Corona Brief News: कोरोना से बचाने का ‘सुरक्षा कवच’, बनी सबसे असरदार एंटीबॉडी

कोरोना Corona Antibody

कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप दुनिया में लगातार और बहुत तेजी से बढ़ रहा है, हालांकि समय के साथ अब इसके लक्षणों में बदलाव और इससे रिकवर हुए मरीज़ों में इज़ाफा हुआ है। दुनिया के कई देशों के वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) पर काम कर रहे हैं।

हाल ही में जर्मनी के वैज्ञानिकों ने ऐसी एंटीबॉडी (Antibodies) की खोज की है जो कोरोना से लड़ने में असरदार है। इस एंटीबॉडी (Antibodies) से पैसिव वैक्सीन (Vaccine) तैयार की जा सकती है। 

1. कोरोना एंटीबॉडी की सफलता के बाद अब इंसानों को देने की तैयारी-

Corona Antibody कोरोना
Coronavirus Antibodies And COVID 19 Passive Vaccination | Here’s Latest Research Updates

कोरोना (Corona) से बचाने का ‘सुरक्षा कवच’ यानि कोरोना की असरदार एंटीबॉडी का चूहों पर सफल परीक्षण करने के बाद , अब इसका इंसानों पर ट्रायल करने की तैयारी की जा रही है।

रिसर्च करने वाले जर्मन सेंटर फॉर न्यूरोडिजेनेरेटिव डिसीज के वैज्ञानिकों ने कोरोना से उबर चुके लोगों के खून से 600 तरह की एंटीबॉडीज अलग कीं। लैब में टेस्ट के बाद पता चला कि इनमें से कुछ एक्टिव एंटीबॉडीज कोरोना से लड़ने में असरदार साबित हो सकती हैं।

रिसर्च के मुताबिक, इस एंटीबॉडी का चूहों पर सकारात्मक असर हुआ है। असर दो तरह से दिखा है। पहला, जो चूहे कोरोना से संक्रमित थे, उनमें इस एंटीबॉडी का हल्का असर दिखा। दूसरा, जिन चूहों में संक्रमण से पहले ये एंटीबॉडी डाली गईं वो बिल्कुल स्वस्थ रहे।

जर्नल सेल में प्रकाशित शोध के मुताबिक, चूहों में मौजूद कोशिकाएं इंसानी कोशिकाओं से मिलती जुलती हैं, इसलिए इस एंटीबॉडी को मरीजों के लिए भी प्रभावी मनाया गया है।

2. PM मोदी ने दुनिया को कोरोना संकट से बाहर निकालने का किया वादा


Who praises pms assurance of India’s vaccine production capacity

कोरोना वायरस (Coronavirus) का संकट पूरी दुनिया पर छाया हुआ है। इस महामारी से निपटने के लिए कई देशों में कोरोना वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) पर काम चल रहा है। इसी बीच, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया को कोरोना संकट से बाहर निकालने का विदा किया है, जिसकी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने तारीफ़ की है। 

पीएम श्री मोदी ने कहा कि महामारी के इस मुश्किल समय में भी भारत के फार्मा उद्योग ने 150 से अधिक देशों को जरूरी दवाइयाँ भेजी हैं। डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अदानोम गेब्रिएसस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आश्वासन की तारीफ की है। 

प्रधानमंत्री ने आश्वासन दिया है कि भारत कोविड-19 से लड़ रहे देशों की मदद के लिए अपनी टीका उत्पादन क्षमता का इस्तेमाल करेगा। गेब्रिएसस ने कहा कि इस महामारी को केवल संसाधनों के आदान-प्रदान के जरिए ही हराया जा सकता है।

लेटेस्ट कोरोना वायरस अपडेट्स और किसी भी बीमारी से संबंधित विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श के लिए डाउनलोड करें ”आयु ऐप’।

Leave a Reply

Your email address will not be published.