Coronavirus update: इन उपायों को अपनी दिनचर्या में शामिल करने से सुरक्षित रहेंगे आप

Coronavirus prevention

आधी से ज्यादा आबादी कोरोना वायरस के संक्रमण के डर से घरों में कैद है। भारत में भी प्रधानमंत्री ने 21 दिन तक लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अब तक भारत में कोरोनावायरस के 562 पुष्ट मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 11 की मौत भी हो चुकी है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेताया है कि अगर कड़े कदम नहीं उठाए गए, तो संक्रमण फैलने की गति बेहद ज़्यादा बढ़ सकती है। कोरोनावायरस के आतंक के बीच यहां कुछ सामान्य सवालों के जवाब दिए गए हैं, जो हर व्यक्ति को सुरक्षित रहने के लिए मददगार हो सकते हैं।

कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने में मदद करेंगे ये सवाल-जवाब

साबुन या सैनिटाइज़र : साबुन और पानी से हाथों को साफ करने का तरीका अब भी सबसे अच्छा है। हाथों को कम से कम 20 सेकंड तक साबुन और पानी से धोया जाना चाहिए।

कौन सा सैनिटाइज़र सही है : यदि साबुन और पानी उपलब्ध नहीं है, तो कम से कम 60 प्रतिशत अल्कोहल वाले हैंड सैनिटाइज़र का उपयोग करें।

सैनिटाइज़र का उपयोग कैसे करें : हैंड सैनिटाइज़र को एक हथेली पर लगाने के बाद दोनों हाथों को एक साथ रगड़ना चाहिए. रगड़ते समय, जेल को हाथ की सभी सतहों को कवर करते हुए अंगुलियों पर फैलाया जाना चाहिए। यह प्रक्रिया जेल के पूरी तरह सूखने तक की जानी चाहिए।

क्या हम किसी और चीज को कीटाणुरहित कर सकते हैं : क्लीन्ज़र और वाइप्स उन वस्तुओं, सतहों की सफाई करने और कीटाणुरहित करने में प्रभावी होते हैं, जिन्हें अक्सर छुआ जाता है।

साबुन से कैसे धोएं : यह मानने का कोई कारण नहीं है कि ठंड का मौसम नोवेल कोरोनावायरस या अन्य बीमारियों को खत्म कर सकता है। बाहरी तापमान या मौसम कोई भी हो, सामान्य मानव शरीर का तापमान लगभग 36.5 डिग्री सेल्सियस से 37 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। कोरोनावायरस से खुद को बचाने के लिए सबसे प्रभावी तरीका अल्कोहल पर आधारित हैंड रब से साफ करना या साबुन और पानी से धोना है।

अल्कोहल आधारित सैनिटाइज़र क्यों : अल्कोहल वायरस और बैक्टीरिया सहित विभिन्न प्रकार के रोगाणुओं को मारने में प्रभावकारी है। कोरोना वायरस एक ऐसे प्रकार का वायरस है, जिसमें एक बाहरी आवरण होता है। इसे आवरण को इनवेलप कहा जाता है। अल्कोहल इस आवरण को खत्म कर सकता है।

क्या वोदका का सैनिटाइज़र के रूप में उपयोग किया जा सकता है : कई DIY (डू इट योरसेल्फ) साइटों और कार्यक्रमों में यह सुझाव दिया गया है। लेकिन इसके बावजूद वोदका में प्रभावी रूप से रोगाणुओं को मारने के लिए पर्याप्त मात्रा में एल्कोहल नहीं है।

Corona Virus (कोरोना वायरस ): घर बैठे डॉक्टर से इलाज़ लें। फ्री आयु ऐप डाउनलोड करें । AAYU App

कोरोना वायरस से बचाव के लिए इम्यूनिटी बढ़ाने के कुछ और उपाय

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि अपने हाथों को नियमित रूप से धोना कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए सबसे महत्वपूर्ण कदम है। उपरोक्त आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के अलावा, आप अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए निम्नलिखित चीजों का सेवन कर सकते हैं-

  • तुलसी और अदरक की चाय (दिन में किसी भी समय)
  • अदरक, तुलसी और शहद का काढ़ा (दो या तीन रोज)
  • इम्यूनिटी बढ़ाने वाले लड्डू (गुड़, घी, हल्दी और अदरक पाउडर के साथ)
  • रात को हल्दी वाला दूध

आयु है आपका सहायक

प्रधानमंत्री ने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में लोगों को संकल्प लेने को कहा है कि वे केंद्र और राज्य सरकारों के परामर्श का अनुपालन करेंगे। मोदी ने लोगों से अनुरोध किया कि वे नियमित जांच के लिए अस्पताल जाने से बचें ताकि स्वास्थ्यकर्मियों पर दबाव कम हो। ऐसे में आयु ऐप आपको कोरोना या किसी भी अन्य बीमारी से लड़ने और उसकी संपूर्ण जानकारी विशेषज्ञ डॉक्टरों के द्वारा आपको घर बैठे निशुल्क उपलब्ध करवा रहा है। आप इस ऐप के माध्यम से विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श और इलाज की सुविधा ले सकते हैं इसके लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.