Latest Health Updates: सबसे पहले भारत को मिलेगी कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड

कोरोना वैक्सीन

कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड (Corona vaccine Covishield) सबसे पहले भारत को मिलेगी। केंद्र सरकार ने भारत के हर व्यक्ति तक कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) पहुँचाने के लिए ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है। यह तय करेगी कि जब भी कोविड-19 का वैक्सीन उपलब्ध हो, हर भारतीय तक उसे पहुंचाया जाए।

1. सबसे पहले किसे मिलेगी कोरोना वैक्सीन?

सरकार ने पहले ही हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन कर्मचारियों का डेटाबेस, कोल्ड चेन्स को जोड़ने और सीरिंज-नीडिल्स की खरीद जैसे काम तेज कर दिए हैं। साथ ही वैक्सीन (Vaccine) लगाने की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। कोविड-19 वैक्सीनेशन (Covid-19) ड्राइव अगले साल शुरू होगी। केंद्र सरकार ने राज्यों से अपने स्तर पर एक कमेटी बनाने को कहा है, जो हर व्यक्ति तक वैक्सीन (Vaccine) पहुंचाना सुनिश्चित करेगी।

पीएम मोदी जल्द करेंगे सीरम इंस्टीट्यूट का दौरा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही सीरम इंस्टीट्यूट का दौरा कर सकते हैं। SII में इस समय ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन बनाई जा रही है। संभावना है कि देश में भी सबसे पहले यही वैक्सीन उपलब्ध होगी।

प्रधानमंत्री 27 या 28 नवंबर को SII का दौरा कर सकते हैं। वहीं, 100 से ज्यादा देशों के राजनयिक भी पुणे में SII और वैक्सीन बना रही दूसरी फार्मा कंपनियों का दौरा करने वाले हैं। पहले यह दौरा 27 नवंबर को होने वाला था, जो अब 4 दिसंबर को होगा।

भारत में कोरोना की इन वैक्सीन पर चल रहा है काम

साथ ही वैक्सीन (Vaccine) लगाने की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। भारत में पांच वैक्सीन पर काम चल रहा है। पुणे-बेस्ड सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) कोवीशील्ड (Covishield) बना रहा है, जिसे ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और फार्मा कंपनी एस्ट्राजेनेका ने मिलकर बनाया है। यह वैक्सीन इस समय भारत में अंतिम स्टेज के ट्रायल में हैं।

2. कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक-V 95% तक असरदार, ये होगी कीमत

कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक V ट्रायल के दौरान कोरोना से लड़ने में 95% असरदार साबित हुई है। कोरोना की कौनसी वैक्सीन कितनी असरदार है और कीमत पढ़ें-

ये भी पढ़ें-

लेटेस्ट कोरोना वायरस अपडेट्स और किसी भी बीमारी से संबंधित विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श के लिए डाउनलोड करें ”आयु ऐप’। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.