fbpx

Corona brief news: नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन के अब इंसानों पर ट्रायल की तैयारी

Corona brief news: नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन के अब इंसानों पर ट्रायल की तैयारी

कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine)  पर दुनिया के कई देशों में काम चल रहा है। इसी बीच कोरोना की वैक्सीन बनाने वाली ऑस्ट्रेलिया की फर्म ने दावा किया है कि नाक से दी जाने वाली वैक्सीन कोरोना को रोकने में 96 फीसदी तक असरदार है और जानवरों पर सफल परीक्षण के बाद अब इसके इंसानों पर ट्रायल की तैयारी चल रही है। 

1.नेजल स्प्रे वैक्सीन का ट्रायल अब इंसानों पर

नेजल स्प्रे वैक्सीन तैयार करने वाली कम्पनी एना रेस्पिरेट्री ने दावा किया है कि यह इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग बनाती है। और अगले 4 महीने के अंदर इंसानों पर इसका ट्रायल शुरू होगा। 

ब्रिटेन की सरकारी एजेंसी पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड की रिसर्च कहती है, ऑस्ट्रेलियाई कम्पनी की नेजल स्प्रे INNA-051 को वैक्सीन के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

2.कोरोना पर 10 गुना अधिक असर करने वाली दवा मिली

ASAR
Coronavirus Drug Vs Antibiotic Teicoplanin: Here’s Indian Institute Of Technology (IIT) Delhi Latest Research Updates

कोरोना वायरस से पीड़ित रोगियों के इलाज के लिए आईआईटी दिल्ली के शोधकर्ताओं ने 10 गुना अधिक असरदार दवा की खोज की है। इस दवा को अमेरिका में क्लीनिकल ट्रायल के लिए इसे फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन भी अनुमति भी दे चुका है। 

बतादें, टीकोप्‍लेनिन एक ग्‍लायकोपेप्‍टाइड एंटीबायोटिक है, इससे ग्राम-पॉजिटिव बैक्टीरिया के संक्रमण का इलाज किया जाता है। 

न्यूज़ रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईआईटी दिल्ली के संस्थान कुसुम स्कूल ऑफ बायोलॉजिकल साइंसेस ने 23 ऐसी दवाओं पर रिसर्च की, जिनसे कोरोना के मरीज़ों का इलाज किया जा रहा है। यह रिसर्च इंटरनेशनल जर्नल ऑफ बायोलॉजिकल मैक्रोमॉलिक्यूल में भी प्रकाशित हुई है। 

देश में कोरोना मरीज़ों की संख्या 61 लाख 48 हजार 640 हो चुकी है। सोमवार को 69 हजार 668 मरीज बढ़े। वहीं, 85 हजार 194 लोग स्वस्थ भी हो गए। ये आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं।

3. सीरो सर्वे में बड़ी आबादी कोरोना संक्रमित 

sero survey
Considerable population susceptible to covid shows sero survey centre

कोरोना वायरस (Coronavirus) के लगातार बढ़ते संक्रमण के बाद देश के कई बड़े शहरों में ICMR ने सीरो सर्वे करवाए थे, दूसरी बार के सीरो सर्वे के आंकड़ों में भारत की बड़ी आबादी के कोरोना संक्रमित होने की बात सामने आई है। 

बतादें, आईसीएमआर (ICMR) द्वारा कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को लेकर देश में कराए गए दूसरे सीरो सर्वे (Sero Survey) के नतीजे स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी कर दिए हैं। आईसीएमआर (ICMR) द्वारा दूसरा सीरो सर्वे काफी आबादी को अभी भी कोरोना वायरस संक्रमण से प्रभावित होने संभावना दर्शाता है।

दूसरे सीरो सर्वे के नतीजों के अनुसार देश मे 7.1% वयस्कों (18 साल से ऊपर) के कोरोना वायरस के संपर्क में आ चुके होने की संभावना है जबकि 10 साल से ऊपर के 6.6% आबादी में वायरस के संपर्क में आने की संभावना है। 

लेटेस्ट कोरोना वायरस अपडेट्स और किसी भी बीमारी से संबंधित विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श के लिए डाउनलोड करें ”आयु ऐप’।

CATEGORIES
Share This

COMMENTS

Wordpress (1)
  • comment-avatar
    Sanjay Agrawal 12 months

    good

  • Disqus ( )