नाभि पर तेल लगाने के फायदे | Daily Health Tip | Aayu App

why to apply oil on naval

नारियल तेल में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते है जो महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से राहत दिलाता है।

” Coconut Oil has Anti-Oxidant property which helps to get relief from menstrual pain in women.

Health Tip for Aayu App

नाभि हमारे शरीर का सेंटर प्वाइंट होता है जिसके साथ हमारी बॉडी का नर्वस सिस्टम जुड़ा होता है इसलिए नाभि की साफ-सफाई का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। ऐसी बहुत-सी परेशानियाँ होती है जिन्हें आप नाभि के जरिए ठीक कर सकते है। आइये हम इस आर्टिकल में आपको कुछ नाभि पर तेल लगाने के फायदे बताते है। नाभि में बदल-बदल कर तेल लगाने से आपको हेल्थ के साथ-साथ ब्यूटी से जुड़ें भी कई फायदे मिलते है।

अगर आप सोने से पहले 2 बूंदे नारियल का तेल नाभि में डालकर सोते है, तो आपके सेहत के लिए लाभदायक होता है। नाभि में तेल लगाने से स्किन, आँखें, मस्तिष्क और प्रजनन की क्षमता (Fertility) विकसित होती है। नारियल का तेल काफी जाना-माना और कई गुणों से भरपूर होता है। इसमें सैचुरेटेड फैट की मात्रा काफी होती है, जिसकी वजह से न्यूट्रीशनल वैल्यू बहुत अधिक हो जाती है।

नाभि पर तेल लगाने के फायदे:

सर्दियों में राहत दिलाएँ: नाभि में नारियल तेल लगाने से सर्दी, जुकाम की समस्याओं से राहत मिलती है। इसके अलावा अगर आप अपने नाभि में नियमित रूप से नारियल का तेल लगाते है, तो इससे आपकी हड्डियों और घुटनों का दर्द भी दूर होता है। रात को सोने से पहले अपने नाभि में दो बूंद नारियल का तेल डालें। इसके बाद पेट के आसपास हल्के हाथों से मालिश करें। 

पेट दर्द और मासिक दर्द से राहत दिलाएँ: अगर आप पेट दर्द की समस्या से परेशान है, तो नाभि में नारियल का तेल डालें। इससे आपको पेट दर्द की समस्या से राहत मिलेगा। यह मासिक धर्म के दर्द से भी राहत दिलाने में मदद करता है। नियमित रूप से नाभि में नारियल का तेल लगाने से अपच, उल्टी, गैस और अन्य पेट की समस्या से राहत मिलती है। नारियल तेल में एंटी-आक्सीडेंट गुण पाए जाते है, जो महिलाओं में मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से आराम दिलाते है।

आँखों के लिए बेहतर: नाभि में नारियल तेल लगाने से आँखों की रोशनी अच्छी होती है। नारियल का तेल आँखों के लिए लाभदायक होता है। नारियल तेल को रुई की मदद से नाभि में डालें और करीब 10 से 15 मिनट तक के लिए मसाज करें।  

ऊर्जा चक्र को संतुलित करें: आयुर्वेद के अनुसार हमारे शरीर का नाभि चक्र ऊर्जा का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। इसमें हमारी इच्छाशक्ति और लक्ष्य छिपे होते है। ऊर्जा चक्र को संतुलित करने के लिए आप नियमित रूप से अपने नाभि में नारियल का तेल लगाएं। 

दाग धब्बों और कील मुहांसों से राहत दिलाएँ: अगर आप स्किन पर होने वाले मुहांसों से परेशान है तो आपको नाभि में तेल लगाने से राहत मिल सकती है।

त्वचा में निखार दिलाएँ: तेल नाभि के लिए काफी फायदेमंद होता है, यह आपकी स्किन में ग्लो लाता है।

फटे होठों से निजात दिलाएँ: त्वचा को मॉइस्चराइज करने और होंठों को नरम और सॉफ्ट रखने के लिए रात में नाभि पर तेल लगाएँ।

जोड़ों में दर्द से आराम दिलाएँ: नाभि में सरसों के तेल की दो बूंदें नियमित रूप से सोने से पहले डालें, ऐसा करने से आपको जोड़ों में होने वाले दर्द की समस्या से निजात मिलती है।

इंफेक्शन से बचाव करें: नाभि में मैल जमने के कारण वहाँ पर बैड बैक्टेरिया का जमाव होने लगता है, जिसके कारण इंफेक्शन की समस्या हो सकती है। बॉडी में कहीं भी चोट लगने के कारण घाव हो सकता है, उससे भी इंफेक्शन का खतरा बढ़ सकता है। आप नाभि में तेल की बूँदें डाल सकते है।

पेट के दर्द से राहत दिलाएँ: गैस, अपच, आदि के कारण कई बार पेट में दर्द की समस्या हो सकती है, ऐसे में यदि आप नाभि में तेल की दो बूँदें डाल देते है, ऐसा करने से आपको पेट से जुड़ी समस्या का हल करने में मदद मिलती है।

प्रजनन क्षमता में सुधार लाएँ: नाभि में तेल डालने से प्रजनन क्षमता को बेहतर करने में मदद मिलती है साथ ही इसके कारण आपकी बॉडी में हार्मोनल बैलेंस को बनाएं रखने में भी मदद मिलती है।

सूजन से राहत दिलाएँ: यदि आपके शरीर के किसी भी अंग में सूजन की समस्या है तो आप नाभि में तेल डालकर इस समस्या से निजात पा सकते है।

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें  

Leave a Reply

Your email address will not be published.