Covid-19 Vaccine update : फ़ाइज़र कोविड-19 वैक्सीन की लाखों डोज फेकेंगा ये देश, जानें क्यों?

Covid-19 Vaccine pfizer

Covid-19 Vaccine update : कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए दुनिया भर में कई वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी गई है, लेकिन इन सबमें मुख्य हैं फाइजर कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) और भारत बायोटेक की वैक्सीन। भारत ने कई देशों को कोविड-19 वैक्सीन के डोज भेजें हैं। ऐसा करने पर विदेशी रहनुमाओं ने भारत की तारीफ भी की है, लेकिन अब जापान को फाइजर की वैक्सीन के लाखों डोज फेंकने पड सकते हैं। 

फ़ाइज़र कोविड वैक्सीन की लाखों डोज फेकेंगा जापान (Japan will throw away millions of pfizer covid 19 vaccine)

दरअसल, जापान ने फ़ाइज़र की कोविड-19 वैक्सीन का 144 मिलियन डोज सुरक्षित किया है, मगर मात्र 120 मिलियन डोज का ही इस्तेमाल करने में सक्षम हो सकता है।  फ़ाइज़र की कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के लाखों डोज को जापान में फेंके जाने की संभावना है क्योंकि प्रत्येक शीशी से अंतिम खुराक निकालने के लिए मुल्क के पास पर्याप्त खास सिरिंज का अभाव है। फ़ाइज़र की दो डोज वैक्सीन शीशी में बेची जाती हैं, जिसमें छह डोज होते हैं, लेकिन छठे डोज को निकालने के लिए एक खास सिरिंज की जरूरत होती है और जापान के पास बहुत स्पेशल सिरिंज नहीं है। हालांकि, अमेरिका और यूरोपीय यूनियन भी खास सिरिंज को हासिल करने के लिए अतिरिक्त काम कर रहे हैं।

खास सिरिंज का अभाव

जानकारी के मुताबिक, जापान में इस्तेमाल की जानेवाली सिरिंज सिर्फ पांच डोज निकाल सकती है। छह डोज निकालने वाली सभी सिरिंज का इस्तेमाल करने के बावभी ये काफी नहीं होगा। जापान की सरकार ने पिछले महीने फ़ाइज़र के साथ वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) का 144 मिलियन डोज की खरीदारी के लिए समझौता करने का एलान किया, लेकिन अंतिम डोज को निकालने के लिए पर्याप्त सिरिंज के अभाव में मात्र 120 मिलियन डोज का ही इस्तेमाल हो सका है। फिलहाल, जापान को सौंपे जाने वाले डोज की संख्या का उचित इस्तेमाल करने की जरूरत होगी।

कोविड वैक्सीन का अंतिम डोज निकालना असंभव (Impossible to get last dose of covid-19 vaccine)

गौरतलब है कि 6 डोज निकालने वाली सिरिंज के अभाव में जापान में फ़ाइज़र की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) से केवल 60 मिलियन लोगों का ही टीकाकरण किया जा सकेगा। जबकि जरूरत 72 मिलियन लोगों का टीकाकरण करने की है। 

भारत से कोरोना वैक्सीन पहुंचने पर इमोशनल हुए डोमिनिकन गणराज्य के PM

Covid-19 vaccine: कोरोना वायरस महामारी को हराने के लिए भारत में वैक्सीनेशन अभियान शुरू हो चुका है। दुनिया कोरोना से लड़ सके इसीलिए भारत कई देशों को वैक्सीन दे रहा है। इसी कड़ी में भारत की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) डोमिनिकन गणराज्य पहुंच गई है। वैक्सीन देश में पहुंचने के बाद डोमिनिकन गणराज्य के प्रधानमंत्री रूजवेल्ट स्केरिट ने पीएम मोदी और भारत के लोगों को शुक्रिया कहा है।

दरअसल, 9 फरवरी को डोमिनिका के डगलस-चार्ल्स एयरपोर्ट पर भारत से वैक्सीन (Covid-19 Vaccineलेकर विमान पहुंचा। यह वैक्सीन पड़ोसी देश बारबाडोस के एयर नेशनल गार्ड के प्लेन से पहुँचीं। वैक्सीन को रिसीव करने के लिए खुद पीएम स्केरिट और उनके कैबिनेट सहयोगी मौजूद थे। 

ये भी पढ़ें-

डिस्क्लेमर- 

इस लेख में हमने फाइजर की कोविड वैक्सीन का जिक्र किया है साथ ही ये भी बताया है कि कैसे भारत दुनिया के अन्य देशों को कोविड-19 वैक्सीन मुहैया करा रहा है। हमें उम्मीद है कोरोनावायरस पर ये जानकारी आपको पसंद आएगी।

विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित  स्वास्थ्य की हर अपडेट पाने और घर बैठे डॉक्टर से ऑनलाइन परामर्श लेने के लिए अभी डाउनलोड करें आयु ऐप। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.