त्वचा की चमक बढ़ाने में काम आ सकते हैं फलों के छिलके-

सुंदरता के लिए लोग क्या कुछ नही करते? ब्यूटी पार्लर से लेकर दादी-नानी के नुस्खे तथा टी.वी पर एड से प्रेरित होकर अलग-अलग क्रीमों का इस्तेमाल करते हैं। जबकि नेचुरल तरीके से सुंदरता को पाने के कई उपाय है, जो काफी किफायती और हेल्दी भी हैं। अप्राकृतिक तरीके और कमर्शियल (commercial) कॉस्मेटिक्स से जो सुंदरता क्षण में मिलती है एक लंबे अंतराल के बाद चेहरे पर प्रतिकूल प्रभाव भी डालती है। इसका कारण है उनमें उपस्थित स्टेरॉयड अथवा दूसरे स्ट्रॉंग केमिकल्स!!! इनके बुरे प्रभाव, जैसे समय से पहले उम्र का झलकना…, चेहरे पर बाल आना, त्वचा का पतला होना, चेहरे पर लाली, काले-सफेद धब्बे और एलर्जी आदि कई तरह की समस्याओं की संभावना बढ़ जाती है। एक डर्मेटोलॉजिस्ट की नज़र से कुछ फलों के अनजाने लाभ हैं जो हम आप तक पहुँचाना चाहते हैं। 

” आपकी त्वचा को आकर्षक तथा स्वस्थ बना देंगे ये फल: “

1.संतरा- यह सबसे कम कैलोरी और विटामिन -सी का बहुत बड़ा स्त्रोत है। संतरे का रस हो या फल, दोनों ही लाभकारी हैं। संतरा मैंग्नीशियम, कैल्शियम, विटामिन ए व बी, फास्फोरस, पोटैशियम और अन्य पोषक तत्वों के साथ एंटी ऑक्सिडेंट से भरपूर है। संतरे के छिलके का पाउडर फेस मास्क में मिलाने से त्वचा चमकदार बनती है। संतरे का छिलका प्राकृतिक तरीके  से स्क्रब (Natural Scrub) और ब्लिचिंग के लिए भी मदद करता है। कील मुहांसे,रूखी त्वचा (dead skin), आँखों के नीचे काले गड्डे व बेजान चमड़ी में चमक व तीव्रता लाता है।

फेसपैक: 1 चम्मच दलिया और शहद को संतरे के छिलके में मिलाएँ और 15 मिनट के लिए चेहरे पर लगा कर रखे। ब्लैकहेड्स और मृत त्वचा को निकालने के साथ ही यह पिंपल्स की रोकथाम में भी मदद करता है। इसके रस को चेहरे पर सीधे भी लगाया जा सकता है। 

Note: संतरे के छिलकों में साइट्रिक एसिड होने के कारण यह चेहरे को गोरा करने में मदद करता है। साथ ही बंद रोम छिद्रो को खोल देता है। मास्क बनाने के लिए शहद को भी मिलाया जा सकता है।

त्वचा में निखार लगाएगा विटामिन सी, जानें इसके फायदे

2. सेब- यह त्वचा को हाइड्रेट करके चेहरे पर निखार लाता है। इसमें विटामिन ए, सी, बी6, रिबोफ्लविन, पोटैशियम, कॉपर और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है। सेब को स्किन टोनर भी कहा जाता है।

·      फेसपैक- सेब के रस को 20 मिनट के लिए चेहरे पर लगा कर रखे फिर ठंडे पानी से धो ले। जौ के आटे में शहद, दही और सेब का पल्प मिलाकर फेसमास्क बनाएं और 30 मिनट के लिए चेहरे पर लगाकर रखे फिर ठंडे पानी से धो लें।

3. अनार- अनार विटामिन C और एंटी-ऑक्सीडेंट्स का बेहतरीन स्त्रोत है। ह्रदय रोग, खांसी जुकाम के साथ-साथ ये स्किन हेल्थ के लिए बहुत उपयोगी माना जाता है। अनार (pomegranate) के छिलकों से एक्ने, पिंपल, स्किन रैशेज़ और डैंड्रफ जैसी समस्याएं कम होती है। यह सनब्लॉक की तरह भी काम में लिया जा सकता है।

4. तरबूज़: आमतौर पर तरबूज़ या वॉटरमेलन वजन कम करने में कारगर है। बहुत लोग यह नहीं जानते की तरबूज के गूदे से ज्यादा लाभकारी तरबूज का छिलका है। इसमें जिंक, पोटेशियम, मैग्नीशियम, विटामिन A, C व कई और एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। तरबूज़ के छिलके को फेसवॉश की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है। त्वचा पर इसे मलने से त्वचा पर जमा गंदगी और तेल पूरी तरह साफ हो जाता है। 

 5. केला- केला विटामिन सी, बी और पोटैशियम का शानदार स्त्रोत है। इसके छिलके को दांतों की सफेदी बढ़ाने, एक्ने व सोरायसिस को कम करने में सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया गया है। केला सेहत, पोषण, बाल और त्वचा के सौंदर्य के लिए उत्तम फल माना जाता है।

Note: हर बार ताजा केले का छिलका ही इस्तेमाल करें, अन्यथा स्किन रिएक्शन हो सकता है।

एलोवेरा: चेहरे की चमक के लिए घरेलू समाधान | DAILY HEALTH TIP | 3 FEBRUARY 2020 | AAYU APP

6. पपीता- अनेक गुणों से भरपूर पपीता भी चेहरे पर एक निखार लाता है। यह रूखी स्किन को मॉस्चराइज करके मुलायम बनाता है। पके हुए पपीते को सीधे चेहरे पर लगाकर मसाज कर सकते हैं। पपीते के छिलके को कील मुहांसे के निशानों को कम करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। 

फेसपैक- दो चम्मच पपीते के गूदे में एक चम्मच गिल्सरीन, एक चम्मच मिल्क पाउडर और दो चम्मच पाइनएप्पल जूस को मिलाकर 20 से 25 मिनट तक चेहरे पर लगा कर रखें इसके बाद चेहरा धो लें। इससे चेहरे की चमक बढ़ती है। 

7. आम – आम एक स्वादिष्ठ फल होने के साथ- साथ सौंदर्य के लिए लाभकारी भी है। आम के छिलके में एंटीऑक्सीडेंट्स अधिक मात्रा में होते हैं। जिसे स्किन पर मलने से टॉक्सिक फ्री कण (जैसे-धूप, प्रदूषण, तनाव, फास्टफूड आदि से पैदा होने वाले तत्व) को कम किया जा सकता है अथवा त्वचा में ताजगी लाई जा सकती है। 

प्रकृति के करीब रहने में जितने फायदे हैं, उसका तो कोई मुकाबला नहीं है। लेकिन एक बात का ध्यान रखना बेहद महत्वपूर्ण है। वह ये है कि हर इंसान की त्वचा भिन्न होती है तथा उस पर अजमाई सौंदर्य विधियां कम या ज्यादा असर कर सकती है। इसलिए यह अनिवार्य है कि एक योग्य सलाहकार, जैसे की डर्मेटोलॉजिस्ट, कॉस्मेटोलॉजिस्ट से विस्तृत रुप में सलाह मशवरा किया जाए, जो आपकी स्किन को समझकर एक स्पष्ट राय दे सकें।

आयु है आपका सहायक

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते आज विश्व टेलीमेडिसिन को अपना रहा है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भी आमजन से टेलीमेडिसिन के साथ-साथ स्वदेशी अपनाने की बात कही है। भारत का नंबर वन हेल्थकेयर प्लेटफॉर्म आयु पर आप घर बैठे देश के सर्वश्रेष्ठ डॉक्टरों से इलाज़ और परामर्श पा सकते हैं। आज ही डाउनलोड करें स्वदेशी स्वास्थ्य ब्रांड आयु ऐप. हमेशा देश के बेहतर स्वास्थ के लिए अग्रसर |

Leave a Reply

Your email address will not be published.