BENEFITS OF CURD IN SUMMERS | गर्मियों में दही के 10 चमत्कारी फ़ायदे

शेयर करें

वैसे तो दही (Curd) बहुत सामान्य खाद्य पदार्थ है जो हर घर में प्रयोग में लाया जाता है लेकिन क्या हम जानते हैं की दही (Curd) के फायदे कितने हैं? दही को हम सुपरफ़ूड भी बोल सकते हैं क्यूंकि इसके अनेक फायदे हैं। गर्मियों (Summers) में दही (Curd) बहुत ही गुणकारी साबित होता हैं क्यूंकि इसकी ठंडी तासीर कई तरह के गर्मी के नुकसान से शरीर को बचाती है।

एक पोष्टिक थाली में दही (Curd) का स्थान बहुत महत्वपूर्ण हैं क्यूंकि दही में दूध से ज़्यादा कैल्शियम पाया जाता है व साथ ही अच्छी मात्रा में प्रोटीन, फॉस्फोरस, आयरन इत्यादि भी होता हैं। ये आपके समग्र स्वास्थ्य के लिए एक बहुत ज़रूरी खाद्य पदार्थ है।

आइये जानते हैं दही के फ़ायदे (Benefits of Curd):

1. पाचन तंत्र के लिए लाभकारी (Beneficial for Digestive System):

दही एक अच्छा प्रीबायोटिक (Prebiotic) होता है। इसके गुणकारी बैक्टीरिया पेट के लिए बहुत अच्छे होते हैं। यह पाचन तंत्र को मज़बूत बनाने के साथ ही ख़राब पेट जैसी समस्या से भी निजात दिलाते हैं।

2. मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली (Strong Immune System):

दही (Curd) में पाए जाने वाली जीवित सक्रिय कल्चर (बैक्टीरिया) रोग पैदा करने वाले कीटाणुओं से लड़ते हैं और आपकी आंत और आंतों को पथरी से बचाए रखती हैं। ऑस्ट्रिया के वियना विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के एक दल द्वारा किए गए एक वैज्ञानिक अध्ययन में पाया गया कि दही की 7-औंस की खुराक (लगभग 200 ग्राम) खाने से प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune System) उतनी ही मज़बूत होती है जितना कि पॉपिंग पिल्स लेने से।

किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए आज ही “Aayu” ऐप डाउनलोड करें

3. हाई ब्लड प्रेशर को कम करता है (Reduces High Blood Pressure):

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (एएचए) के उच्च रक्तचाप अनुसंधान वैज्ञानिक सत्र में प्रस्तुत एक शोध से पता चला है कि जो लोग अधिक मात्रा में कम वसा वाला दही (Non-Fat Curd) खाते हैं, उनमें दूसरों की तुलना में हाई ब्लड प्रेशर विकसित होने की संभावना 31 प्रतिशत कम थी। पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्वों के साथ दही में विशेष प्रोटीन, हाई ब्लड प्रेशर को कम करने और एक स्वस्थ दिल को बढ़ावा देने में मदद करता है।

4. हड्डियों के लिए अच्छा (Good for Bones):

संयुक्त राज्य अमेरिका के कृषि विभाग के अनुसार एक कप दही (250 ग्राम) में लगभग 275mg कैल्शियम होता है। कैल्शियम की एक दैनिक खुराक न केवल हड्डियों के घनत्व को बनाए रखने में मदद करती है, बल्कि उन्हें मजबूत भी करती है। यह वसा और कैलोरी में कम है और इस प्रकार, आपके वज़न को कम रखने में भी मदद कर सकता है।

5. योनि में संक्रमण को रोकता है (Prevents Vaginal Infections):

दही (Curd) महिलाओं के लिए विशेष रूप से अच्छा हो सकता है क्योंकि यह खमीर संक्रमण (Yeast Infection) के विकास को हतोत्साहित करने में मदद करता है। दही में पाए जाने वाले लैक्टोबैसिलस एसिडोफिलस बैक्टीरिया को शरीर में संक्रमण के विकास को नियंत्रित करने और हाइड्रोजन पेरोक्साइड का उत्पादन करके खमीर (Yeast) को मारने के लिए जाना जाता है।

6. सुंदर और स्वस्थ त्वचा (Beautiful & Healthy Skin):

दही (Curd) का आपकी त्वचा पर मॉइस्चराइजिंग प्रभाव पड़ता है और यह आपकी सूखी त्वचा को प्राकृतिक रूप से ठीक करता है। बहुत से लोग मुँहासे से पीड़ित होते हैं। दही खाना उसमें बहुत लाभकारी होता है। दही फेस पैक के लिए एक उत्कृष्ट सौंदर्य सामग्री है क्योंकि इसमें लैक्टिक एसिड होता है जो एक एक्सफोलिएटर के रूप में काम करता है और सभी मृत कोशिकाओं और धब्बों को साफ करता है व त्वचा में चमक प्रदान करता है।

7. हार्ट के लिए फायदेमंद (Beneficial to Heart):

दही (Curd) खाने से हार्ट में होने वाले कोरोनरी आर्टरी रोग से बचाव होता हैं। साथ ही ये शरीर में कोलेस्ट्रोल को कम करता है। इससे आपका हार्ट स्वस्थ रहता है।

10 BENEFITS OF FLAX SEED | अलसी के बीज के प्रमुख 10 स्वास्थ्य लाभ

8. गर्मी व लू से बचाव (Protects from Heat Stroke):

गर्मियों में दही, छाछ व लस्सी आपको गर्मी व लू से बचाव करती है। लू (Heat Stroke)लगने पर दही पीना चाहिए।

9. सनबर्न व टेन में फायदेमंद (Beneficial in Sunburn and Tan):

गर्मियों में बाहर जाना ही पड़ता है और ऐसी स्थिति में सनबर्न (Sunburn) के साथ त्वचा टेन (Tan) हो जाती है। इससे बचने के लिए आप दही का प्रयोग कर सकते हैं। सनबर्न होने पर दही को शरीर पर मलना चाहिए।

10. पेट की गर्मी कम करता है (Reduces Stomach Heat):

गर्मियों में ज़्यादा मसालेदार खाना खाने या कई अन्य कारणों से पेट में जलन व गर्मी बढ़ जाती है। इसको रोकने के लिए दही (Curd) व उससे बनी छाछ का प्रयोग पेट की गर्मी शांत करने में फायदा पहुंचाता हैं।

Aayu है आपका सहायक

अगर आपके घर का कोई सदस्य लंबे समय से बीमार है या उसकी बीमारी घरेलू उपायों से कुछ समय के लिए ठीक हो जाती है, लेकिन पीछा नहीं छोड़ती है तो आपको तत्काल उसे डॉक्टर से दिखाना चाहिए. क्योंकि कई बार छोटी बीमारी भी विकराल रूप धारण कर लेती है. अभी घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई बटन पर क्लिक करें.


शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.