Gall Bladder Stone: पित्ताशय की थैली में पथरी का कारण, लक्षण और इलाज जानें

gall-bladder-stone-causes-symptoms-and-treatment

Gall Bladder Stone: गॉल ब्लैडर स्टोन के मामले पूरी दुनिया में तेजी से बढ़ रहे हैं। पित्ताशय की थैली में पथरी को गॉल ब्लैडर स्टोन (Gall Bladder Stone) के नाम से भी जाना जाता है। अमूमन यह रोग 30 से 50 साल की महिलाओं में ज्यादा पाया जाता है।

महिलाओं में जहां इस रोग की उपस्थिति तीन गुना ज्यादा होती है। आइए सीनियर सर्जन डॉ. सुभाष मेहता से जानते हैं- पित्त की थैली (पित्ताशय) में पथरी का कारण, पथरी के लक्षण और इलाज की जानकारी। (Gallbladder Stone causes, symptoms & treatment)

1. पित्ताशय की पथरी क्या होता है? (What is Gallbladder Stone)

पाचन के लिए आवश्यक एंजाइम को सुरक्षित रखने वाले महत्वपूर्ण अंग यानी पित्ताशय (pittashay)से जुड़ी सबसे प्रमुख समस्या यह है कि इसमें स्टोन बनने की आशंका बहुत अधिक होती है, जिन्हें गॉलस्टोन (Gallbladder Stone) कहा जाता है।

जब गॉलब्लैडर (Gallbladder ) में तरल पदार्थ की मात्रा सूखने लगती है तो उसमें मौजूद चीनी-नमक और अन्य माइक्रोन्यूट्रिएट तत्व एक साथ जमा होकर छोटे-छोटे पत्थर के टुकड़ों जैसा रूप धारण कर लेते हैं, जिन्हें गॉलस्टोन्स कहा जाता है। देखें Video👇

2. पित्ताशय में पथरी होने के लक्षण (Symptoms of Gallbladder Stone)

कई बार पित्त की थैली में पथरी बिना किसी लक्षण के होती है और कई बार कुछ लक्षणों भी दिखाई देते हैं। पित्ताशय की पथरी के लक्षण जो कुछ खास नजर में आते हैं वह इस प्रकार हैं।

3. पित्त की थैली(पित्ताशय)की पथरी के कारण:- Causes of gallstones

  • अगर आपका पित्ताशय पूरी तरह या अक्सर पर्याप्त मात्रा में खाली नहीं हो पाता, तो ऐसे में पित्तरस उसमें अधिक संकेंद्रित हो जाता है और पित्ताशय की पथरी (gallbladder stones) बनने में योगदान देता है।
  • यदि आपका लिवर अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रोल जारी करता है जितना वह पित्तरस में घोल नहीं पाता, तो ऐसी स्थिति में कोलेस्ट्रोल की अधिक मात्रा क्रिस्टल का रूप धारण कर लेती है और ये क्रिस्टल पित्ताशय की पथरी (gallbladder stones) का रूप धारण कर लेते हैं।

4. पित्त की थैली(पित्ताशय)की पथरी के उपचार:- Treatment of gallbladder stones

पित्त में पथरी का कोई स्थायी उपचार उपलब्ध नहीं है। लेकिन सर्जरी द्वारा पित्ताशय की पथरी को निकालना बेहतर विकल्प माना जाता है। इसलिए इसके लक्षण दिखाई देने पर तुरंत विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श (Online doctor consultation) करें। 

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए विशेषज्ञ डॉक्टर से घर बैठे परामर्श करें- 👇

Online Consultation through Aayu Card
Online Consultation through Aayu APP

5. पित्त की थैली का कैंसर क्या है? What is Gallbladder Cancer?

पित्त का कैंसर पित्ताशय की थैली में होता है। हमारे शरीर में पित्ताशय एक छोटे नाशपाती के आकार का अंग होता है जो पेट की दाईं ओर लिवर के नीचे स्थित होता है। यह पित्ताशय की थैली यकृत द्वारा उत्पादित पाचन तरल पदार्थ का संग्रह करती है। 

यदि इसका पता बीमारी की शुरुआत में ही लग जाता है तो इसके इलाज की संभावनाएं बेहतर होती है। 

6. पित्ताशय का कैंसर के लक्षण – Gallbladder Cancer Symptoms 

  • विशेष रूप से पेट के ऊपरी दाएं हिस्से में दर्द 
  • पेट का फूलना
  • खुजली
  • बुखार
  • भूख न लगना
  • बिना वजह वजन कम होना
  • जी मिचलाना
  • त्वचा का पीला और आंखों का सफेद होना

7. पित्त की थैली (पित्ताशय) के कैंसर के कारण:- Causes of Gallbladder Cancer

पित्त की थैली का कैंसर तब होता है जब पित्त की सामान्य कोशिकाओं के डीएनए में परिवर्तन होता है। इस परिवर्तन से कोशिकाएं अनियंत्रित होकर बढ़ती हैं। इकठ्ठी हुई कोशिकाएं एक ट्यूमर बनाती हैं जो पित्ताशय की थैली से भी ज्यादा बढ़ जाता है और शरीर के अन्य क्षेत्रों में फैल सकता है।

अधिकांश पित्ताशय की थैली का कैंसर ग्रंथि कोशिकाओं में शुरू होता है जो पित्ताशय की थैली की आंतरिक सतह को रेखांकित करती हैं। इस प्रकार के सेल में शुरू होने वाले पित्त के कैंसर को एडेनोकार्सीनोमा कहा जाता है।

8. पित्ताशय के कैंसर का उपचार Treatment of Gallbladder Cancer

  • कीमोथेरेपी 
  • विकिरण उपचार 
  • क्लिनिकल ट्रायल 

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए घर बैठे डॉक्टर से परामर्श और रोज़ाना हेल्थ टिप्स फ़ोन पर पाने के लिए डाउनलोड करें ‘आयु ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published.