क्यों होता है अपच? जानें कारण, लक्षण और उपाय

शेयर करें

अपच एक गंभीर पेट से संबंधित समस्या है. मौजूदा समय की फास्ट जीवन शैली में लोग समय की बचत करने के लिए जंक फूड और फास्ट फूड का सेवन करते है. जिसका सीधा असर उनके हाजमे पर पड़ता है. सही ढंग से हाजमा नहीं होने के कारण अपच होता है. इस स्थिति में पेट में जलन, दर्द, गैस बनना, एसीडिटी आदि परेशानियां दस्तक देती हैं. इस वजह से हमारी पूरी दिनचर्या अस्त-व्यस्त हो जाती है. किसी भी काम में हमारा मन नहीं लगता. आइए जानते है अपच के लक्षण और उपाए के बारे में …

अपच के कारण

  • जरूरत से ज्यादा खा लेना.
  • मसालेदार और तैलीय भोजन करना.
  • भोजन के तुरंत बाद लेट जाना.
  • धूम्रपान करना.
  • शराब का सेवन.
  • एस्पिरिन और इबुप्रोफेन जैसी कुछ दवाएं.
  • एसिड रिफलक्स, गैस्ट्रिक कैंसर, अग्नाशय में असमानता या पेप्टिक अल्सर जैसी चिकित्सीय स्थितियां.
किसी भी स्वास्थ्य समस्या के लिए आज ही “Aayu” ऐप डाउनलोड करें

अपच के लक्षण

  • पेट फूलना
  • जी-मिचलाना
  • उल्टी
  • सीने में जलन
  • खाना खाते समय पेट भरा महसूस होना
  • पेट में जलन
  • डकार आना
  • उल्टी में खून आना
  • वजन घटना
  • निगलने में कठिनाई
  • काला मल आना

अपच के उपाए

एलोवेरा

सौंफ

दालचीनी

  • दालचीनी हर घर में आसानी से मिल जाती है. इससे पाचन क्रिया सुधरती है. दालचीनी का प्रयोग चाय बनाने में भी किया जाता है. दालचीनी की चाय बनाने के लिए एक कप गर्म पानी में आधा चम्मच दालचीनी पाउडर डालें तथा कुछ देर उबलने दें. उसके बाद आप इसका सेवन कर सकते हैं.

अदरक

  • अपच की अचूक औषधियों में से एक हैं अदरक. अदरक को कूचकर इसके रस का नियमित सेवन करने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है. अपच की समस्या होने पर अदरक के छोटे छोटे टुकड़े कर इसे चबाएं और इसका रस अंदर जाने दें. इससे आपको तुरंत राहत मिलेगा.

बेकिंग सोडा

  • अपच का इलाज करने के लिए बेकिंग सोडा काफी फायदेमंद हो सकता है. बेकिंग सोडा एक प्राकृतिक एंटासिड है, जो अपच और सीने की जलन का इलाज करने में मदद करता है. यह अपच को ठीक करने के लिए पेट के एसिड को बेअसर करता है.

अजवाइन

  • अजवाइन में एंटीस्पास्मोडिक और कार्मिनेटिव गुण होते हैं, जो बदहजमी के कारण पेट फूलने की समस्या को कम करने में मदद करते हैं.

शहद

  • शहद में कई तरह के गुण होते हैं, जो पाचन को दुरुस्त करने में मदद करते हैं. इसमें मौजूद मिनरल जैसे पोटैशियम पेट के एसिड को कम कर अपच की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है.

अपच में क्या खाएं

  • अपच की समस्या होने पर आप हरी सब्जियां जैसे बीन्स व ब्रोकली का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इनमें फैट और शुगर की मात्रा कम होती है, जिन्हें पचाने में आसानी होती है.
  • आप ओटमील का इस्तेमाल करें, क्योंकि इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर होता है, जो आपके पेट को ठीक रखने में मदद करता है.
  • अपच की समस्या होने पर आप केले का सेवन कर सकते हैं. केले में प्रीबायोटिक गुण होते हैं, जो इस समस्या से राहत दिलाने में मदद करते हैं.
  • बदहजमी दूर करने के लिए आप योगर्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके सेवन से पेट को ठंडक मिलती है.
  • आप खरबूजे या तरबूज का भी सेवन कर सकते हैं, क्योंकि इन्हें पचाना आसान होता है.
  • अपच के दौरान अंडे का सफेद भाग भी फायदा पहुंचा सकता है. इसमें एसिड कंटेंट की कमी होती है और प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है.

आयु है आपका सहायक

अगर आपके घर का कोई सदस्य लंबे समय से बीमार है या उसकी बीमारी घरेलू उपायों से कुछ समय के लिए ठीक हो जाती है, लेकिन पीछा नहीं छोड़ती है तो आपको तत्काल उसे डॉक्टर से दिखाना चाहिए. क्योंकि कई बार छोटी बीमारी भी विकराल रूप धारण कर लेती है. अभी घर बैठे स्पेशलिस्ट डॉक्टर से “Aayu” ऐप पर परामर्श लें . Aayu ऐप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई बटन पर क्लिक करें.

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.