कीवी खाने के प्रेगनेंसी में क्या-क्या फायदे है? | Daily Health Tip | Aayu App

benefits of kiwi in pregnancy

गर्भवती महिलाओं के लिए कीवी का सेवन बहुत फ़ायदेमंद है क्योंकि कीवी में फोलिक एसिड होता है जो बच्चे के मस्तिष्क और रीढ़ के जन्म दोषों को रोकने में मदद करता है।

Consumption of kiwi is beneficial for pregnant women since it contains folic acid which is a B vitamin that helps prevent major birth defects of baby’s brain and spine.

Health Tip for Aayu App

Benefits of Kiwifruit in Pregnancy: गर्भावस्था के दौरान कीवी का सेवन लाभकारी है। कीवी में विटामिन-सी, फोलेट और फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत है। अगर आपके शरीर में फोलिक एसिड की कमी है तो कीवी का सेवन करना आपके लिए अच्छा है। कीवी का सेवन प्रेगनेंसी में फायदेमंद इसलिए भी है क्योंकि फोलिक एसिड का सेवन गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है। अगर माँ के गर्भ में पल रहे बच्चे को फोलिक एसिड की कमी होती है तो बच्चे में न्यूरल ट्यूब विकार (दिमाग और रीढ़ की हड्डी से जुड़ी बीमारी) की समस्या हो सकती है।

कीवी खाने के प्रेगनेंसी में क्या-क्या फायदे है?

पाचन में मदद करें: कीवी फल में डाइटरी फाइबर पाया जाता है। डाइटरी फाइबर मल को नरम करने में मदद करता है। जिस वजह से यह कब्ज की समस्या दूर करने में मददगार है जो पाचन प्रक्रिया (Digestive Process) का एक अहम हिस्सा है। इसलिए कीवी का उपयोग पाचन प्रक्रिया (Digestive Process) में लाभदायक होता है।

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं: कीवी में भरपूर मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है। विटामिन-सी शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करता है। कीवी का उपयोग एलर्जी और ऑक्सिडेशन की प्रक्रिया से बचाव करने में सहायक है। यह शरीर में ऊर्जा का संचार करने में भी मदद करता है।

न्यूरोट्रांसमीटर को बढ़ाएं: कीवी फल में सेरोटोनिन (एक रसायन) पाया जाता है, जिसे डाइटरी न्यूरोट्रांसमीटर कहा जाता है। इस कारण ऐसा माना जाता है कि कीवी फल का सेवन करने से न्यूरोट्रांसमीटर की गतिविधियों में सुधार आता है। न्यूरोट्रांसमीटर मस्तिष्क के कार्य को बेहतर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

ब्लड शुगर को नियंत्रित करें: कीवी में शुगर की मात्रा बहुत कम होती है। इसका उपयोग करने से ब्लड शुगर की मात्रा में परिवर्तन नहीं आता इसलिए अगर कोई गर्भवती महिला डायबिटीज की समस्या से परेशान है, तो वह कीवी का सेवन करें।

घावों को भरे और हड्डियों को मजबूत करें: कीवी में विटामिन-K पाया जाता है, जो चोट लगने या कट जाने पर खून को जमाने का काम करता है। यह घाव भरने में मददगार है। यह हड्डियों को भी मजबूत करता है।

एनीमिया से बचाव करें: गर्भावस्था के दौरान बच्चे को विकास के लिए आयरन की जरूरत होती है, जो वह माँ से लेता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं में आयरन की कमी से एनीमिया की संभावना बढ़ जाती है इसलिए कीवी में पाया जाने वाला विटामिन-सी दूसरे आयरन युक्त पदार्थों से आयरन को अवशोषित (Absorb) करने में मदद करता है।

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published.