FIGHT AGAINST DEPRESSION | हराएं डिप्रेशन को, अपनाएं कुछ उपाय

डिप्रेशन (Depression) या उदासी आज के दौर में अमूमन हर किसी में देखी जाती है। कई लोगों में ये कुछ समय के लिए होती है पर कई लोग इससे लड़ने में असमर्थ हो जाते हैं और मेजर डिप्रेशन (Depression) का शिकार हो जाते हैं।

शारीरिक स्वास्थ्य हमारे मानसिक स्वास्थ्य पर निर्भर करता है और जब तक हमारा मस्तिष्क स्वस्थ नहीं होगा। हमारा शरीर शिथिल व धीरे काम करने लगेगा। ऐसी स्थिति में आपका किसी भी काम में मन नहीं लगेगा व आप में उर्जा की कमी साफ़ दिखाई देगी।

डिप्रेशन (Depression) से लड़ने के लिए मरीज़ को अपनी आत्मशक्ति की बहुत आवश्यकता पड़ती है। मनोचिकित्सक आपको दवाएं दे कर आपकी मदद कर सकते हैं पर इससे उबरने के लिए कोशिश आपको करनी होती है।

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए आज ही “Aayu” ऐप डाउनलोड करें

आइये कैसे दिनचर्या में कुछ बदलावों से आप अपने मूड को सही रख सकते हैं व डिप्रेशन (Depression) से लड़ सकते हैं।

1. व्यायाम करें: डिप्रेशन (Depression) के मरीज़ के लिए सबसे कमज़ोर समय होता है जब वो सो कर उठता हैं। उसकी इच्छाशक्ति इस समय काफ़ी कमज़ोर होती है व पुरे दिन को उर्जावान बनाने के लिए उसे सबसे ज़्यादा ज़रूरत होती है व्यायाम की। सबसे पहले उठकर व्यायाम या योग करें। ध्यान, प्राणायाम व शारीरिक व्यायाम आपके मस्तिष्क को सक्रीय करता है व आपको ख़ुशी का अनुभव देता हैं।

2. सकारात्मक सोचें: याद रखें की डिप्रेशन (Depression) की आधी जीत आपकी सोच पर निर्भर करती हैं। अपने आपको नकारात्मक भावों में ना जाने दें। सकारात्मक रहे, सकारात्मक किताबें पढ़ें व खुश रहें।

3. संतुलित भोजन लें: डिप्रेशन (Depression) के मरीज़ अधिकतर ख़ुद का ख्याल नहीं रखते हैं। ऐसे में वो सबसे पहले अपने खान-पान के प्रति उदासीन हो जाते हैं व ख़ुद की सेहत को नज़रंदाज़ करने लगते हैं जिस कारण धीरे-धीरे उनका स्वास्थ्य भी गिरने लगता है। ऐसे में डिप्रेशन (Depression) के मरीज़ को अपने भोजन पर ख़ास ध्यान देना चाहिए। समय पर भोजन, दूध, जूस,दही , फल व सभी पोष्टिक खाद्य पदार्थ लेने चाहियें।

4. अच्छी नींद लें: यदि इस अवस्था में सबसे ज़्यादा कुछ प्रभावित होता है तो वो है नींद। कोशिश करें कि आप बिस्तर पर जाने से पहले अपने दिमाग को शांत रखें व सकारात्मक किताब पढ़ें। इससे आपको एक अच्छी नींद मिलने में मदद मिलेगी।

5. डायरी लिखें: अपने विचारों से उलझें रहने के बजाय रोज़ अपने सभी विचारों को एक डायरी में लिखें। डायरी लिखने से आप अपने सभी नकारात्मक भावों को निकाल देते हैं व उनकी तीव्रता आपको उतना प्रभावित नहीं करती।

DEPRESSION | डिप्रेशन को ना करें नज़रंदाज़, समय पर लें इलाज

6. कहीं घूमने जाएं: प्रकृति से बढ़कर कोई आरोग्य नहीं होता। जब भी आप उदास हो या डिप्रेशन (Depression) की तरफ जाने लगें तो कहीं घूमने जाएं। प्रकृति आप पर एक सकारात्मक प्रभाव डालती है जो आपको खुश रखने में मदद करती है।

7. अपने दोस्त व परिवार के साथ रहें: जब भी आप तनाव में हो, अकेले रहने से बचें। हमेशा अपने परिवार व दोस्तों के साथ समय बिताएं व अपनी सभी परेशानियां उनके साथ साझा करें।

8. कोई रुचि अपनाएं: अपने आप को व्यस्त व शांत रखने के लिए कोई ना कोई रुचि अपनाएं जैसे संगीत, नृत्य, चित्रकारी, बागबानी आदि। अपने आप को व्यस्त रखने से आपका तनाव व डिप्रेशन (Depression) कम होने लगता हैं।


मेडकॉर्ड्स (MedCords) विशेषज्ञ के अनुसार इन कुछ उपायों द्वारा आप अपने डिप्रेशन (Depression) को कम कर सकते हैं व एक स्वस्थ व तनाव रहित जीवन जी सकते हैं।

आयु है आपका सहायक

आपके जो भी संदेह हो अपने सायकायट्रिस्ट से जरूर पूछे पर खुद ही निर्णय न करें। अगर आपके आसपास किसी में भी कोई असामान्य व्यवहार दिखे या सभी जांचे कराने के बाद भी कोई बीमारी सामने नहीं आती है तो आपको एक बार सायकायट्रिस्ट से जरूर मिलना चाहिए। क्योंकि चिंता या टेंशन से जुड़ी बीमारियां अक्सर जांचों में नहीं आती हैं। अगर कोई चिंता,तनाव या अन्य मानसिक समस्या है उसे छुपाएं नहीं, तुरंत आयु पर मौजूद सायकायट्रिस्ट से घर बैठे लें सलाह।

अभी घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई बटन पर क्लिक करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.