सेक्स के दौरान योनि में सूखापन के कारण, लक्षण और इलाज — Vaginal Dryness in Hindi

problem of dryness in vagina

सेक्स (Sex)के दौरान योनि में सूखेपन की समस्या होने से कई महिलाऐं घबरा जाती है। कई बार शर्मिंदगी के कारण वह यह परेशानी खुलकर बताने में भी हिचकिचाती हैं। इसमें घबराने की कोई बात नहीं है। कई बार जानकारी के आभाव में महिलाऐं ऐसी परेशानी से झुंझती है। आइए जानते हैं, योनि में सूखापन के कारण, लक्षण और इलाज — Vaginal Dryness in Hindi (Yoni Me Sukhapan)

सेक्स (Sex) करने के दौरान संतुष्टि ना होना या फिर शादी के बाद महिला या पुरुष में सेक्स को लेकर उत्तेजना ना होना जैसी कई सेक्स समस्याएं आम हैं। पुरुषों के पेनिस में तनाव ना आना, महिलाओं की योनि का सूखापन जैसी बहुत सी सेक्स प्रॉब्लम्स हैं, जिनके बारे में महिलाएं ही नहीं, पुरुष भी चर्चा नहीं करना चाहते।

सेक्स प्रॉब्लम्स (Sex problems) के चलते अगर समय रहते उचित सलाह और चिकित्सा न मिले तो व्यक्ति हीन भावना और डिप्रेशन (Depression) का भी शिकार हो सकता है। ऐसी सेक्स प्रॉब्लम का अगर समाधान न हों तो इसका परिणाम  रिश्ता टूटने से लेकर आत्महत्या तक हो सकती है । यहां हम आपको बता रहे हैं  प्रमुख सेक्स समस्याओं (Sex problems) के बारे में और यह भी कि इनका समाधान कैसे किया जाए-

लिंग के ढीलेपन को इन योगासन से करें दूर

योनि में सूखेपन की समस्या के लक्षण : Vaginal Dryness Symptoms in Hindi

कुछ महिलाओं में केवल कुछ समय पर ही योनि में सूखेपन की समस्या के लक्षण दिखते है जैसे कि यौन संबंध के दौरान, जबकि अन्य महिलाओं में यह आमतौर पर महसूस होता है।

  • योनि में तकलीफ़, खुजली या जलन होना
  • यौन संबंध के दौरान असुविधा होना
  • यौन संबंध बनाने की इच्‍छा में कमी होना
  • उत्तेजित होने और संभोग के चरम (ऑर्गेज्‍़म) तक पहुँचने में कठिनाई होना
  • योनि की सतह पीली और पतली दिखना 
  • योनि का संकरा या छोटा होना
  • सामान्य से अधिक बार पेशाब आना
  • पेशाब के रास्‍ते में बार-बार संक्रमण (यूटीआई) होना

जानिए इरेक्टाइल डिसफंक्शन क्या होता है और इरेक्टाइल डिसफंक्शन समाधान

पुरुषों में प्री मच्योर इजेकुलेशन

अगर सेक्स करते समय, समय से पहले पुरुष का सीमेन निकल जाए तो इसे प्री मच्योर इजेकुलेशन कहा जाता है। यह स्थिति सेक्स लाइफ खराब कर देती है । पर यह अक्सर कोई बीमारी न होकर मन की स्थिति होती है जिसका समाधान बहुत ही आसान है। (और पढ़ें- HEALTH BENEFITS OF HARAD: हरड़ के सेवन से यौन समस्याओं के साथ बवासीर का भी इलाज )

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श करें- 👇

Online Consultation through Aayu Card
Online Consultation through Aayu App

योनि में सूखेपन की समस्या का कारण:

रजोनिवृत्ति (Menopause) के समय: रजोनिवृत्ति के दौरान हार्मोन इस्ट्रोजन का स्तर लगातार कम होने से योनि में लगातार सूखापन हो सकता है इसे बायोलॉजिकल भाषा में वेजाइनल एट्रॉफी या एट्रोफिक वेजिनाइटिस भी कहते हैं।

स्तनपान या प्रसव के दौरान: बच्‍चे को जन्म देने के बाद इस्ट्रोजन का स्तर कुछ समय के लिए कम हो सकता है और आपकी योनि में सामान्य से अधिक सूखापन महसूस होता है।  

यौन संबंध से पहले उत्तेजित ना होने पर: यदि आप यौन संबंध बनाने से पहले उत्तेजित महसूस नहीं करती हैं तो आपकी योनि में प्राकृतिक नमी नहीं पैदा होती और आपको यौन संबंध बनाने में तकलीफ हो सकती है। 

कुछ प्रकार के गर्भनिरोधक दवाएं लेने से: कंबाइंड गर्भनिरोधक गोली और गर्भनिरोधक इंजेक्शन योनि में सूखापन होने का कारण बनना आम बात है।   

योनि में सूखापन मधुमेह या स्जोग्रेन (Sjögren) सिंड्रोम के कारण भी हो सकता है, जि‍समें प्रतिरक्षा तंत्र (इम्यून सिस्टम) शरीर की द्रव पैदा करने वाले ग्रंथियों (Glands) पर हमला करता है।

दर्द भरा सेक्सुअल इंटरकोर्स (Painful intercourse (dyspareunia) in Hindi

योनि के मुख पर ही कई नसों के आखिरी सिरे मौजूद होते हैं जिससे यह हिस्सा काफी संवेदनशील हो जाता है और इसीलिए सेक्स के दौरान लिंग के अन्दर जाने पर इस हिस्से में दर्द होने लगता है।( और पढ़ें- फीमेल ऑर्गैज्म से जुडी 10 बातें जो आपको जानना है ज़रूरी )

शुष्क योनि होने पर क्या करना चाहिए?

अगर आपको शुष्क योनि की परेशानी है तो पहले आप खुद कुछ विकल्पों को आजमाएं।

  • लुब्रीकेंट या वेजाइनल मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें। आप इन्हें बिना पर्चे के भी खरीद सकते है।
  • यौन संबंध बनाने से पहले खुद को उत्तेजित होने के लिए कितना समय देना चाहिए यह पढ़ें। इसके साथ-साथ आप सेक्स संबंधी सुझावों के बारे में भी पढ़ें।

अगर आप किसी भी तरह की सलाह लेना चाहते है तो डॉक्टर से बात करें। आप डॉक्टर से नीचे दिए गए कुछ बातों को देखकर मिलें।

  • अगर ऊपर बताए गए सुझाव आपकी मदद नहीं कर रहे है।
  • अगर आपके लक्षण गंभीर है और आप अपनी रोज की गतिविधियां करने में खुदको सक्षम नहीं महसूस कर रहें हो।
  • आपको किसी अन्य तरह के लक्षण है जैसे गर्म पसीना आना या रात को पसीना आना आदि।

आप इस बात का ध्यान रखें कि यह एक आम समस्या है तो डॉक्टर से इस बारे में बात करने से पहले हिचकिचाएं नहीं।

योनि में सूखापन की समस्या होने पर उपचार:

योनि में सूखेपन की समस्या होने पर कई तरह से आपको राहत मिल सकती है।

लुब्रीकेंट: लुब्रीकेंट तरल पदार्थ या एक प्रकार के जेल होते हैं जो आप सेक्स करने से पहले योनि, वाल्वा या अपने साथी के लिंग पर लगा सकते है। इससे योनि के सूखेपन में तुरंत राहत तो मिलती है लेकिन कम समय तक।

अलग-अलग ब्रांड के लुब्रीकेंट दुकानों और फार्मेसियों पर बिना पर्चे के मिल जाती है। अगर आप अपने लिए अच्छा लुब्रीकेंट ढूंढ़ रहें है तो आप अलग-अलग ब्रांड के लुब्रीकेंट का उपयोग करें।

वेजाइनल मॉइस्चराइजर: योनि का मॉइस्चराइज़र एक ऐसी क्रीम हैं जो आप अपनी योनि की नमी बनी रखें रहने के लिए इस्तेमाल करती है।

यदि सूखेपन की समस्या सिर्फ यौन संबंध के दौरान नहीं हो रही तो ये लुब्रीकेंट से बेहतर उपाय हो सकते हैं, क्योंकि इनका प्रभाव लंबे समय तक रहता है। इन्हें हर कुछ दिन में बार बार लगाने की आवश्यकता होती है। 

पानी-आधारित मॉइस्चराइज़र दूसरों की तुलना में अच्छे माने जाते है, क्योंकि तेल या पेट्रोलियम से बने उत्पाद लेटेक्स कंडोम को नुकसान पहुँचा सकते हैं और योनि में भी इससे परेशानी हो सकती हैं।

योनि  इस्ट्रोजन: यदि आपकी योनि में सूखापन रजोनिवृत्ति (Menopause) के कारण हो रहा है तो आप डॉक्टर से परामर्श के बाद योनि इस्ट्रोजन का इस्तेमाल कर सकते है।

वेजाइनल इस्ट्रोजन आपकी योनि में रखी जाने वाली गोलियों के रूप में,वेजाइनल क्रीम और वेजाइनल रिंग के रूप में आपके लिए उपलब्ध है। यह प्रोडक्‍ट समान रूप से काम करते हैं, लेकिन आप एक प्रकार का प्रोडक्ट ही इस्तेमाल करें।

हालांकि, असर शुरू होने में कुछ सप्ताह लगते हैं, इसलिए आप शुरूआत में एक लुब्रीकेंट या मॉइस्चराइज़र का उपयोग कर सकती हैं।  आमतौर पर इसका इलाज लंबे समय तक जारी रखने की आवश्यकता होती है, क्योंकि यदि उपचार बंद हो जाएँ तो सूखेपन की समस्या वापस आ सकती है।

हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी (एचआरटी): एचआरटी एक उपचार है जिसमें दवा लेना रजोनिवृत्ति (Menopause) के दौरान कम होने वाले हार्मोन की जगह बदलने के लिए शामिल है।

यह दवा प्रेस्क्रिप्शन (डॉक्टरी पर्चे) से मिलती है। यह गोलियाँ, एक त्वचा पैच, त्वचा के नीचे एक इंप्‍लांट (प्रत्यारोपण) या त्वचा पर लगाए जाने वाले जेल के रूप में उपलब्ध है।

योनि इस्ट्रोजन की तुलना में एचआरटी का शरीर पर गहरा प्रभाव पड़ता है, इसलिए यदि आपको रजोनिवृत्ति (Menopause) के अन्य लक्षण हैं, जैसे कि हॉट फ्लश (गर्म पसीना आना), तो इसे लेना अच्छा हो सकता है। हालाँकि, इसके दुष्प्रभाव भी हैं।   

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है।अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐप डाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.