डार्क चॉक्लेट खाने के फायदे और नुकसान | Daily Health Tip | 25 April 2020 | AAYU App

dark choclates

चॉक्लेट को सही मात्रा में खाने के कई फायदे है। चॉक्लेट ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है। डार्क चॉक्लेट वजन कम करने में भी मददगार है।

Eating chocolate in the right amount has many benefits. It helps in controlling blood pressure. Dark chocolate is also helpful in reducing weight.

Health Tips for Aayu App

‘डार्क चॉकलेट’ कोको बीन्स से बनती है। मिल्क चॉकलेट की तुलना में डार्क चॉकलेट में 50 से 90 प्रतिशत कोको सॉलिड, कोको बटर और चीनी मौजूद होती है। इसमें आयरन, कॉपर, फ्लैवनॉल्स, जिंक व फास्फोरस जैसे पोषक तत्व पाए जाते है, जो स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होते है।

डार्क चॉक्लेट के फायदे:

ह्रदय के लिए फायदेमंद: डार्क चॉक्लेट न सिर्फ आपके टेस्ट बड को संतुष्ट करता है, बल्कि आपके ह्रदय को भी स्वस्थ रखने में मदद करता है। डार्क चॉकलेट में फ्लैवनॉल (flavanol) नामक तत्व मौजूद होता है, जो ह्रदय को स्वस्थ रखने में काफी मददगार साबित होता है। यह फ्लैवनॉल एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करके दिल की बीमारी से बचाव करने का काम करता है।

डिप्रेशन में मददगार: अगर आपको चिड़चिड़ाहट या किसी प्रकार की चिंता है, तो खुद को शांत करने के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन कर सकते है। डार्क चॉकलेट में मौजूद पॉलीफेनॉल डिप्रेशन को कम करने में मददगार साबित हो सकते है।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करने में मददगार: डार्क चॉकलेट में मौजूद पॉलीफेनोल शरीर में एचडीएल (HDL) यानि अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते है और एलडीएल (LDL) यानि हानिकारक कोलेस्ट्रॉल को कम करते है।

एंटीऑक्सीडेंट गुण: शरीर को बीमारियों से बचाने और स्वस्थ रखने के लिए एंटीऑक्सीडेंट बहुत जरूरी होते है। आपको बता दें कि कोको को उन खाद्य पदार्थों की श्रेणी में रखा गया है, जिनमें ज्यादा मात्रा में फेनोलिक एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है। फल और सब्जियों में भी एंटीऑक्सिडेंट्स पाएं जाते है।

सर्दी-जुकाम में फायदेमंद: बदलते मौसम के साथ हल्की-फुल्की बीमारियां लगी रहती है, सर्दी-जुकाम भी उन्हीं में से एक है। इसलिए इससे बचने के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन करें। डार्क चॉकलेट में थियोब्रोमाइन (Theobromine) नामक रासायनिक पदार्थ होता है, जो सर्दी-जुकाम या अन्य श्वास तंत्र से संबंधित संक्रमण से बचा सकता है।

एनर्जी बढ़ाने में मददगार: शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है। डार्क चॉकलेट में कैफीन मौजूद होता है, जो आपकी एनर्जी बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है। हालांकि, गर्भवती महिलाएं या स्तनपान कराने वाली महिलाएं डार्क चॉकलेट के सेवन से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

दिमाग के लिए फायदेमंद: डार्क चॉकलेट दिमाग को स्वस्थ रखने में मददगार साबित हो सकता है। डार्क चॉकलेट में मौजूद फ्लैवनॉल जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते है, ये दिमाग को स्वस्थ रखने में मदद करते है।

डायबिटीज में फायदेमंद: डार्क चॉक्लेट में मौजूद कोको और फ्लैवनॉल टाइप 2 डायबिटीज के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है। हालांकि, डार्क चॉकलेट में शुगर की मात्रा देखने के बाद ही उसका सेवन करें।

डार्क चॉक्लेट के नुकसान:

हर चीज़ के फायदे और नुकसान दोनों होते है। डार्क चॉक्लेट के फायदे के साथ साथ नुकसान भी होते है।

  • अनिंद्रा
  • सिरदर्द या माइग्रेन
  • सिर चकराना
  • डीहाइड्रेशन
  • चिंता
  • असहज महसूस होना
  • वजन बढ़ना
  • ह्रदय की गति तेज होना

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाऊनलोड करें । क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.