Coronavirus Vaccine: 27 करोड़ लोगों को मुफ्त मिलेगी कोरोना वैक्सीन !

Coronavirus Vaccine free above 50 people

Coronavirus Vaccine: देश में 16 जनवरी से कोरोना का वैक्सीनेशन शुरु हो गया था और पहले फेज में कोरोना के फ्रंट लाइन वर्कर्स को वैक्सीन दी जा रही है। लेकिन अनुमान के मुताबिक अभी भी बहुत कम लोगों ने वैक्सीन लगवाई है।

क्योंकि लोग कोरोना वैक्सीन के प्रभावी होने को लेकर डरे हुए हैं। इसी कड़ी में भारत सरकार कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर प्लान बी की तैयारी कर रही है। सरकार के प्लान बी में 50 साल से अधिक की उम्र के 27 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन मुफ्त देने की योजना है।

1. प्रधानमंत्री मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक

50 साल से अधिक उम्र के लोगों को मुफ्त वैक्सीन लगाने को लेकर प्रधानमंत्री मोदी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। इन लोगों को मार्च के मध्य में टीके लगने शुरू होंगे। केंद्र सरकार के सूत्रों के अनुसार, 50 साल से ज्यादा उम्र के 27 करोड़ लोगों को जुलाई तक टीके लगाने का लक्ष्य रखा है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्रियों की बैठक में इस बात पर चर्चा होगी कि वैक्सीनेशन (Vaccination) का कितना खर्च केंद्र देगा और कितना राज्य देंगे।

जानकारी के अनुसार, वैक्सीनेशन खरीद का पूरा खर्च केंद्र सरकार उठाने के लिए राजी हो चुकी है, लेकिन वह चाहती है कि ट्रांसपोर्टेशन और स्टोरेज पर होने वाला खर्च राज्य सरकारें उठाएं। प्रधानमंत्री मोदी की बैठक के बाद नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 आखिरी फैसला लेगा।

2. 46 करोड़ लोगों को 35 हजार करोड़ के बजट से लग सकती है (Coronavirus Vaccine) वैक्सीन

1 फरवरी को पेश केंद्रीय बजट में वैक्सीन (coronavirus vaccine) के लिए 35 हजार करोड़ रु. घोषित हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अफसर ने बताया कि इस राशि से 46 करोड़ लोगों को वैक्सीन के दो-दो डोज मुफ्त दिए जा सकते हैं। अगर राज्य खर्च उठाने से इंकार करते हैं कि बजट में घोषित राशि को बढ़ाया भी जा सकता है। हालांकि, हम मानकर चल रहे हैं कि राज्य सरकारें वैक्सीन के रखरखाव का खर्च उठाने को राजी हो जाएंगी।

3. वैक्सीन के लिए ऐसे बनेगी रुपरेखा (Coronavirus Vaccine structure for vaccination)


गौरतलब है कि 50 साल के ऊपर के 27 करोड़ लोगों को अलग-अलग आयुवर्ग में रखने का विचार है। जैसे- 50 से 55, 56 से 60, 61 से 65, 66 से 70 और फिर 71 से ऊपर। पहले 71 से ज्यादा उम्र के लोगों को टीका लगेगा या 50 के ऊपर के सभी लोगों को एक साथ लगेगा, इसकी रूपरेखा आखिरी दौर में है। हालांकि, अंतिम फैसला राज्यों से मिलने वाले सुझावों के बाद ही लिया जाएगा।

आयु ऐप पर घर बैठे डॉक्टर से ऑनलाइन परामर्श करें। क्लिक करें- 👇

Online Doctor Consultation through Aayu App
Online Doctor Consultation through Aayu App

4. कोवीशील्ड और कोवैक्सीन की 1-1 डोज की कीमत


भारत सरकार ने ‘कोवीशील्ड’ की एक डोज 210 रुपए, जबकि ‘कोवैक्सीन’ की 1 डोज 295 रुपए में खरीदी है। सरका का कहना है कि 1 करोड़ हेल्थकेयर वर्कर्स और 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगने वाली वैक्सीन पर कुल 1872.82 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इनमें 1392.82 करोड़ रुपए वैक्सीन की खरीद पर खर्च हुए हैं, जबकि 480 करोड़ रुपए ट्रांसपोर्टेशन और स्टोरेज पर खर्च हो रहे हैं।

5. अब तक 70 लाख लोगों को लग चुका है कोरोना का टीका


भारत में अब तक 70 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन (Coronavirus vaccine) लग चुकी है। अब सभी राज्यों में फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी टीके लगने शुरू हो चुके हैं। सरकार देशभर में 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स मानकर चल रही हैं। हालांकि, अब तक 1 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स ने ही टीके के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है।

ये भी पढ़ें

डिस्क्लेमर:

Coronavirus Vaccine पर हम आपको हर दिन हर छोटी से छोटी जानकारी मुहैया कराते हैं। आज इस लेख में हमने सरकार की कोरोना वैक्सीन को लेकर आगे की रणनीति के बारे में बताया है। उम्मीद है यह लेख आपको पसंद आएगा। अगर आप अपने फोन पर विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो अभी डाउनलोड करें आयु ऐप। आयु ऐप पर आप किसी भी बीमारी के लिए घर बैठे ऑनलाइन परामर्श ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.