलती है. पानी तथा तरल पेय पदार्थ का कम उपयोग करना।

विशेषज्ञ डॉक्टरों से अपनी समस्याओं का घर बैठे पाएं समाधान, अभी परामर्श लें 👇🏽

कब्ज में क्या करें ,क्या ना करें ?

  • रात के खाना हमेशा हल्का और असानी से पच जाने वाला होना चाहिए.
  • रात में सोने से कम से कम 2 घंटे पहले भोजन कर लेना चाहिए.
  • खाना खाने के तुरंत बाद हार्ड वर्क नहीं करना चाहिए और ना ही सोना और नहाना चाहिए.
  • भोजन करने के 20-25 मिनट बाद ही अन्य कार्य करना चाहिए. ऐसा करने से खाना आराम से पच जाता है.
  • सुबह और शाम के समय शौच के लिए जाना चाहिए, शाम को भी शौच करने से दिन भर में तैयार हुआ मल निकल जाता है और पेट साफ रहता है.
  • अपने खाने में रेशेदार सब्जियों और फलों को शामिल करना चाहिए ,इसके सेवन से कब्ज नहीं होता है.
  • भोजन में सलाद, चोक्कर वाला आटा, दलिया, अंकुरित अनाज, को शामिल करना चाहिए.
  • मिर्च, मसालेदार, बासी, मांस, शराब और चिकनाइयुक्त पदार्थों का कब्ज के मरीज को सेवन नहीं करना चाहिए.
  • सुबह देर तक सोए रहने और रात देर तक जागने से शरीर में ऊष्णता और रूखापन बढ़ता है जिससे मल सूखता है, भूख देर से लगती है और कब्ज की शिकायत हो जाती है. इसलिए रात में जल्दी सोएं एवं सुबह जल्दी उठें.
  • तरबूज, मूली, गाजर का उपयोग करें .

घरेलू उपाए

  • सुबह उठने के बाद पानी में नींबू का रस और काला नमक मिलाकर पिएं. इससे पेट अच्छी तरह साफ होगा, और कब्ज की समस्या नहीं होगी.
  • कब्ज के लिए शहद बहुत फायदेमंद है. रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद को एक गिलास पानी के साथ मिलाकर पिएं. इसके नियमित सेवन से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है.
  • सुबह उठकर प्रतिदिन खाली पेट, 4 से 5 काजू, उतने ही मुनक्का के साथ मिलाकर खाने से भी, कब्ज की शिकायत समाप्त हो जाती है.
  • प्रतिदिन रात में हरड़ के चूर्ण या त्रिफला को कुनकुने पानी के साथ पिएं. इससे कब्ज दूर हेगा, साथ ही पेट में गैस बनने की समस्या से भी निजात मिलेगी.
  • कब्ज के लिए आप सोते समय अरंडी के तेल को हल्के गर्म दूध में मिलाकर पी सकते हैं. इससे पेट साफ होता है, और कब्ज की समस्या नहीं होती.
  • ईसबगोल की भूसी कब्ज के लिए रामबाण इलाज है. आप इसका प्रयोग दूध या पानी के साथ, रात को सोते वक्त कर सकते हैं.
  • फलों में अमरूद और पपीता, कब्ज के लि बेहद फायदेमंद होते हैं. इनका सेवन किसी भी समय किया जा सकता है.
  • दिन में कम से कम 2.5 से 3 लीटर तक पानी पीने की आदत डालें, इससे किडनी भी अच्छी रहेगी
  • शौचालय में देर तक ना बैठें।

आपके सेहत का असली साथी आयु

अगर आपके घर का कोई सदस्य लंबे समय से बीमार है या उसकी बीमारी घरेलू उपायों से कुछ समय के लिए ठीक हो जाती है, लेकिन पीछा नहीं छोड़ती है तो आपको तत्काल उसे डॉक्टर से दिखाना चाहिए. क्योंकि कई बार छोटी बीमारी भी विकराल रूप धारण कर लेती है. अभी घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई बटन पर क्लिक करें.

3 Replies to “कब्ज से है परेशान तो रोज करें इन चीजों का सेवन

  1. Pet ke andar acidity banti hai pet mein jalan hoti hai peshab ka bar bar Jana hota hai letring jaane mein samasya aati hai yani pet Puri tarah saaf nahin hota hai latrine Kaushik aati hai kripya upay bataiye

Leave a Reply

Your email address will not be published.