बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा ने शुरु किया ‘सेहत साथी का साथ’ अभियान, अब हर भारतीय को मिलेगा अच्छा स्वास्थ्य

Bollywood actor campaigning online medical store app sehat sathi app

Sehat sathi ka sath campaign By Sanjay Mishra: सेहत साथी का साथ’ अभियान की शुरुआत कर रहे हैं बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा और सेहत साथी ऐप। हर भारतीय तक बेहतर स्वास्थ्य पहुँचाने और प्रत्येक मेडिकल स्टोर को ऑनलाइन बनाने के उद्देश्य से ‘सेहत साथी का साथ’ अभियान की शुरुआत की गई है।

जब स्वस्थ होगा इंड़िया तभी तो आत्मनिर्भर होगा इंड़िया | जी हां, भारत को स्वास्थ्य के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से भारत का अपना हेल्थकेयर नेटवर्क मेड्कॉर्ड्स ने घर बैठे डॉक्टर और दवा पहुँचाने के लिए ‘आयु और सेहत साथी ऐप’ लांच किया है।

सेहत साथी ऐप का उद्देश्य

1. सेहत साथी ऐप से कोई भी मेडिकल स्टोर 5 मिनट में ऑनलाइन बन सकता है। 

2. ग्राहकों से चैट करके ऑनलाइन दवाइयाँ के आर्डर प्राप्त कर सकते हैं और कमाई बढ़ा सकते हैं। 

3. मरीज़ों के मेडिकल रिकॉर्ड सुरक्षित (डिजिटल) करके आमदनी बढ़ा सकते हैं। 

4. मरीज़ों को सेहत साथी ऐप से विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा ई-परामर्श दिला कर अपनी कमाई में इजाफा कर सकते हैं। 

सेहत साथी ऐप को इस्तेमाल करने का तरीका – 

1.मेडिकल स्टोर गूगल प्ले स्टोर से ‘’सेहत साथी ऐप’’ डाउनलोड करें। 

2.ड्रग लाइसेंस या सरकारी पहचान पत्र से अपने मेडिकल स्टोर को सत्यापित करें।

मशहूर बॉलीवुड एक्टर संजय मिश्रा और सेहत साथी ऐप ने सेहत साथी अभियान की शुरुआत करते हुए एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें एक मेडिकल स्टोर के संघर्ष की कहानी बताई गई है, कैसे एक मेडिकल स्टोर चलाने वाला व्यक्ति सबकी ज़रूरतों का ध्यान रखता है। रात-दिन एक करके सबकी फिक्र करता हुआ, बिना अवकाश लिए लोगों के घर-घर दवाइयाँ पहुँचाता है। मेडिकल स्टोर की इन्हीं मुश्किलों को हल करने के लिए सेहत साथी ऐप लांच किया गया है। जिसके ब्रांड एंबेसडर ढ़ोढूं जस्ट चिल फेस एक्टर संजय मिश्रा हैं। 

सेहत साथी का साथ अभियान को लेकर क्या कहना है एक्टर संजय मिश्रा का-

‘’सेहत साथी ऐप भारत के मेडिकल स्टोर्स को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में उठाया गया श्रेष्ठ कदम है। इसके जरिए सभी मेडिकल स्टोर अपना ऑनलाइन पंजीकरण करके अपनी आमदनी में इज़ाफा कर सकते हैं’’।  

एक्टर संजय मिश्रा ने सभी मेडिकल स्टोर्स से अपील करते हुए कहा कि आपका मेडिकल स्टोर है तो सेहत साथी के जरिए उसे ऑनलाइन बनाएं और घर-घर में दवाएं पहुँचाए। देश को स्वस्थ बनाने में योगदान दें। लोकल फोर वोकल को मजबूत बनाते हुए जुड़िए भारत के अपने हेल्थ केयर नेटवर्क से आज ही डाउनलोड करें और अपने मेडिकल स्टोर को जोड़िए सेहत साथी ऐप से। अपनों का साथ दें। मेरे मेडिकल स्टोर से दवाइयाँ मंगवाने के लिए आयु ऐप डाउनलोड करें। 

कैसे बढ़ती है सेहत साथी (मेडिकल स्टोर) की आमदनी?

  • मेडिकल स्टोर के पास अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए यह तरीके है:
  • – अपने मेडिकल स्टोर से मरीज का इलाज़ करवा कर
  • – मरीज के इलाज़ के बाद उसको दवाइयाँ बेच कर
  • – ग्राहक का आयु कार्ड बनवा कर 

सेहत साथी ऐप से मेडिकल स्टोर ग्राहक का इलाज़ कैसे करवा सकता है?

– सेहत साथी ऐप में डॉक्टर से इलाज़ बटन पर क्लिक करके मरीज का केस बना कर डॉक्टर से इलाज़ करवा सकते है।

सेहत साथी ऐप से ग्राहक का इलाज़ करवाकर कमाई कैसे बढ़ती है?

– सेहत साथी ऐप से हर ग्राहक का इलाज़ करवाने पर मेडिकल स्टोर को कमिशन मिलता है। मतलब अगर 1 दिन में 100 मरीजों का इलाज़ करवाया तो भारी कमाई।

मरीज को दवा बेचकर कैसे कमा सकते हैं?

– जब आप मरीज का इलाज़ करवाते हैं तो मरीज की दवाइयों का पर्चा भी बनता है और ग्राहक दवाइयाँ आपके मेडिकल स्टोर से ही लेता है जिससे आपकी कमाई बढ़ती है।

आयु कार्ड से कैसे कमाई होती है?

जब आप ग्राहक का आयु कार्ड बनाते हैं तो आपको हर आयु कार्ड बनवाने पर भारी कमिशन मिलता है। आयु कार्ड बनने के बाद ग्राहक आपके द्वारा ही डॉक्टर से इलाज़ लेता है जिससे आपकी कमाई बढ़ती है, साथ ही इलाज़ के बाद दवाइयाँ भी लेता है जिसका मतलब और कमाई। आयु कार्ड से आपकी 3 बार कमाई होती है। आप जितना ज्यादा आयु कार्ड बनाएँगे उतनी ही आपकी कमाई बढ़ेगी। Also Read: आयु कार्ड क्या है, इसका कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं और आयु कार्ड आमजन की जरूरत को कैसे पूरा करता है। (What is Aayu Card, How to use & How Aayu Card helps people ?)

Leave a Reply

Your email address will not be published.